logo-image
लोकसभा चुनाव

Buddha Purnima 2024: बुद्ध पूर्णिमा पर 200 साल बाद बनें ये 3 दुर्लभ योग, इन 3 राशियों की चमकेगी किस्मत

Buddha Purnima 2024 Shubh Yog: आज ऐसे दुर्लभ योग का निर्माण हो रहा है जो 3 राशियों के लिए बहुत लकी है. ज्योतिष के जानकारों की मानें तो ये योग इन 3 राशियों को करोड़पति बना सकते हैं.

Updated on: 23 May 2024, 12:54 PM

New Delhi :

Buddha Purnima 2024: बुद्ध पूर्णिमा (23 मई 2024) को ग्रहों की स्थिति विशेष रूप से महत्वपूर्ण मानी जा रही है. ये कई राशियों के लिए अत्यंत शुभ माना जाता है. ज्ञान, शिक्षा, सफलता, आध्यात्मिकता और मानसिक शांति में वृद्धि हो सकती है. नए अवसरों की प्राप्ति और व्यवसाय में तरक्की हो सकती है. मानसिक तनाव और स्वास्थ्य समस्याओं में कमी हो सकती है. 200 साल बाद बुद्ध पूर्णिमा के दिन त्रिग्रही योग, गुरु आदित्य योग और शिव योग बनेगा जिसे अनेक राशियों के लिए शुभ माना जाता है.  लेकिन, ये तीन राशियां सबसे लकी रहेंगी. आइए जानते हैं इन तीन दुर्लभ संयोग का क्या महत्व है और किन राशियों को इससे क्या लाभ मिलेगा. 

बुद्ध पूर्णिमा 2024 पर 200 वर्षों बाद बनें ये दुर्लभ योग 

1. त्रिग्रही योग गुरु, शुक्र और सूर्य ग्रह वृषभ राशि में एक साथ उपस्थित रहेंगे. यह दुर्लभ योग 200 वर्षों में पहली बार बन रहा है. त्रिग्रही योग को अत्यंत शुभ माना जाता है और विभिन्न राशियों पर इसका विशेष प्रभाव पड़ सकता है.

2. गुरु आदित्य योग गुरु और सूर्य ग्रह वृषभ राशि में युति बनाएंगे. यह योग ज्ञान, शिक्षा और सफलता का प्रतीक है. गुरु आदित्य योग से विभिन्न क्षेत्रों में प्रगति और सफलता प्राप्त होने की संभावना है. 

3. शिव योग यह योग बुद्ध पूर्णिमा के दिन विशेष रूप से प्रभावशाली माना जाता है. शिव योग आध्यात्मिकता, ज्ञान और मोक्ष का प्रतीक है. इस योग का प्रभाव विभिन्न राशियों पर आध्यात्मिक और मानसिक रूप से सकारात्मक हो सकता है.

इन 3 राशियों की चमकेगी किस्मत

वृषभ राशि त्रिग्रही योग और गुरु आदित्य योग वृषभ राशि में ही बन रहे हैं, इसलिए इनका प्रभाव इस राशि पर सबसे अधिक होगा. इन योगों से वृषभ राशि के जातकों को धन, करियर, शिक्षा, स्वास्थ्य और पारिवारिक जीवन में सफलता प्राप्त होने की संभावना है. आध्यात्मिक और मानसिक रूप से भी इस राशि के जातकों को लाभ मिलेगा.

कर्क राशि त्रिग्रही योग, गुरु आदित्य योग और शिव योग कर्क राशि के अष्टम भाव में प्रभाव डालेंगे. इन योगों से कर्क राशि के जातकों को अनुसंधान, गुप्त विद्या, वारिसा और भूमि-भवन से संबंधित मामलों में लाभ मिल सकता है. मानसिक और आध्यात्मिक रूप से भी इस राशि के जातकों को सकारात्मकता और शांति का अनुभव होगा.

मीन राशि त्रिग्रही योग, गुरु आदित्य योग और शिव योग मीन राशि के पंचम भाव में प्रभाव डालेंगे. इन योगों से मीन राशि के जातकों को प्रेम संबंधों, संतान, शिक्षा, रचनात्मकता और मनोरंजन से संबंधित क्षेत्रों में सफलता प्राप्त करने की संभावना है. मानसिक और आध्यात्मिक रूप से भी इस राशि के जातकों को सकारात्मकता और प्रेरणा मिलेगी.

यह भी पढ़ें: Death of Buddha: बुद्ध की मृत्यु कैसे हुई, जानें गौतम बुद्ध के महापरिनिर्वाण की कहानी

Religion की ऐसी और खबरें पढ़ने के लिए आप न्यूज़ नेशन के धर्म-कर्म सेक्शन के साथ ऐसे ही जुड़े रहिए.

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारियां धार्मिक आस्था और लोक मान्यताओं पर आधारित हैं. न्यूज नेशन इस बारे में किसी तरह की कोई पुष्टि नहीं करता है. इसे सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर यहां प्रस्तुत किया गया है.)