News Nation Logo
3 लोकसभा और 7 विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव के नतीजे आज PM मोदी आज 'मन की बात' कार्यक्रम को करेंगे संबोधित भारतीय टीम के कप्तान रोहित शर्मा कोरोना संक्रमित दिल्ली: बादली इलाके के प्लास्टिक गोदाम में लगी आग, मौके पर फायर ब्रिगेड फायर उत्तर प्रदेश: आजमगढ़ लोकसभा उपचुनाव के लिए मतगणना जारी पाकिस्तान के जेल में मारे गए सरबजीत सिंह की बहन का हार्ट अटैक से निधन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जर्मन प्रेसीडेंसी के तहत G7 शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए जर्मनी पहुंचे एकनाथ शिंदे ने 12 बजे गुवाहाटी के होटल में विधायकों की बैठक बुलाई है भारत में आज 11,739 नए Covid19 मामले सामने आए, सक्रिय मामले 92,576 हैं विपक्षी पार्टी के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा कल दाखिल करेंगे अपना नामांकन केंद्र सरकार ने शिवसेना के 15 बागी विधायकों को 'Y+' श्रेणी के सशस्त्र केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF दिल्ली: राजेंद्र नगर विधानसभा सीट पर जीते AAP के दुर्गेश पाठक रामपुर में बीजेपी ने लहराया विजय पताका, 42 हजार से ज्यादा वोटों से जीत दर्ज की

Planets Effects On Your Child Health and Career: इन ग्रहों की शक्ति से आपकी संतान का होता है भाग्योदय, जीवन भर छू भी नहीं पाती बीमारियां

शास्त्रों में कुछ ग्रहों के बारे में बताया गया है जो विशेष रूप से हेल्थ और करियर को मजबूत बनाने का काम करते हैं. ऐसे में इन ग्रहों का आपके बच्चों की सेहत और शिक्षा पर गहरा प्रभाव पड़ता है.

News Nation Bureau | Edited By : Gaveshna Sharma | Updated on: 08 Apr 2022, 11:13:50 AM
इन ग्रहों की शक्ति से आपकी संतान को छू भी नहीं पाती बीमारियां

इन ग्रहों की शक्ति से आपकी संतान को छू भी नहीं पाती बीमारियां (Photo Credit: Social Media)

नई दिल्ली :  

Planets Effects On Your Child Health and Career: ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, ग्रहों का सिर्फ बड़ों पर ही नहीं बल्कि बच्चों पर भी गहरा असर पड़ता है. शास्त्रों में कुछ ग्रहों के बारे में बताया गया है जो विशेष रूप से हेल्थ और करियर को मजबूत बनाने का काम करते हैं. ऐसे में इन ग्रहों का आपके बच्चों की सेहत और शिक्षा पर गहरा प्रभाव पड़ता है. हर माता-पिता की अभिलाषा होती है कि उनकी संतान योग्य और निरोग रहे है. कई बार ग्रहों की अशुभता इस रास्ते में अड़चन पैदा करती है, जिस कारण शिक्षा पर तो असर पड़ता ही है, साथ ही साथ सेहत भी प्रभावित होती है. इसलिए किसी भी सूरत में इन ग्रहों को कमजोर नहीं होने देना चाहिए.

यह भी पढ़ें: Maa Kalratri wrath on Shani Dev, Relief in Sadhe Sati and Dhahiya: मां कालरात्रि के प्रकोप से थर थर कांपते हैं शनिदेव, ढैय्या और साढ़े साती की पीड़ा हो जाती है नष्ट

ग्रह कमजोर होने पर देते हैं बाधा और परेशानी
ज्योतिष शास्त्र के अनुसार जब जन्म कुंडली में बैठे ग्रह अशुभ फल देने लगते हैं तो संतान की शिक्षा प्रभावित होती है. कभी ग्रहों की स्थिति और दशाओं के कारण शिक्षा बाधित होती है या फिर रूकने के भी योग बन जाते हैं. इसलिए कुंडली में बैठे ग्रहों की स्थिति का भी एक बार आंकलन करना अत्यंत आवश्यक हो जाता है. 

कुंडली का पंचम भाव, देता है शिक्षा की जानकारी (kundali 5th house)
ज्योतिष शास्त्र में जन्म कुंडली का पंचम भाव शिक्षा से जुड़ा हुआ है. जब इस भाव पर पाप ग्रह की दृष्टि पड़ती है तो शिक्षा में दिक्कतें आती हैं. राहु और केतु को पाप ग्रह माना गया है. इसके साथ ही शनि और मंगल जब अशुभ हो जाते हैं तो भी व्यक्ति को शिक्षा में दिक्कतों का सामना करना पड़ता है. इसलिए इन ग्रहों को शुभ बनाने के लिए प्रयास करने चाहिए. कभी कभी शुभ ग्रह क्रूर और पाप ग्रहों की दृष्टि और दशाओं के दौरान परेशानी देने का कार्य करते हैं. 

कुंडली का छठा भाव बताता है रोग (kundali 6th house)
ज्योतिष शास्त्र के अनुसार कुंडली का छठा भाव रोग का माना गया है. इस भाव में जब पाप ग्रह, क्रूर जब विराजमान हो जाते हैं और शत्रु राशि से पीड़ित होते हैं तो अशुभ फल प्रदान करते हैं. इस् स्थिति में सेहत को हानि होती है. जिस कारण बच्चे की प्रगति पर विपरीत असर पड़ता है.

यह भी पढ़ें: Ram Namavi 2022, Ramcharitmanas Special Chaupai: सम्पूर्ण रामचरितमानस के पाठ के बराबर हैं ये चंद चौपाइयां, दिव्य रहस्य और चमत्कारिक वरदान से है भरपूर

इन दो ग्रहों को बनाएं शुभ (Jupiter-Mercury)
ज्योतिष के अनुसार शिक्षा के मामले में देव गुरु बृहस्पति की भूमिका को अहम माना गया है. गुरू का संबंध ज्ञान से है. जब गुरु शुभ होते हैं तो व्यक्ति को शिक्षा के क्षेत्र में विशेष सफलता दिलाते हैं. इसलिए गुरु को शुभ रखना बहुत जरूरी माना गया है. गुरु के कारण ही व्यक्ति को उच्च पद और मान सम्मान प्राप्त होता है. वहीं बुध का संबंध भी बुद्धि से ही है. बुध ग्रह स्मरण शक्ति में भी वृद्धि करते हैं. बुध शुभ होने पर व्यक्ति की शिक्षा बाधा रहित होती है.

उपाय (Remedies)
भगवान विष्णु की पूजा करने से गुरु ग्रह की अशुभता दूर होती है. एकादशी का व्रत भगवान विष्णु समर्पित है. शिक्षा में यदि लगातार बाधा बनी हुई तो एकादशी व्रत विधि पूर्वक करने से लाभ मिलता है. संतान के लिए माता पिता भी इस व्रत को कर सकते हैं. गणेश जी की पूजा करने से बुध की अशुभता दूर होती है. बुधवार को गणेश जी की पूजा करने से लाभ मिलता है.

First Published : 08 Apr 2022, 11:13:50 AM

For all the Latest Religion News, Dharm News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.