News Nation Logo

Vishwakarma Puja 2021:बरकत के लिए की जाती है विश्वकर्मा पूजा, जानें शुभ मुहूर्त और मंत्र

Vishwakarma Puja 2021:बरकत के लिए की जाती है विश्वकर्मा पूजा, जानें शुभ मुहूर्त और मंत्र

News Nation Bureau | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 15 Sep 2021, 07:19:21 AM
vishwakarma

Vishwakarma Puja 2021: (Photo Credit: File Photo )

नई दिल्ली :

Vishwakarma Puja 2021: भगवान विश्वकर्मा की जयंती हर साल मनाई जाती है. हर साल 17 सितंबर को विश्वकर्मा पूजा (Vishwakarma Puja)  मनाई जाती है. कन्या संक्रांति के दिन विश्वकर्मा जयंती होती है. पौराणिक काल के सबसे बड़ी सिविल इंजीनियर माने जाते थे विश्वकर्मा. इसलिए आज जब भी इनकी पूजा होती है तो घर में रखे तमाम इलेक्ट्रॉनिक सामान, औजार की पूजा की जाती है. कहा जाता है जितने भी इलेक्ट्रॉनिक सामान है उन सब में विश्वकर्मा विद्वमान हैं. इनकी पूजा करने से इलेक्ट्रॉनिक सामान और औजार पूरे साल अच्छा चलता है.

विश्‍वकर्मा जयंती के साथ ही पद्म एकादशी भी पड़ रही है. भगवान विश्‍वकर्मा को दुनिया का सबसे पहला इंजीनियर और वास्‍तुकार माना जाता है. माना जाता है कि भगवान विश्वकर्मा ने ही हर युग में शहरों की रचना की. भगवान विश्‍वकर्मा ने ही इंद्रपुरी, द्वारिका, हस्तिनापुर, स्‍वर्गलोक, लंका और जगन्‍नाथपुरी का निर्माण करवाया था.

भगवान शिव का त्रिशूल और विष्णु का सुदर्शन चक्र बनाया 

पौराणिक मान्यता के अनुसार विश्वकर्मा भगवान ने ही भगवान शिव का त्रिशूल और विष्‍णु भगवान का सुदर्शन चक्र तैयार किया था.

इसी लिए सभी इंजीनियर और तकनीकी क्षेत्र से जुडे़ लोग विश्वकर्मा को भगवान मानते हैं और इनकी पूजा करते हैं.कलयुग का संबंध कलपुर्जों से माना जाता है और आज के युग में कलपुर्जे का प्रयोग हर शख्‍स कर रहा है. इसलिए भगवान विश्‍वकर्मा की पूजा करना हम सबके लिए बेहद लाभदायी माना जाता है.

पूजा के लिए शुभ मुहूर्त 

17 सितंबर, शुक्रवार को सुबह 6:07 बजे से 18 सितंबर, शनिवार को 3:36 बजे तक पूजन कर सकते हैं. केवल राहुकल के समय पूजा निषिद्ध मानी गई है. 

17 सितंबर को राहुकाल सुबह 10:30 बजे से दोपहर 12 बजे तक रहेगा. बाकी समय पूजा का योग रहेगा.

विश्वकर्मा पूजा मंत्र

ओम आधार शक्तपे नम:, ओम कूमयि नम:, ओम अनन्तम नम:, पृथिव्यै नम:।


कुछ बातों का खास ख्याल रखे

1. विश्वकर्मा पूजा करने वाले सभी लोगों को इस दिन अपने कारखाने, फैक्ट्री बंद रखनी चाहिए.
2. विश्वकर्मा पूजा के दिन अपनी मशीनों, उपकरणों और औजारों की पूजा करने से घर में बरकत होती है.
3. विश्वकर्मा पूजा के दिन औजारों और मशानों का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए.
4. विश्वकर्मा पूजा के दिन तामसिक भोजन (मांस-मदिरा) का सेवन नहीं करना चाहिए.
5. अपने रोजगार में वृद्धि के लिए गरीबों और असहाय लोगों को दान-दक्षिणा जरूर दें.
6. अपने बिजली उपकरणों और गाड़ी की सफाई भी करें.

First Published : 15 Sep 2021, 07:15:44 AM

For all the Latest Religion News, Dharm News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.