News Nation Logo
Banner

पीएम मोदी लाल किले पर प्रोटोकॉल तोड़ बच्चों के बीच पहुंचे, फोटो में देखें

india independence day pm modi breaks protocol at red fort and meet children see in pics delhi

News Nation Bureau | Updated : 15 August 2017, 02:11:46 PM
बच्चों के बीच पहुंचे पीएम मोदी

बच्चों के बीच पहुंचे पीएम मोदी

1
71वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर लाल किले से देश को संबोधित करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी प्रोटोकॉल तोड़कर बच्चों के बीच पहुंच गए। जैसे ही वे बच्चों के बीच वे पहुंचे सभी ने उन्हें चारो तरफ से घेर लिया। पिछले स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर भी मोदी ने कुछ इसी तरह बच्चों के बाच जाकर उन्हें खुश कर दिया था।
बालकृष्ण बने बच्चे और पीएम मोदी

बालकृष्ण बने बच्चे और पीएम मोदी

2
राष्ट्र को संबोधित करने के बाद कृष्ण के रुप में वस्त्र धारण किए बच्चों से बातचीत करने पीएम मोदी पहुंच गए। जैसे ही पीएम मोदी उनके बीच पहुंचे बच्चों के बीच उमंग की लहर दौड़ गई और पीएम से मिलने के लिए उनके बीच होड़ मच गई।
स्कूली बच्चों के बीच जाते पीएम मोदी

स्कूली बच्चों के बीच जाते पीएम मोदी

3
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी लाल किले पर कार्यक्रम की शोभा बढ़ा रहे स्कूली बच्चों से भी मुलाकात की। पीएम मोदी ने भाषण में कहा था, जो लोग इस सदी में पैदा हुए हैं, वो 1 जनवरी 2018 को 18 साल के हो जाएंगे वो देश के भाग्य विधाता होंगे।
मोदी से हाथ मिलाते स्कूली बच्चे

मोदी से हाथ मिलाते स्कूली बच्चे

4
पीएम मोदी ने अपने भाषण में देश के तमाम मुद्दों पर अपनी बातें रखीं। सभी स्कूली बच्चे खुश होकर प्रधानमंत्री से हाथ मिलाने की कोशिश करते हुए देखे गए। प्रधानमंत्री ने भाषण में कहा था कि हमें आज़ादी के लिये लड़ने वालों के सपनों जैसा भारत बनाना है।
बालकृष्ण बने बच्चों के बीच मोदी

बालकृष्ण बने बच्चों के बीच मोदी

5
प्रधानमंत्री ने देश भर में मनाए जा रहे जन्माष्टमी उत्सव के लिए देशवासियों को बधाईयां दी। उन्होंने कुछ दिनों पहले गोरखपुर में मासूम बच्चों की बीमारी से हुई मौत पर भी दुख जताया। पीएम मोदी ने साथ ही कहा कि हमें नया भारत बनाना है, जहां सबको समान अवसर मिले। एक नए भारत का संकल्प लेकर हमें आगे बढ़ना है।
बच्चों के बीच हल्के- फुल्के अंदाज में मोदी

बच्चों के बीच हल्के- फुल्के अंदाज में मोदी

6
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपने भाषण में कश्मीर की बात करते हुए कहा कि कश्मीर की समस्या को गाली और गोली से नहीं सुलझाया जा सकता है। हमें हर कश्मीरियों को गले लगाकर ही समाधान मिल सकता है। पीएम मोदी ने भाषण की शुरुआत में ही कहा कि देश की आजादी के लिए जिन- जिन लोगों ने बलिदान दिया है, योगदान दिया है, ऐसे सभी को आदर करता हूं, नमन करता हूं।