News Nation Logo
Banner

Kumbh 2019: शाही अंदाज में निकाली गई संत स्वामी वासुदेवानंद सरस्वती की पेशवाई, देखें तस्वीरें

15 जनवरी से प्रयागराज कुंभ की शुरुआत हो रही है. ऐसे में महंत और साधू-संतों की पेशवाई भी शाही अंदाज में निकाली जा रही है. एक-एक कर के हर अखाड़ें के संत-महंत अपनी पेशवाई निकाल रहे है.

News Nation Bureau | Updated : 10 January 2019, 09:51:11 AM
कुंभ 2019

कुंभ 2019

1
15 जनवरी से प्रयागराज कुंभ की शुरुआत हो रही है. ऐसे में महंत और साधू-संतों की पेशवाई भी शाही अंदाज में निकाली जा रही है. एक-एक कर के हर अखाड़ें के संत-महंत अपनी पेशवाई निकाल रहे है.
कुंभ 2019

कुंभ 2019

2
प्रयागराज कुंभ मेले में अखाड़ों के साथ ही बड़े संत महात्माओं की भी पेशवाई निकाले जाने की परम्परा रही है.
कुंभ 2019

कुंभ 2019

3
इसी सिलसिले में मंगलवार को एक ऐसी पेशवाई प्रयागराज की सड़कों पर निकाली गई जो किसी भी मामले में अखाड़ों की पेशवाई से कम नहीं थी. ये पेशवाई ज्योतिषपीठ के संत स्वामी वासुदेवानंद सरस्वती की निकाली गई.
कुंभ 2019

कुंभ 2019

4
स्वामी वासुदेवानंद सरस्वती शाही जुलूस के साथ अलोपीबाग स्थित अपने आश्रम से रथ पर सवार होकर जब निकले तब उनका आशीर्वाद लेने के लिए श्रद्धालुओं का तांता सड़क के दोनों ओर उमड़ पड़ा.
कुंभ 2019

कुंभ 2019

5
पेशवाई में सबसे आगे जहां हाथी घोड़े चल रहे थे। तो वहीं उसके पीछे ज्योतिषमठ की ध्वजा शान से फहरा रही थी.
कुंभ 2019

कुंभ 2019

6
पेशवाई में सैकड़ों संत और महंत बैंड बाजे के साथ चल रहे थे. इस पेशवाई में खासतौर पर जूना अखाड़े के महंत, श्री महंत और संतों ने भी भाग लिया.
कुंभ 2019

कुंभ 2019

7
पेशवाई में निकाली गई झांकियां जहां लोगों के आकर्षण का प्रमुख केन्द्र रहीं, तो वहीं जगह-जगह लोगों ने शाही जुलूस पर पुष्प वर्षा भी किया गया.
कुंभ 2019

कुंभ 2019

8
स्वामी वासुदेवानंद सरस्वती का शाही जुलूस तीन घंटे से भी ज्यादा समय में कुम्भ मेला क्षेत्र के अपने शिविर में जाकर समाप्त हुआ.
कुंभ 2019

कुंभ 2019

9
फूलों से सजे रथ पर सवार होकर जब स्वामी वासुदेवानंद सरस्वती जब प्रयागराज की सड़कों पर शाही अंदाज में पहुंचे तो उनके दर्शन के लिए श्रद्धालुओं और लोगों का तांता लग गया.
×