logo-image
लोकसभा चुनाव

Jyeshtha Purnima 2024 Upay: ज्येष्ठ पूर्णिमा पर बस कर लें ये उपाय, दूर होगी धन की कमी, चमक जाएगा भाग्य

Jyeshtha Purnima 2024 Upay: ज्योतिष के अनुसार, ज्येष्ठ पूर्णिमा के दिन कुछ उपाय करना अत्यंत लाभकारी माना जाता है. इस दिन इन उपायों को करने से जीवन में सुख-समृद्धि आती है.

Updated on: 22 Jun 2024, 04:05 PM

नई दिल्ली :

Jyeshtha Purnima 2024 Upay: ज्येष्ठ पूर्णिमा हिंदू धर्म में एक महत्वपूर्ण त्योहार है. यह साल में एक बार ज्येष्ठ मास की पूर्णिमा तिथि को आता है.  इस वर्ष ज्येष्ठ पूर्णिमा आज यानी 22 जून 2024 को मनाई जा रही है. यह पवित्र दिन भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी की पूजा के लिए समर्पित है.  ज्योतिष शास्त्र में ज्येष्ठ पूर्णिमा को मोक्ष प्राप्ति का द्वार माना जाता है.  इस दिन किए गए दान, स्नान और पूजा-पाठ अत्यंत फलदायी होते हैं. इसके अलावा ज्येष्ठ पूर्णिमा के दिन व्रत, स्नान-दान करने से कुंडली के चंद्र दोष दूर होते हैं. ऐसे में आइए जानते हैं ज्येष्ठ पूर्णिमा के दिन किए जाने वाले खास उपाय जो आपके जीवन में सुख-समृद्धि ला सकते हैं. 

1. चंद्रमा को अर्घ्य

ज्येष्ठ पूर्णिमा के दिन चंद्रमा को अर्घ्य देना चाहिए. इस दिन एक लोटे में जल, दूध, सफेद चंदन, अक्षत और कुछ फूल मिलाकर चंद्रमा को अर्घ्य दें. चंद्र मंत्र का जाप करते हुए अर्घ्य देने से मन शांत होता है और चंद्र संबंधी दोष दूर होते हैं. 

2. भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी की पूजा

ज्येष्ठ पूर्णिमा के दिन भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी की पूजा करना अत्यंत शुभ माना जाता है. इनकी विधिवत पूजा करने से धन-धान्य की वृद्धि होती है और जीवन में सुख-समृद्धि आती है. आप घर में ही इनकी प्रतिमा स्थापित करके पूजा कर सकते हैं. 

3. वट वृक्ष की पूजा

ज्येष्ठ पूर्णिमा के दिन वट वृक्ष की पूजा करना भी बहुत ही शुभ होता है. इस दिन वट वृक्ष को जल, दूध, घी और शहद अर्पित करें. वट वृक्ष को कलावा बांधकर उसकी परिक्रमा करें. वट वृक्ष की पूजा करने से कुंडली में ग्रहों के दोष दूर होते हैं और पितृ प्रसन्न होते हैं. 

4. दान-पुण्य

ज्येष्ठ पूर्णिमा के दिन दान-पुण्य करना अत्यंत लाभकारी होता है. इस दिन आप अपनी क्षमता अनुसार गरीबों, ब्राह्मणों या जरूरतमंदों को दान दे सकते हैं. दान करने से पुण्य प्राप्त होता है और ग्रहों की दशा में सुधार होता है. 

5. गुरु पूजन

ज्येष्ठ पूर्णिमा को गुरु पूजन का भी विशेष महत्व है. इस दिन अपने गुरु की पूजा करें और उनका आशीर्वाद प्राप्त करें. यदि आपके गुरु नहीं हैं, तो आप किसी संत-महात्मा की पूजा कर सकते हैं. गुरु पूजन करने से ज्ञान और विद्या की प्राप्ति होती है. 

Religion की ऐसी और खबरें पढ़ने के लिए आप न्यूज़ नेशन के धर्म-कर्म सेक्शन के साथ ऐसे ही जुड़े रहिए.

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारियां धार्मिक आस्था और लोक मान्यताओं पर आधारित हैं. न्यूज नेशन इस बारे में किसी तरह की कोई पुष्टि नहीं करता है. इसे सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर यहां प्रस्तुत किया गया है.)