News Nation Logo

Haridwar Kumbh Mela : गंगा में श्रद्धालुओं की डुबकियां गिनेगी पुलिस, जानें कुंभ मेला की गाइडलाइंस

हरिद्वार कुंभ मेले (Haridwar Kumbh) में स्नान को लेकर नई गाइडलाइंस जारी की गई है. पुलिस का मानना है कि गंगा घाटों पर डुबली लगाने वालों को अधिक समय तक रुके रहन से अव्‍यवस्‍था फैल सकती है. इसलिए एक नई व्‍यवस्‍था लागू की गई है.

News Nation Bureau | Edited By : Sunil Mishra | Updated on: 15 Jan 2021, 06:25:09 PM
kumbh1

गंगा में श्रद्धालुओं की डुबकियां गिनेगी पुलिस, जानें कुंभ की गाइडलाइंस (Photo Credit: File Photo)

नई दिल्ली:  

हरिद्वार कुंभ मेले (Haridwar Kumbh) में स्नान को लेकर नई गाइडलाइंस जारी की गई है. पुलिस का मानना है कि गंगा घाटों पर डुबली लगाने वालों को अधिक समय तक रुके रहन से अव्‍यवस्‍था फैल सकती है. इसलिए एक नई व्‍यवस्‍था लागू की गई है, जिसके तहत हरकी पैड़ी और आसपास के गंगा घाटों में स्नान करने वाले श्रद्धालु तीन बार ही डुबकी लगा पाएंगे. इसके बाद श्रद्धालुओं को बाहर आना होगा, ताकि वहां पहुंच रहे सभी श्रद्धालुओं को स्नान का मौका मिल सके. सीढ़ियों पर तैनात रहकर पुलिसकर्मी लोगों को इस बारे में गाइड करते रहेंगे. 

कुंभ मेले में दुनिया भर से लोग स्‍नान के लिए पहुंचते हैं. इसी कारण पुलिस या फिर सुरक्षाकर्मियों के लिए यह किसी चुनौती से कम नहीं माना जाता. माना जाता है कि हरकी पैड़ी पर हर पांच मिनट में 10 हजार लोग स्नान कर सकते हैं. लेकिन कुंभ में भीड़ के चलते आसपास के घाट फुल हो जाते हैं. 

भीड़ बेकाबू न हो, इसके लिए एक श्रद्धालु के लिए तीन बार डुबकी लगाने का नियम बनाया गया है. पुलिस इस बात पर फोकस करेगी कि कोई भी तीन बार से अधिक डुबकियां न लगा पाए. इससे लोग स्‍नान कर तुरंत बाहर आते जाएंगे और भीड़ छंटती रहेगी. तीन बार डुबकी इसलिए भी लगाने का नियम बनाया गया है कि इससे तीनों लोकों का फल मिलता है. 

पिछली बार कुंभ के अनुभव को देखते हुए यह व्‍यवस्‍था की गई है. पिछली बार इतनी भीड़ उमड़ गई थी कि लोगों को हरकी पैड़ी तक नहीं जाने दिया गया था. जो लोग पहुंच भी गए थे, उन्‍हें भी स्‍नान के लिए भागमभाग करनी पड़ी थी. कुंभ मेले के आईजी संजय गुंज्याल का कहना है कि अब सूचना केंद्र से तीन डुबकी लगाने के लिए अनाउंसमेंट किया जाएगा. हरकी पैड़ी के अलावा भीड़ वाले गंगा घाटों में भी यही व्यवस्था लागू की जाएगी.

First Published : 15 Jan 2021, 06:25:09 PM

For all the Latest Religion News, Dharm News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.