News Nation Logo
Banner

Happy Navratri 2019: जानिए मां दुर्गा के तीसरे स्वरूप चंद्रघंटा की कथा और पूजा विधि

मां चंद्रघंटा की सच्चे मन से पूजा करने से रोग दूर हो जाते हैं, लंबी आयु का वरदान मिलता है

News Nation Bureau | Edited By : Sushil Kumar | Updated on: 08 Apr 2019, 07:08:29 AM

नई दिल्ली:

नवरात्रि के तीसरे दिन मां चंद्रघंटा की पूजा-अर्चना की जाती है और व्रत रखा जाता है. मां के इस रूप की सच्चे मन से पूजा करने से रोग दूर होते हैं. शत्रुओं से भय नहीं होता और लंबी आयु का वरदान मिलता है. इसके साथ ही मां आध्यात्मिक शक्ति, आत्मविश्वास और मन पर नियंत्रण भी बढ़ाती हैं. मां चंद्रघंटा शेर पर सवारी करती हैं और इनके दसों हाथों में अस्त्र-शस्त्र हैं. मां के माथे पर चंद्रमा विराजमान है जो उनका रूप और सुंदर बनाता है. इस दिन मणिपुर चक्र को प्रबल करने के लिए साधना की जाती है. मन, कर्म, वचन शुद्ध करके पूजा करने वालों के सब पाप खत्म हो जाते हैं.

यह भी पढ़ें - Happy Navratri 2019: जानिए मां दुर्गा के स्वरूप शैलपुत्री की कथा और पूजा विधि, देखें VIDEO

पूजा विधि

मां को केसर और केवड़ा जल से स्नान करायें. मां को सुनहरे या भूरे रंग के वस्त्र पहनाएं और खुद भी इसी रंग के वस्त्र पहनें. केसर-दूध से बनी मिठाइयों का भोग लगाएं. मां को सफेद कमल और पीले गुलाब की माला अर्पण करें. पंचामृत, चीनी व मिश्री का भोग लगाएं. मां का आर्शीवाद पाने के लिए इस मंत्र का 108 बार जाप करने से फायदा मिलेगा.

"या देवी सर्वभूतेषु मां चंद्रघंटा रूपेण संस्थिता.
नमस्तस्यै, नमस्तस्यै, नमस्तस्यै, नमो नमः."

First Published : 08 Apr 2019, 12:01:55 AM

For all the Latest Religion News, Dharm News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो