News Nation Logo

Railway Jobs: करना चाहते हैं रेलवे में नौकरी? ऐसे पता करें भर्ती का विज्ञापन सही है या फर्जी

भारतीय रेलवे ने सोशल मीडिया के जरिए फर्जी विज्ञापनों से बचने और सावधान रहने की अपील की है.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 17 Dec 2020, 03:34:39 PM
Railway

करना चाहते हैं रेलवे में नौकरी? ऐसे पता करें विज्ञापन सही है या फर्जी (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

आज के वक्त में हर किसी को सरकारी नौकरी की चाहत होती है. अच्छी सैलरी और आराम की जिंदगी गुजारने के लिए हर कोई सरकारी नौकरी के सपने देखता है. डिफेंस के अलावा सिविल सर्विस या बैंक जॉब की तरह रेलवे में नौकरी के प्रति भी युवाओं में बहुत क्रेज रहता है. मगर सरकारी नौकरी की चाह रखने वाले युवा अक्सर फर्जी विज्ञापनों और आश्वासनों के जाल में फंस जाते हैं. ऐसे मामले लगातार सामने आते रहते हैं. रेलवे में भी नौकरी देने के नाम पर अक्सर लोगों के साथ धोखाधड़ी की बातें सामने आती है.

यह भी पढ़ें: UPPSC: उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग में 328 पदों पर निकली भर्तियां, पढ़ें यहां पूरी डिटेल 

हालांकि भारतीय रेलवे ने सोशल मीडिया के जरिए ऐसे फर्जी विज्ञापनों से बचने और सावधान रहने की अपील की है. रेलवे ने कहा है कि भारतीय रेल में नौकरी देने के नाम पर धोखाधड़ी करने वालों से बचें, इस प्रकार कोई आपको लुभावने ऑफर देता है तो आप उसकी 182 पर शिकायत करें और सही जानकारी के लिए आरआरबी (RRB) की वेबसाइट पर जाएं. नौकरी के नाम पर धोखाधड़ी की लगातार मिल रही शिकायतों पर संज्ञान देते हुए रेलवे ने जनहित में एक विज्ञप्ति भी जारी की है.

भारतीय रेलवे के अनुसार, कई शिकायतें मिल रही हैं, जिसमें नौकरी के इच्छुक उम्मीदवारों और आम जनता को भारतीय रेल में नौकरी दिलवाने के झूठे वादे, प्रभाव, धन और अनुचित साधनों के साथ या फर्जी नियुक्ति पत्रों के साथ धोखा दिया गया है. ज्यादातर मामलों में धोखेबाजों ने रेलवे बोर्ड, रेलवे भर्ती एजेंसीज और जोनल रेलवे कार्यालयों में परिचितों का दावा करके पीड़ितों को धोखा दिया है.

इसके अलावा साइबर अपराधियों द्वारा फर्जी वेबसाइटें भी बनाई जा रही हैं, ताकि इच्छुक उम्मीदवारों को उनके आवेदन शुल्क का धोखा दिया जा सके. पुलिस जांच में ऐसे मामले भी सामने आए हैं. जहां पीड़ितों को रेलवे कार्यालयों या रेलवे अस्पतालों में भी ले जाया गया. ऐसी शिकायतों को लेकर भारतीय रेलवे की ओर से उम्मीदवारों से सतर्क और सावधान रहने की सलाह दी है. इसके साथ ही रेलवे ने कुछ गाइडलाइंस के बारे में भी बताया है. 

यह भी पढ़ें: RPSC: राजस्थान लोक सेवा आयोग में इन पदों पर निकली भर्तियां, पढ़ें यहां पूरी डिटेल

इन बातों का रखें ध्यान

  • रेलवे भर्ती एजेंसीज में भर्ती प्रक्रिया पूरी तरह से कम्प्यूटरीकृत है और चयन पूरी तरह से उम्मीदवारों की योग्यता के आधार पर किया जाता है.
  • रेलवे भर्ती एजेंसीज कभी भी किसी एजेंट या चालू कोचिंग सेंटर को नियुक्त नहीं करती हैं.
  • केवल आरआरबी, आरआरसी की आधिकारिक वेबसाइटों और राष्ट्रीय समाचार पत्रों में, रोजगार समाचार पत्रों में प्रकाशित विज्ञापन ही प्रामाणिक हैं और उन पर ही भरोसा किया जाना चाहिए.
  • उम्मीदवारों को वेबसाइटों की स्पेलिंग की सूक्ष्मता से जांच करने की सलाह दी जाती है, क्योंकि धोखेबाज, उम्मीदवारों को धोखा देने के लिए समान प्रकार के वेब पेज या वेबसाइट का इस्तेमाल करते हैं.

फर्जी विज्ञापन की पहचान कैसे करें ?

रेलवे ने बताया है कि फर्जी विज्ञापन से बचने के लिए कुछ सावधानियां बरतनी चाहिए है. जिनमें उम्मीदवारों को रेलवे भर्ती एजेंसीज की आधिकारिक वेबसाइट का अवलोकन करना चाहिए. इसके अलावा प्रतिष्ठित दैनिक समाचार पत्रों और रोजगार समाचार पत्र में विज्ञापन देखें. साथ ही सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर वायरल संदेशों या भ्रामक विज्ञापनों की पड़ताल रेलवे की आधिकारिक वेबसाइटों की मदद से जरूर कर लें.

यह भी पढ़ें: Sarkari Naukri: प्री प्राइमरी टीचर के 8393 पदों पर निकली भर्तियां, इस तारीख से करें आवेदन

कहां और कैसे करें शिकायत?

भारतीय रेलवे में नौकरी दिलाने में आपकी मदद करने का दावा करने वाले या पैसे के एवज में नौकरी देने का दावा करने वाले या रेलवे में नौकरी दिलाने के लिए आपसे मोबाइल, फोन या ईमेल के जरिए संपर्क करता है तो इसकी शिकायत करें. इस तरह की शिकायत नंबर- 182 पर करें. इसके अलावा आप नजदीकी पुलिस स्टेशन में शिकायत भी दर्ज करा सकते हैं.

First Published : 17 Dec 2020, 03:25:12 PM

For all the Latest Sarkari Naukri News, Railway Jobs News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.