News Nation Logo
Banner

PHOTOS: आसाराम पर फैसला आने से पहले कुछ यूं चला प्रार्थनाओं का दौर

नाबालिग से रेप मामले में स्वयंभू धर्मगुरु आसाराम बापू को SC/ST (अनूसूचित जाति एवं जनजाति) अदालत ने दोषी करार दिया है। फैसला आने से पहले कई जगह प्रार्थनाओं का दौर जारी था। आसाराम के समर्थक आश्रम पहुंचकर उनकी सलामती के लिए प्रार्थना कर रहे थे। वहीं दूसरी तरफ कोर्ट में सजा की बहस चलने के दौरान आसाराम रो पड़े। उन्होंने उम्र का हवाला देते हुए कम सजा देने की मांग की।

News Nation Bureau | Updated : 25 April 2018, 12:24:31 PM
फाइल फोटो

फाइल फोटो

1
नाबालिग से रेप मामले में स्वयंभू धर्मगुरु आसाराम बापू को SC/ST (अनूसूचित जाति एवं जनजाति) अदालत ने दोषी करार दिया है। फैसला आने से पहले कई जगह प्रार्थनाओं का दौर जारी था। आसाराम के समर्थक आश्रम पहुंचकर उनकी सलामती के लिए प्रार्थना कर रहे थे। वहीं दूसरी तरफ कोर्ट में सजा की बहस चलने के दौरान आसाराम रो पड़े। उन्होंने उम्र का हवाला देते हुए कम सजा देने की मांग की।
फोटो: ANI

फोटो: ANI

2
अदालत ने आसाराम समेत तीन आरोपियों को दोषी करार दिया गया है, जबकि दो अन्य आरोपी बरी हो गए हैं। अदालत की तरफ से आज ही उनकी सजा का भी ऐलान किया जाएगा।
फोटो: ANI

फोटो: ANI

3
आसाराम को न्यूनतम 10 साल की सजा हो सकती है। आसाराम के वकील उनकी अधिक उम्र का हवाला देते हुए कम से कम सजा दिए जाने की मांग कर रहे हैं।
फोटो: ANI

फोटो: ANI

4
साल 2013 में यूपी के शाहजहांपुर की एक 16 साल की लड़की ने आसाराम पर उनके जोधपुर आश्रम में रेप करने का आरोप लगाया था। दिल्ली के कमला मार्केट थाने में यह मामला दर्ज कराया गया था। फिर केस को जोधपुर स्थानांतरित कर दिया गया।
फोटो: ANI

फोटो: ANI

5
2013 में आसाराम को जोधपुर केस में गिरफ्तार कर लिया गया। इसके दो महीने बाद ही गुजरात के सूरत की दो बहनों ने आसाराम और उनके बेटे नारायण साईं पर रेप का आरोप लगाया। बड़ी बहन की शिकायत के मुताबिक, साल 2001 से 2006 तक आसाराम ने कई बार उसका यौन शोषण किया। छोटी बहन ने नारायण साईं पर रेप का आरोप लगाया। दिसंबर 2013 में नारायण साईं को भी गिरफ्तार कर लिया गया।
फोटो: ANI

फोटो: ANI

6
दोषी करार दिए जाने के बाद आसाराम की प्रवक्ता नीलम दुबे ने बताया कि वह अन्य कानूनी विकल्पों पर विचार करेंगे।