News Nation Logo

Pitru Paksha 2022 Sarv Pitru Amavasya: सर्व पितृ अमावस्या पर किया जाएगा आखिरी श्राद्ध, इन चीजों का दान जगा देगा आपका सोया भाग्य

News Nation Bureau | Edited By : Gaveshna Sharma | Updated on: 21 Sep 2022, 04:44:55 PM
Pitru Paksha 2022 Sarv Pitru Amavasya

सर्व पितृ अमावस्या पर इन चीजों का दान जगाएगा आपका सोया भाग्य (Photo Credit: News Nation)

नई दिल्ली :  

Pitru Paksha 2022 Sarv Pitru Amavasya: इस साल पितृ पक्ष की शुरुआत 10 सितंबर से हुई थी और 25 सितंबर, दिन रविवार को सर्व पितृ अमावस्या के दिन इसका समापन होगा. अश्विन माह की अमावस्या को सर्व पितृ अमावस्या और महालया अमावस्या के नाम से भी जाना जाता है. जहां एक ओर पितरों के निमित्त इस दिन श्राद्ध कर्म, तर्पण और पिंडदान आदि करने से उनकी आत्मा को शांति मिलती है. तो वहीं, दूसरी तरफ इस दिन किया गया दान व्यक्ति का सोया हुआ भाग्य भी जगा सकता है. ऐसे में चलिए जानते हैं कि वो कौन सी चीजें हैं जिन्हें इस दिन दान में देना अत्यंत पुण्यकारी माना जाता है.  

यह भी पढ़ें: इन 5 चमत्कारी चीजों से रूठे पितरों का मिलेगा आशीर्वाद, जानें...

गुड़ का दान
इन दिनों में गुड़ के दान का भी विशेष महत्व है. गुड़ का दान करने से पितरों को विशेष संतुष्टि मिलती है. ऐसा भी माना जाता है कि गुड़ का दान से व्यक्ति के गृह कलेश दूर होते हैं और पितरों को शांति मिलती है. 

नमक का दान
कहा जाता है कि जिसका नमक खाते हैं व्यक्ति उसके प्रति ऋणी हो जाता है. इसलिए कहा जाता है कि नमक का कर्ज व्यक्ति को कभी नहीं भूलना चाहिए. नमक के दान के बिना कभी कोई दान पूरा नहीं होता.

अन्न का दान
पितृ पक्ष में अन्न के दान को बहुत महत्व दिया गया है. ऐसा करने से पितरों तृप्त होते हैं. पितृ पक्ष या अमावस्या के दिन हमेशा गेंहू और चावल का दान करें. वहीं, अगर इस दान को किसी संकल्प के साथ करेंगे,तो व्यक्ति को मनोवांछित फल की प्राप्ति होती है. 

यह भी पढ़ें: Shardiya Navratri 2022 Ghatsthapna Niyam aur Tithiyan: बिना देरी के फौरन नोट कर लें नवरात्रि की प्रमुख तिथियां, साथ ही जानें घटस्थापना के नियम

गाय के घी का दान
धार्मिक ग्रंथों में लिखा है कि गाय के घी का दान भी शुभ होता है. गाय का पूजन करने से ही व्यक्ति की सभी बाधाएं खत्म हो जाती हैं. सर्व पितृ अमावस्या के दिन गाय के घी का दान शुभ फलदायी माना गया है. इसे दान करने से पितर खुश होते हैं और घर में सुख-समृद्धि का वास होता है. 

चांदी का दान
महालय अमवास्या के दिन पितरों की कृपा पाने के लिए किसी चांदी की चीजा का दान विशेष फलदायी पाया गया है. कहते हैं कि चांदी का संबंध चंद्र से होता है इसलिए इन दिनों में दूध और चावल के साथ चांदी के दान का भी विशेष महत्व बताया गया है. 

काले तिल
ज्योतिष शास्त्र के अनुसार श्राद्ध पक्ष में काले तिल का दान का विशेष महत्व बताया गया है. ऐसी मान्यता है कि अगर इन दिनों में किसी अन्य चीज का दान कर पाना संभव न हो तो इस दिन काले तिल का दान कर देना चाहिए. मान्यता है कि काला तिल व्यक्ति को संकट और विपदाओं से बचाता है. 

First Published : 21 Sep 2022, 04:44:55 PM

For all the Latest Religion News, Dharm News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.