News Nation Logo
Banner

Blowing Conch Shell Benefits: वैज्ञानिक भी हुए शंखनाद के आगे नतमस्तक, कुंडली के दोषों से लेकर गंभीर शारीरिक रोगों तक में हैं रहस्मयी हितकारी

हिंदू धर्म में शंखनाद का महत्व काफी ज्यादा है. जहां एक तरफ शंख की ध्वनि शुभता को दर्शाती है तो वहीं दूसरी ओर इसकी ध्वनि से कई रोगों का भी नाश होता है. ऐसे में आज हम आपको शंखनाद के स्वास्थ्य, धार्मिक एवं वैज्ञानिक बेनेफिट्स के बारे में बताने जा रहे हैं.

News Nation Bureau | Updated : 03 March 2022, 09:45:03 PM
article

Social Media

1

हिंदू धर्म में पूजा के दौरान शंख का विशेष महत्व है. घरों में पूजा के बाद शंख बजाना शुभ माना जाता है. कहते हैं कि घर में पूजा के दौरान शंख बजाने से सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह होता है. शंख की ध्वनि शुभता को दर्शाती है. हिन्दू पूजा-पद्धति में शंख बजाया जाता है. भगवान विष्णु (Lord Vishnu) जी के हाथों में भी शंख है, जिसका नाम पांचजन्य है. ब्रह्मवैवर्त पुराण में शंख के महत्व को बताते हुए कहा गया है कि शंख में जल रखने और इसे छिड़कने से वातावरण शुद्ध होता है. अर्थात शंख धार्मिक, वैज्ञानिक और स्वास्थ्य के रूप (Benefits Of Blowing Conch Shell) से बेहद ही महत्वपूर्ण है. 

1

Social Media

2

धार्मिक दृष्टि से शंख के चमत्कारिक फायदे

धार्मिक ग्रंथों में उल्लेख है कि भगवान विष्णु और मां लक्ष्मी दोनों ही शंख धारण करते हैं. कहते हैं कि जिस घर में शंख होता है, वहां इन दोनों भगवान की कृपा रहती है. 

2

Social Media

3

कहते हैं कि माता लक्ष्मी को शंख बेहद प्रिय हैं. अतः धनवान बनने के लिए शुक्रवार के दिन लक्ष्मी जी की पूजा करने के बाद शंख बजाने से घर में सुख-समृद्दि आती है. 

3

Social Media

4

मान्यता है कि शंख में जल भरकर माता लक्ष्मी और शिवलिंग का अभिषेक करना चाहिए. ऐसा करने से सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं. 

Ganesh Shankh

Social Media

5

घर में मौजूद नकारात्मक ऊर्जा को दूर करने के लिए शंख में जल भरकर पूरे घर में छिड़कने से फर्क दिखता है. 

5

Social Media

6

ऐसी भी मान्यता है कि जिन घरों में वास्‍तु दोष मौजूद होते हैं, वहां नियमित रूप से शंख बजाने से वास्‍तु दोष नष्‍ट होते हैं. और लोगों के सुख में वृद्धि होती है.

6

Social Media

7

स्वास्थ्य दृष्टि से शंख के चमत्कारिक फायदे

फेफड़े बनाएं मजबूत

कोरोना काल में फेफड़ों को मजबूत रखने के लिए प्रतिदिन 2 से 3 मिनट शंख जरूर बजाना चाहिए. शंखनाथ से फेफड़ों को मजबूती मिलने के साथ ही उनकी कार्य क्षमता भी बढ़ जाती है.

8

Social Media

8

बैक्टीरिया हो जाते हैं साफ

शंखनाद से निकलने वाली ध्वनि से वातावरण में मौजूद बैक्टीरिया साफ हो जाते हैं. इससे हवा भी शुद्ध हो जाती है.

7

Social Media

9

आंखें बनती हैं मजबूत

रातभर शंख में पानी रखकर सुबह उस पानी को आंखों में डालने से ड्राई आई सिंड्रोम, सूजन, आंखों में इंफेक्‍शन आदि समस्याएं दूर हो जाती हैं.

9

Social Media

10

स्किन के लिए फायदेमंद

कैल्शियम, गंधक और फॉस्फोरस की भरपूर मात्रा होती है. शंख में रातभर पानी भरकर सुहर उस पानी से चेहरा धोने से स्किन की बीमारियां दूर होती हैं.

10

Social Media

11

हड्डियों संबंधी समस्‍या से पीड़ित लोगों को शंख में रखा हुआ पानी पीना चाहिए. ऐसा करने से बहुत राहत मिलती है. कहते हैं कि इस पानी में कैल्श‍ियम, फास्फोरस और गंधक होता है जो हड्डियों को मजबूत बनाता है.