News Nation Logo
विपक्षी सांसदों की नारेबाजी के बीच राज्यसभा आज दोपहर 12 बजे तक के लिए स्थगित हुई भारत ने न्यूजीलैंड को 372 रन से हराकर टेस्ट मैच श्रृंखला 1-0 से जीती टीम इंडिया ने घर में लगातार 14वीं टेस्ट सीरीज जीती न्यूजीलैंड पर 372 रनों से जीत रनों के लिहाज से भारत की टेस्ट मैचों में सबसे बड़ी जीत है उत्तराखंड के चमोली में देवल ब्लॉक के ब्रह्मताल ट्रेक मार्ग पर बर्फबारी हुई रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने भारत के विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर के साथ नई दिल्ली में बैठक की बाबा साहब आंबेडकर का महापरिनिर्वाण दिवस आज. बसपा कर रही बड़ा कार्यक्रम नीट काउंसिलिंग में हो रही देरी के खिलाफ रेजिडेंट डॉक्टर्स आज ठप रखेंगे सेवा रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन आज आ रहे भारत. कई समझौतों को देंगे अंतिम रूप पंजाब के पूर्व सीएम अमरिंदर सिंह आज करेंगे अमित शाह-जेपी नड्डा से मुलाकात.

Pradosh vrat 2020: प्रदोष व्रत आज, जानिए क्या है महत्व और कैसे करें पूजा

यह व्रत हर महीने की त्रयोदशी तिथि को रखा जाता है. व्रती को ब्रह्म मुहूर्त में उठकर स्नान करना चाहिए. इसके बाद भगवान शिव का ध्यान करें.

News Nation Bureau | Edited By : Aditi Sharma | Updated on: 18 Jun 2020, 12:34:51 PM
lord shiv

Pradosh vrat 2020 (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

हिंदू धर्म में प्रदोष व्रत का खास महत्व है. इस महीने ये व्रत आज यानी 18 जून को किया जाएगा. प्रदोष व्रत भी भगवान शिव को समर्पित होते हैं. ऐसे में मान्यता है कि आज के दिन जो भी भगवान शिव की सच्चे दिल से आराधना करेगा, उसे भगवान शिव की कृपा प्राप्त होगी. हिंदू धर्मग्रंथों के अनुसार, इस व्रत को रखने से लंबे समय के कर्ज से मुक्ति भी मिलती है.

यह व्रत हर महीने की त्रयोदशी तिथि को रखा जाता है. व्रती को ब्रह्म मुहूर्त में उठकर स्नान करना चाहिए. इसके बाद भगवान शिव का ध्यान करें. वैसे तो महादेव को ही मुख्य देवता माना जाता है, लेकिन उनके साथ उनकी पत्नी देवी पार्वती की भी पूजा होती है.

कैसे करें पूजा

भगवान शिव का ध्यान करने के बाद बेल पत्र, चावल, फूल पान-सुपारी चढ़ाकर दीप दिखाएं. दिन भर शिव मंत्र का जाप करें. आप 'ओम नम: शिवाय' या 'ऊं त्र्यम्बकं यजामहे सुगंधिम पुष्टि वर्धनम' मंत्र का जाप कर सकते हैं.

हनुमान चालीसा का करें पाठ

दिनभर व्रत रखने के बाद शाम को शिव की पूजा करें. हनुमान चालीसा का पाठ करना भी लाभदायी होता है. इस व्रत को करने से मंगल ग्रह भी शांत होता है. वहीं हर तरह का दोष मिट जाता है.

प्रदोष व्रत करते समय इन बातों का रखें विशेष ध्यान

1. प्रातकाल: (सुबह के समय) उठकर गुलाबी या हल्के लाल रंग के कपड़े पहनें.

2. चांदी या तांबे के बर्तन से शुद्ध शहद भगवान शिव के शिवलिंग पर अर्पित करें.

3. इसके बाद शिवलिंग पर जल चढ़ाएं.

4. 108 बार सर्वसिद्धि प्रदाये नमः मंत्र का जाप करें.

प्रदोष व्रत करने से मिलेगा ये लाभ

- जमीन जायदाद की समस्या से जल्द छुटकारा मिल सकता है.

- इस व्रत को करने से मनचाहा वर-वधू की प्राप्ति हो सकती है.

- धन की कमी से मुक्ति मिल सकती है.

- इस व्रत को करने से हर तरह के रोग दूर हो जाते हैं.

- प्रदोष व्रत करने से भगवान शिव की पूर्ण कृपा प्राप्त की जा सकती है.

- प्रदोष करने से वैवाहिक जीवन में आ रही सारी दिक्कतें दूर हो जाती है

First Published : 18 Jun 2020, 12:34:32 PM

For all the Latest Religion News, Dharm News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.