News Nation Logo
Banner

यह 7 तस्वीरें आपसे कह रही है 'बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ और बेटी खिलाओ'

From PT Usha to Sania Mirza , India has traveled a long destination towards the achievements of our women folk in the sports world.Indian women are making news in areas of sports like boxing , wrestling , cricket , shooting once dominated by men.

News Nation Bureau | Updated : 16 July 2017, 05:21:04 PM
दीपा करमाकर

दीपा करमाकर

1
पिछले साल रियो ओलम्पिक में प्रतिस्पर्धा कर दीपा ने एक इतिहास कायम किया था। वह 52 साल बाद जिमनास्ट में प्रतिस्पर्धा करने वाली पहली भारतीय बनीं। दीपा रियो ओलंपिक के वोल्ट इवेंट में मैडल तो नहीं जीत पाई लेकिन भारतीय लोगो का दिल जरूर जीता। दीपा को रियो ओलंपिक में शानदार प्रदर्शन के लिए क्रिकेट के भगवान सचिन तेंडुलकर ने बीएमडब्ल्यू कार भी गिफ्ट की थी।
पी.वी. सिंघु

पी.वी. सिंघु

2
सिंघु ने रियो ओलंपिक के बैडमिंटन मुकाबले में सिल्वर मैडल जीतकर दुनिया का दिल जीत लिया। उनका खेल देखकर कई भारतीय युवा बैडमिंटन खिलाड़ियों की वह रोल मॉडल बन गई।
साक्षी मलिक

साक्षी मलिक

3
रियो ओलंपिक में साक्षी मलिक ने भारत की झोली में कांस्य पदक डाला और देश की बेटी ने अपने खेल से सबका दिल जीत लिया। इस जीत ने साबित कर दिया कि खाना बनाने वाले हाथों को अगर अवसर मिले तो पुरुषों की तरह वह भी पटखनी दे सकती है।
सानिया मिर्जा

सानिया मिर्जा

4
सानिया मिर्जा टेनिस में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत को पहचान दिला चुकी है। टेनिस डबल्स में दुनिया की चैंपियन खिलाड़ियों को हरा चुकी सानिया ने जब भी देश के लिए खेलने उतरती है तो देश का नाम रौशन करती है।
दीपा मलिक

दीपा मलिक

5
पैरालंपिक के गोला फेंक इवेंट में सिल्वर मैडल जीता और साथ ही लोगों का दिल भी। 18 साल पहले रीढ में ट्यूमर के कारण उनका चलना असंभव हो गया था। दीपा के 31 ऑपरेशन किये जिसके लिये उनकी कमर और पांव के बीच 183 टांके लगे थे। गोला फेंक के अलावा दीपा ने भाला फेंक, तैराकी में भाग लिया था। वह अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में तैराकी में पदक जीत चुकी है। भाला फेंक में उनके नाम पर एशियाई रिकार्ड है जबकि गोला फेंक और चक्का फेंक में उन्होंने 2011 में विश्व चैंपियनशिप में रजत पदक जीते थे।
मिताली राज

मिताली राज

6
भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान। मिताली राज ने 18 साल के अपने शानदार करियर में 188 वनडे खेले और सबसे तेज 6,000 रन बनाकर विश्व रिकॉर्ड अपने नाम किया। मिताली ने अपने तीसरे ही टेस्ट में (इंग्लैंड के खिलाफ) 209 रन के व्यक्तिगत रिकॉर्ड को तोड़कर 214 रनों की पारी खेल डाली थी और पहले ही वनडे में आयरलौंड के खिलाफ शतक जड़ा था।
मैरी कॉम

मैरी कॉम

7
मणिपुर की इस भारतीय महिला बॉक्सर ने पांच बार वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप को अपने नाम किया और वह पहली ऐसी महिला बॉक्सर है जिन्होंने लगातार छह वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप में छह मैडल अपने नाम किए। मैरी कॉम ने लंदन ओलंपिक में भारत को कांस्य पदक भी जिताया।