News Nation Logo

Saphala Ekadashi 2021: इस नियम और विधि से करें सफला एकादशी का व्रत, पूरी होगी मनोकामनाएं

9 जनवरी, शनिवार के दिन सफला एकादशी का व्रत पड़ रहा है. हर साल पौष मास में कृष्ण पक्ष की एकादशी को सफला एकादशी मनाई जाती है. हिंदू धर्म में एकादशी का खास महत्व होता है.

News Nation Bureau | Edited By : Vineeta Mandal | Updated on: 07 Jan 2021, 12:37:34 PM
lord vishnu goddess laxmi

Saphala Ekadashi 2021 (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

9 जनवरी, शनिवार के दिन सफला एकादशी का व्रत पड़ रहा है. हर साल पौष मास में कृष्ण पक्ष की एकादशी को सफला एकादशी मनाई जाती है. हिंदू धर्म में एकादशी का खास महत्व होता है. वहीं धार्मिक मान्यताओं के मुताबिक, सफला एकादशी के दिन पालनकर्ता भगवान विष्णु की विधिवत् पूजा करने से सभी कष्टों से मुक्ति मिलती है और मनोकामनाओं की पूर्ति होती है.  शास्त्रों के अनुसार, सफला एकादशी का व्रत करने से मोक्ष की प्राप्ति होती है. 

और पढ़ें: बुधवार के दिन करें भगवान गणेश की पूजा और आरती, दूर होंगे सभी कष्ट

सफला एकादशी का शुभ मुहूर्त-

  • एकादशी तिथि आरंभ- जनवरी 08, 2021 को रात 9:40 बजे
  • एकादशी तिथि समाप्त - जनवरी 09, 2021 को शाम 7:17 बजे तक

सफला एकादशी के दिन करें ये चीजें

सफला एकादशी के मौके पर सुबह उठकर स्नान कर के साफ सुथरा कपड़ा पहन लें. इसके बाद व्रत का संकल्प लेते हुए भगवान विष्णु और मां लक्ष्मी की पूजा विधि-विधान से करें. अगर संभव हो तो एकादशी के दिन किसी पवित्र नदी या गंगा में स्नान करें. वहीं एकादशी पर गरीबों को दान करें, इससे प्रसन्न होकर भगवना हरि व्रतियों की सभी मनोकामनाओं की पूर्ति करते हैं.

एकादशी के दिन भूल से न करें ये काम

1. एकादशी में चावल खाने की मनाही है तो भूलकर भी इसका सेवन न करें वरना आपका व्रत खंडित हो सकता है.

2. एकादशी के दिन मांस-मछली और शराब जैसी चीजों से भी दूरी बनाई रखनी चाहिए.

3. इस दिन किसी को अपशब्द नहीं बोलना चाहिए. साथ ही लड़ाई-झगड़ा करने से भी बचना चाहिए.

4. एकादशी व्रत के दिन शारीरिक संबध बनाने से भी बचना चाहिए.

5. झूठ बोलने या क्रोध नहीं करना चाहिए वरना एकादशी का पूर्ण फल नहीं प्राप्त होता है. 

First Published : 07 Jan 2021, 11:55:38 AM

For all the Latest Religion News, Dharm News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.