logo-image
लोकसभा चुनाव

Vastu Tips for Jewellery: घर में ज्वेलरी रखने की सही जगह क्या है? इस दिशा में गलती से भी न रखें

Vastu Tips for Jewellery: अगर आप वास्तु के इन नियमों का पालन नहीं करेंगे तो इससे धन की हानि तो होती ही है साथ ही मानिसक परेशानियां भी आती हैं. आज हम आपको बताएंगे कि घर में ज्वेलरी को कहां नहीं रखनी चाहिए. साथ ही जानें ज्वेलरी रखने की सही दिशा

Updated on: 25 May 2024, 03:57 PM

नई दिल्ली :

Vastu Tips for Jewellery: ज्वेलरी हमारे लिए सिर्फ़ कीमती सामान ही नहीं, बल्कि कई यादों और भावनाओं से जुड़ी होती है.  इनकी सुरक्षा और रखरखाव बेहद महत्वपूर्ण होता है. वास्तु शास्त्र के अनुसार, घर में ज्वेलरी रखने की कुछ जगहें निर्धारित की गई है. इनका पालन करके आप न केवल अपनी ज्वेलरी की सुरक्षा कर सकते हैं, बल्कि इससे सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह भी बढ़ जाता है. अगर आप वास्तु के अनुसार अपनी ज्वेलरी यानी आभूषण रखेंगे इससे आपको फायदा तो मिलेगा ही साथ ही धन लाभ भी होगा. लेकिन अगर आप वास्तु के इन नियमों का पालन नहीं करेंगे तो इससे  धन की हानि तो होती ही है साथ ही मानिसक परेशानियां भी आती हैं. ऐसे में इस लेख के जरिए आज हम आपको बताएंगे कि घर में ज्वेलरी को कहां नहीं रखनी चाहिए. साथ ही जानिए  घर में ज्वेलरी रखने की सही दिशा क्या है. 

इन 3 जगहों पर गलती से भी न रखें  ज्वेलरी

1. दक्षिण दिशा 

 दक्षिण दिशा यम देवता से जुड़ी होती है, जो मृत्यु और अंधकार का प्रतीक माना जाता है.  ऐसे में वास्तु शास्त्र के अनुसार, इस दिशा में ज्वेलरी रखने से घर नकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न हो सकती है और धन हानि हो सकती है. इसके साथ ही लक्ष्मी जी घर से निकल जाती हैं. 

2. पूजा स्थान

वास्तु कहता है कि देवी-देवताओं की तस्वीरों या मूर्तियों के पास ज्वेलरी रखना शुभ नहीं माना जाता है. वास्तु के अनुसार, ऐसा करने से आपको धन हानि का सामना करना पड़ सकता है. इसलिए देवी-देवताओं के पास अपनी ज्वेलरी न रखें. 

3. टूटा हुआ बॉक्स

ज्वेलरी को हमेशा मजबूत और अच्छी बॉक्स में रखना चाहिए. टूटे हुए बॉक्स में रखने से ज्वेलरी खोने या टूटने का खतरा बना रहता है. इस बात का ध्यान रखें कि ज्वेलरी को हमेशा ढके हुए बॉक्स या लॉकर में ही रखें. खुली जगह में रखने से धूल, गंदगी और चोरी का खतरा बढ़ जाता है. 

इन जगहों पर रखें अपनी ज्वेलरी

1. उत्तर-पश्चिम दिशा

यह दिशा लक्ष्मी देवी से जुड़ी होती है, जो धन और समृद्धि की देवी हैं. ऐसे में इस दिशा में ज्वेलरी रखने से धन-वृद्धि और समृद्धि प्राप्त होती है. इस बात का ध्यान रखें कि ज्वेलरी को एक-दूसरे के ऊपर न रखें, जिससे वे खरोंच या उलझ सकती हैं. नियमित रूप से अपनी ज्वेलरी की जांच करें और यदि कोई क्षति हो तो उसे ठीक करवाएं. 

2. पूर्व या उत्तर दिशा

आप पूर्व या उत्तर दिशा में भी अपनी ज्वेलरी रख सकते हैं. ये दिशाएं भी शुभ मानी जाती हैं ज्वेलरी रखने से सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह बढ़ता है. ज्वेलरी को हमेशा साफ और सूखी जगह पर रखें. ज्वेलरी पहनने से पहले और बाद में उसे हमेशा साफ करें. 

Religion की ऐसी और खबरें पढ़ने के लिए आप न्यूज़ नेशन के धर्म-कर्म सेक्शन के साथ ऐसे ही जुड़े रहिए.

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारियां धार्मिक आस्था और लोक मान्यताओं पर आधारित हैं. न्यूज नेशन इस बारे में किसी तरह की कोई पुष्टि नहीं करता है. इसे सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर यहां प्रस्तुत किया गया है.)