News Nation Logo
Banner

SSC CHSL 2020 परीक्षा के लिए करें Online Registration, जानें परीक्षा का पैटर्न

SSC CHSL परीक्षा के लिए आपको सीबीटी (Computer Based Test) परीक्षा पहले पास करनी होती है. ये परीक्षा तीन चरणों में पास करनी होती है- Tier-I, Tier-II और Tier-III. सबसे पहले Tier-I परीक्षा पास करनी होती है.

| Edited By : Vikas Kumar | Updated on: 25 Jan 2020, 07:40:57 AM
SSC CHSL 2020

highlights

  • SSC CHSL परीक्षा में जो उम्मीदवार भाग लेना चाहते हैं वो कर्मचारी चयन आयोग की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर 10 जनवरी 2020 तक Registration कर सकते हैं. 
  • SSC CHSL की परीक्षा 16 से 27 मार्च 2020 के बीच में आयोजित किया जाएगा. 
  • आज हम आपको इस परीक्षा के बारे में जुड़ी सारी डिटेल देने जा रहे हैं, जैसे कि इस परीक्षा का पेपर पैटर्न क्या है, इस परीक्षा में कौन-कौन से सवाल पूछे जा सकते हैं. 

नई दिल्ली:  

SSC CHSL 2020 परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू हो चुका है. SSC CHSL परीक्षा में जो उम्मीदवार भाग लेना चाहते हैं वो कर्मचारी चयन आयोग की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर 10 जनवरी 2020 तक Online Registration कर सकते हैं. जबकि इसके लिए पेमेंट 12 जनवरी 2020 तक किया जा सकता है. SSC CHSL की परीक्षा 16 से 27 मार्च 2020 के बीच में आयोजित किया जाएगा. आज हम आपको इस परीक्षा के बारे में जुड़ी सारी डिटेल देने जा रहे हैं, जैसे कि इस परीक्षा का पेपर पैटर्न क्या है, इस परीक्षा में कौन-कौन से सवाल पूछे जा सकते हैं.
SSC CHSL Exam Pattern
SSC CHSL परीक्षा के लिए आपको सीबीटी (Computer Based Test) परीक्षा पहले पास करनी होती है. ये परीक्षा तीन चरणों में पास करनी होती है- Tier-I, Tier-II और Tier-III. सबसे पहले Tier-I परीक्षा पास करनी होती है. इसमें सफल अभ्यर्थी Tier-II और Tier-III परीक्षा में हिस्सा ले सकते हैं.

Tier-I Paper -इस परीक्षा को पास करने के लिए 60 मिनट का समय दिया जाता है.

यह भी पढ़ें: जामिया कांड को लेकर दिल्‍ली पुलिस की बड़ी कार्रवाई, एडिश्नल DCP का तबादला, 10 और अधिकारी बदले

1. सामान्य बुद्धि (GENERAL INTELLIGENCE) SSC SYLLABUS: 25 QUESTIONS, 50 MAXIMUM MARKS
इसके अंतर्गत verbal और non-verbal दोनों प्रकार के प्रश्नों को शामिल किया जाएगा। इसमें पूछे गए सवाल (questions) इनसे सम्बन्धित होंगे— सिमेंटिक सादृश्य (Semantic Analogy), प्रतीकात्मक संचालन, प्रतीकात्मक / सांख्यिक सादृश्य, रुझान, वेन आरेख, Figural सादृश्य, space उन्मुखता, सिमेंटिक वर्गीकरण, प्रतीकात्मक / सांख्यिक वर्गीकरण, ड्राइंग निष्कर्ष, Figural वर्गीकरण, छिद्रित छेद / पैटर्न मोड़ना और खोलना, सिमेंटिक शृंखला, Figural पैटर्न – मोड़ना और पूरा करना, संख्या शृंखला (Number Series), एंबेडेड आंकड़े, Figural शृंखला, आलोचनात्मक सोच, समस्या समाधान, भावनात्मक बोध (Emotional Intelligence), शब्द निर्माण, सामाजिक बोध, कोडिंग और डि-कोडिंग, अन्य उप विषय यदि हों तो, संख्यात्मक संचालन।

2. अंग्रेजी भाषा (ENGLISH LANGUAGE) SYLLABUS OF SSC: 25 QUESTIONS, 50 MAXIMUM MARKS
गलती ढूँढना, रिक्त स्थान भरना, पर्यायवाची/समानार्थक, विलोमार्थक, वर्तनी / वर्तनी में गलती निकालना, मुहावरे और वाक्यांश, शब्द प्रतिस्थापन, वाक्य में सुधार, क्रियाओं के कर्म और कर्तृ वाच्य, प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष कथन को आपस में बदलना, वाक्य के अंशों को आगे-पीछे करना, किसी अनुच्छेद में वाक्यों की फेरबदल, Cloze पैसेज, अनुच्छेद का कॉम्प्रिहेंशन।

3. संख्यात्मक ज्ञान (QUANTITATIVE APTITUDE) SYLLABUS: 25 QUESTIONS, 50 MAXIMUM MARKS
गणित (Arithmetic)
नंबर सिस्टम (Number System): पूर्णांक, दशमलव और भिन्न संख्याओं की संगणना, संख्याओं के बीच रिश्ता, आधारभूत अंकगणितीय ऑपरेशन: प्रतिशत, अनुपात और proportion, वर्ग मूल, औसत, ब्याज (सरल और मिश्रित), लाभ और हानि, डिस्काउंट, साझेदारी व्यवसाय, मिश्रण और मिलान, समय और दूरी, समय और कार्य (Percentages, Ratio and Proportion, Square roots, Averages, Interest (Simple and Compound), Profit and Loss, Discount, Partnership Business, Mixture and Alligation, Time and distance, Time and work)
बीजगणित (Algebra): स्कूल बीजगणित और प्राथमिक surds (केवल सरल समस्याएँ) तथा रैखिक सूत्रों के ग्राफ।
रेखागणित (Geometry): प्राथमिक ज्यामितीय आँकड़ों और तथ्यों का परिचय: त्रिभुज और इसके विविध केन्द्र, त्रिकोणों की अनुरूपता और समानता, वृत्त और उसके chords, तिर्यक् रेखा, दो या दो से अधिक वृत्तों के chords से संलग्न कोण.

यह भी पढ़ें: VIDEO : साक्षी धोनी से देखकर भी नहीं पढ़ा गया डायलॉग, एमएस धोनी बोले तुमसे...

4. सामान्य ज्ञान SSC (GENERAL AWARENESS) SYLLABUS: 25 QUESTIONS, 50 MAXIMUM MARKS
उम्मीदवारों के आस-पास के वातावरण के प्रति उनके सामान्य ज्ञान तथा समाज में इसके प्रयोग की परीक्षा लेने के उद्देश्य से प्रश्नों (questions) को निर्धारित किया जाता है. साथ ही ऐसे भी प्रश्न दिए जाते हैं जिनसे कि उन समकालीन घटनाओं और रोजमर्रा दिखाई पड़ने वाले एवं अनुभव किये जाने वाले विषयों के वैज्ञानिक पहलुओं के बारे में उम्मीदवार की जानकारी की जाँच हो सके, जो एक पढ़े-लिखे व्यक्ति को पता होना चाहिए.
परीक्षा में भारत और इसके पडोसी देशों से सम्बंधित प्रश्न पूछे जायेंगे, विशेषकर उनके इतिहास, संस्कृति, भूगोल, आर्थिक परिदृश्य, सामान्य नीति और वैज्ञानिक अनुसंधान (History, Culture, Geography, Economic Scene, General policy and scientific research) के संबंध में.

Tier-II Paper
जबकि Tier-II परीक्षा में 100 नंबर का डिस्क्रिप्टिव टेस्ट पास करना होता है जो कि पेन और पेपर बेस होता है. इस परीक्षा के लिए भी 1 घंटे का समय दिया जाता है. इस पेपर में परीक्षार्थी को 200-250 शब्दों का एक लेख एवं 150-200 शब्दों का पत्र अथवा आवेदन लिखने को कहा जाएगा. टियर 2 के लिए निर्धारित न्यूनतम क्वालीफाइंग मार्क्स 33% है. Tier 2 में लाये गए नंबर मेरिट तैयार करने के समय जोड़े जायेंगे.

यह भी पढ़ें: हर आदमी तक इंटरनेट की पहुंच बनाने के लिए मोदी सरकार ने लिया बड़ा फैसला

Tier-III Paper
पहले की तरह इस परीक्षा का Tier 3 कौशल टाइपिंग जाँच से ही सम्बन्धित होगा. यह दोनों qualifying प्रकृति के होंगे. स्मरण रहे कि मेरिट में मात्र Tier 1 और Tier 2 के ही नंबर जोड़े जायेंगे.

Direct Link to visit SSC Official Website

First Published : 17 Dec 2019, 01:17:39 PM

For all the Latest Sarkari Naukri News, SSC Jobs News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.