logo-image
लोकसभा चुनाव

Kanya Pujan Shubh Muhurat: कल है महा अष्टमी, जानें कन्या पूजन का शुभ मुहूर्त और सही तरीका 

Kanya Pujan Shubh Muhurat: चैत्र नवरात्रि में कन्या पूजन का विशेष महत्व है. इस दिन नौ कन्याओं को घर बुलाकर उनकी पूजा की जाती है. कन्याओं को देवी दुर्गा का रूप माना जाता है. आइए जानते हैं पूजा का शुभ मुहूर्त और विधि.

Updated on: 16 Apr 2024, 10:26 AM

नई दिल्ली:

Kanya Pujan Shubh Muhurat: चैत्र नवरात्रि 2024 में अष्टमी तिथि 16 अप्रैल, मंगलवार को है. चैत्र नवरात्रि की अष्टमी तिथि पर कन्या पूजन करने से आपको माता दुर्गा का आशीर्वाद प्राप्त होगा और आपके जीवन में सुख-समृद्धि आएगी. कन्या पूजन के लिए 2 साल से 9 साल तक की कन्याओं को आमंत्रित करना शुभ माना जाता है. अगर 2 साल से 9 साल तक की कन्याएं उपलब्ध नहीं हैं, तो आप बड़ी उम्र की महिलाओं को भी आमंत्रित कर सकती हैं. कन्याओं को दान-दक्षिणा देते समय, उन्हें सम्मान और विनम्रता से दें. पूजा के दौरान मन को शांत रखें और सकारात्मक विचारों को ध्यान में रखें. 

कन्या पूजन का शुभ मुहूर्त:

अभिजीत मुहूर्त: सुबह 11:52 बजे से 12:22 बजे तक

सिंह लग्न: दोपहर 1:05 बजे से 2:49 बजे तक

विजय मुहूर्त: दोपहर 2:49 बजे से 3:34 बजे तक

अवधि: 1 घंटा 42 मिनट

कन्या पूजन का पहला शुभ मुहूर्त सुबह 7 बजकर 51 मिनट से 10 बजकर 41 मिनट तक है. इसके बाद आप किसी भी शुभ समय में कन्या पूजन कर सकते हैं. 

इस तरह करें कन्या पूजन 

महाष्टमी नवरात्रि का अत्यंत महत्वपूर्ण दिन माना जाता है. इस दिन माता दुर्गा के अष्टभुजी रूप की पूजा की जाती है. कन्या पूजन महाष्टमी का एक महत्वपूर्ण अनुष्ठान है, जिसमें 9 कन्याओं को देवी दुर्गा का प्रतीक मानकर पूजा जाता है. कन्या पूजन के लिए आप सबसे पहले सुबह उठकर स्नान कर स्वच्छ वस्त्र पहनें. पूजा स्थल को साफ करें और सजाएं. मां दुर्गा की प्रतिमा या तस्वीर स्थापित करें. कन्याओं को आमंत्रित करें और उनका स्वागत करें. कन्याओं को लाल रंग की चुन्नी, फल, मिठाई, और दक्षिणा दें. कन्याओं के पैरों को धोकर उनका आशीर्वाद लें. मां दुर्गा की पूजा करें और कन्याओं को भोजन खिलाएं. "कन्या स्तोत्र" का पाठ करें. देवी दुर्गा से प्रार्थना करें और अपनी मनोकामनाएं व्यक्त करें.

 Religion की ऐसी और खबरें पढ़ने के लिए आप न्यूज़ नेशन के धर्म-कर्म सेक्शन के साथ ऐसे ही जुड़े रहिए.

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारियां धार्मिक आस्था और लोक मान्यताओं पर आधारित हैं. न्यूज नेशन इस बारे में किसी तरह की कोई पुष्टि नहीं करता है. इसे सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर यहां प्रस्तुत किया गया है.)

यह भी पढ़ें: Dream Interpretation: सपने में सोने का घड़ा देता है भविष्य के ये शुभ संकेत, बदल जाएगा जीवन