News Nation Logo
Banner

Pitru Paksha 2022 Effect On Zodiac Signs: पितृ पक्ष के दौरान खाली हो सकती है इन राशियों की धन की तिजोरी, जकड़ सकती है जानलेवा बीमारियां

News Nation Bureau | Edited By : Gaveshna Sharma | Updated on: 11 Sep 2022, 04:40:10 PM
Pitru Paksha 2022 Effect On Zodiac Signs

पितृ पक्ष के दौरान खाली हो सकती है इन राशियों की धन की तिजोरी (Photo Credit: News Nation)

नई दिल्ली :  

Pitru Paksha 2022 Effect On Zodiac Signs: पितृ पक्ष में पितरों को याद करते हैं. पितृ पक्ष यानि श्राद्ध पक्ष में पूर्वज धरती पर आते हैं और आशीर्वाद देते हैं. इस दिन शास्त्रों में कुछ नियम और अनुशासन का ध्यान रखने के लिए भी कहा गया है. जहां एक ओर धार्मिक दृष्टि से पितृ तर्पण, पिंडदान और श्राद्ध कर्म को अत्यधिक महत्वपूर्ण माना गया है. वहीं, दूसरी तरफ ज्योतिष के अनुसार पितृ पक्ष का राशियों पर गहरा प्रभाव पड़ता है. इसी कड़ी में ज्योतिष आंकलन के मुताबिक, इस साल कुछ राशियों पर श्राद्ध पक्ष का दुष्प्रभाव देखने को मिल सकता है. जिसके तहत जॉब, बिजनेस, धन और सेहत के मामले में कुछ बड़ा लेकिन नकारात्मक घटित होने की आशंका है. ऐसे में इन राशियों को सतर्क रहने की बेहद जरूरत है. तो चलिए जानते हैं कौन सी हैं वो राशियां.  

यह भी पढ़ें: Pitru Paksha 2022 Dos: पितृपक्ष के दौरान जरूर करें ये काम, होगा धन लाभ और पितरों से मिलेगा अखंड वरदान

पितृ पक्ष 2022 राशियों पर दुष्प्रभाव (Pitru Paksha 2022 Negative Effect On Rashi) 
मेष राशि- आपकी राशि में पाप ग्रह राहु विराजमान है. पितृ पक्ष में राहु को विशेष महत्व दिया जाता है. क्योंकि राहु का संबंध कहीं न कहीं हमारे कर्तव्य और ऋण से है. इसलिए मेष राशि वालों को धन संबंधी कामों में सावधानी बरतनी चाहिए. पितरों को याद करते हुए उनसे जाने अंजाने में हुई गलतियों के लिए माफी अवश्य मांगे.

सिंह राशि- वर्तमान समय में सिंह राशि में सूर्य और शुक्र की युति बनी हुई है. सूर्य जहां सभी ग्रहों के अधिपति हैं वहीं ज्योतिष शास्त्र में इन्हें पिता भी माना गया है. पितृ पक्ष में पितरों की अच्छे ढंग से श्रद्धांजलि दें. पितृ पक्ष नियमों का पालन करें. अहंकार से दूर रहे और अपने चरित्र निर्माण पर ध्यान दें. कर्ज लेने से बचें.

कन्या राशि- बुध ग्रह का गोचर आपकी राशि में हो रहा है. विशेष बात ये है कि जिस दिन से पितृ पक्ष आरंभ हो रहे हैं उसी दिन से बुध वक्री हो रहे हैं. इसलिए पितृ पक्ष में बड़े निर्णय लेने में सावधानी बरतें. वाणी को खराब न करें. विवाद और तनाव से बचें. किसी की निंदा न करें. मन को शांत रखने की कोशिश करें.

तुला राशि- केतु ग्रह को मोक्ष का कारक बताया गया है. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार केतु एक पाप ग्रह है. ये भम्र का भी कारक है. केतु का संबंध पितरों से हैं. इसलिए पितृ पक्ष में आपको पितरों का विशेष आभार व्यक्त करना चाहिए. इससे जीवन में आने वाली परेशानियां दूर होगी. इस दौरान कर्ज न लें. दान पुण्य के कामों में रूचि लें.

मकर राशि- पितृ पक्ष में मकर राशि वालों को विशेष ध्यान रखने की जरूरत है. इस दिन पूंजी का निवेश सोच समझ करें. सेहत का ध्यान रखें. शनि आपकी राशि के स्वामी हैं, जो आपकी ही राशि में वक्री होकर गोचर कर रहे हैं. शनि का संबंध पूर्व जन्मों के कर्मों से भी है. इसलिए पितृ पक्ष में शनि देव की भी पूजा करें. शनि से जुड़ी चीजों का दान करें. कुष्ठ रोगियों की सेवा करें. विशेष फल प्राप्त होगा. पशु-पक्षी और प्रकृति की सेवा करें.

First Published : 11 Sep 2022, 04:40:10 PM

For all the Latest Religion News, Dharm News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.