News Nation Logo
Banner

Guruwar Vrat Niyam: गुरुवार को भूलकर भी न करें ये काम, धन की होती है हानि और दरिद्रता का होने लगता है वास

गुरुवार (brihaspativar vrat vidhi) के व्रत पूजा में नियम धर्म का विशेष महत्व होता है. अगर इस बात का ध्यान नहीं रखा जाता तो मां लक्ष्मी रुष्ट हो जाती हैं और घर में दरिद्रता का वास (guruvar vrat niyam) होने लगता है.   

News Nation Bureau | Edited By : Megha Jain | Updated on: 05 May 2022, 07:25:23 AM
Guruwar Vrat Niyam

Guruwar Vrat Niyam (Photo Credit: social media)

नई दिल्ली:  

आज गुरुवार (guruwar vrat niyam) का दिन बृहस्पति देव (guruwar lord brihaspati dev) को समर्पित होता है. इस दिन लोग भगवान विष्णु और मां लक्ष्मी (guruwar lord vishnu and maa laxmi) की पूजा करते हैं. गुरुवार का व्रत रखने वाले लोग भगवान विष्णु और मां लक्ष्मी को प्रसन्न करके मनवांछित फल प्राप्त करने के लिए विधि-विधान से पूजा अर्चना करते हैं. इसके साथ ही गुरुवार (brihaspativar vrat vidhi) के व्रत पूजा में नियम धर्म का विशेष महत्व होता है. अगर इस बात का ध्यान नहीं रखा जाता तो मां लक्ष्मी रुष्ट हो जाती हैं और घर में दरिद्रता का वास (guruvar vrat niyam) होने लगता है.   

यह भी पढ़े : Chanakya Niti: धरती पर बोझ होते हैं ऐसे लोग, दूसरों का जीवन भी कर देते हैं बर्बाद

गुरुवार के दिन भूलकर भी न करें ये काम  

गुरुवार के व्रत में नमक नहीं खाया जाता. इसलिए, खाने में ऊपर से नमक डालकर भोजन न करें. 

गुरुवार के दिन नाखून और बाल नहीं काटने चाहिए. इसके साथ ही पुरुषों को शेंविंग नहीं करनी चाहिए. इससे धन हानि की संभावना बनी रहती है.   

यह भी पढ़े : Ganga Saptami 2022, Rochak Katha: जब भगवान शिव की जटाओं से निकली मां गंगा ऋषि जह्नु के पेट में हुई कैद और किया सृष्टि का उद्धार

गुरुवार के दिन किसी भी तरह का दान नहीं करना चाहिए. पीली चीजों को छोड़कर दूसरी किसी भी तरह की चीज का दान करना वर्जित होता है. 

गुरुवार के दिन पैसे का लेन-देन नहीं करना चाहिए. इससे कर्ज बढ़ने की संभावना बढ़ जाती है.

गुरुवार के दिन दक्षिण और पूर्व की दिशा की ओर दिशाशूल होने की वजह से दक्षिण और पूर्व दिशा में यात्रा नहीं (guruwar donts) करनी चाहिए.   

First Published : 05 May 2022, 07:25:23 AM

For all the Latest Religion News, Dharm News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.