logo-image
लोकसभा चुनाव

Maa Lakshmi Mantra: ये हैं मां लक्ष्मी के 5 चमत्कारी मंत्र, जपते ही सिद्ध हो जाते हैं सारे कार्य 

Maa Lakshmi Mantra: मां लक्ष्मी धन, समृद्धि, ऐश्वर्य और सौभाग्य की देवी हैं. उनके मंत्रों का जाप करने से अनेक लाभ प्राप्त होते हैं

Updated on: 19 Apr 2024, 11:18 AM

नई दिल्ली :

Maa Lakshmi Mantra: लक्ष्मी मंत्रों का जाप करने से व्यक्ति भगवान लक्ष्मी की कृपा और आशीर्वाद प्राप्त करता है. ये मंत्र धन, समृद्धि, सौभाग्य, और संपत्ति की प्राप्ति में भक्तों की मदद करते हैं. इन जाप के जाप से भक्त के मन में शुद्धि और ध्यान की स्थिति उत्पन्न होती है. ये मंत्र साधक को सत्य, निष्काम कर्म, और प्रेम के माध्यम से अन्तरिक सामृद्धि की ओर ले जाते हैं. लक्ष्मी मंत्रों का नियमित जाप करने से भक्त का मन ध्यान में स्थिर रहता है और उसे आत्मा की अध्यात्मिक अनुभूति की प्राप्ति होती है. लक्ष्मी मंत्रों का जाप धार्मिक और आध्यात्मिक विकास में सहायक होता है. ये मंत्र साधक को मानवता, करुणा, और दया की भावना से परिपूर्ण बनाते हैं. इस प्रकार, देवी लक्ष्मी के मंत्र जाप का धार्मिक महत्व व्यक्ति के जीवन में आध्यात्मिक उन्नति और समृद्धि का स्रोत बनता है.

मंत्र: ॐ श्रीं ह्रीं क्लीं ऐं लक्ष्मी नमः

लाभ: धन, समृद्धि, और ऐश्वर्य प्राप्ति, कर्ज से मुक्ति, व्यापार में वृद्धि, नौकरी में सफलता, घर में सुख-शांति

मंत्र: ॐ महालक्ष्मीये नमः

लाभ: देवी लक्ष्मी की कृपा प्राप्ति, मनोकामना पूर्ति, रोगों से मुक्ति, शत्रुओं पर विजय, जीवन में सकारात्मकता

मंत्र: ॐ श्रीं क्लीं महालक्ष्मी महालक्ष्मी एह्येहि सर्व सौभाग्यं देहि मे स्वाहा

लाभ: धन, समृद्धि, और सौभाग्य प्राप्ति, विवाह में सफलता, संतान प्राप्ति, शिक्षा में सफलता, जीवन में सभी प्रकार की खुशियां

मंत्र: ॐ श्रीं लक्ष्मी नारायणाय नमः

लाभ: देवी लक्ष्मी और भगवान नारायण की कृपा प्राप्ति, वैवाहिक जीवन में सुख-शांति, संतान की प्राप्ति, व्यापार में वृद्धि, जीवन में सभी प्रकार की सफलता

मंत्र: ॐ लक्ष्मी वीर्य नमः 

लाभ: धन-धान्य की वृद्धि, शारीरिक और मानसिक शक्ति में वृद्धि, शत्रुओं पर विजय, जीवन में साहस और आत्मविश्वास

मंत्र: ॐ श्रीं क्लीं ऐं श्रीं लक्ष्मी नमः

लाभ: धन, समृद्धि, और ऐश्वर्य प्राप्ति,  व्यापार में वृद्धि, नौकरी में सफलता, जीवन में सुख-शांति

मंत्रों का जाप करते समय मन शांत रखें. कम से कम 108 बार किसी भी मंत्र का जाप करें. इन मंत्रों का जाप नियमित रूप से करना चाहिए. 

Religion की ऐसी और खबरें पढ़ने के लिए आप न्यूज़ नेशन के धर्म-कर्म सेक्शन के साथ ऐसे ही जुड़े रहिए

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारियां धार्मिक आस्था और लोक मान्यताओं पर आधारित हैं. न्यूज नेशन इस बारे में किसी तरह की कोई पुष्टि नहीं करता है. इसे सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर यहां प्रस्तुत किया गया है.)

यह भी पढ़ें: Chaitra Masik Shivratri 2024: चैत्र में कब मनाई जाएगी मासिक शिवरात्रि, जानें सही डेट, शुभ मुहूर्त और महत्व