News Nation Logo
Banner

'क क किरण' से लेकर 'पिक्चर अभी बाकी है..', शाहरुख खान की फिल्मों के ये हैं फेमस डायलॉग

जिंदगी में कुछ बनना हो, कुछ हासिल करना हो, कुछ जीतना हो तो हमेशा अपने दिल की सुनो और अगर दिल से भी कोई जवाब ना आए तो आंखें बंद करके मां और बाबा का नाम लो, फिर देखना तुम हर मुश्किल आसान हो जाएगी 'कभी खुशी कभी गम' का ये डायलॉग भले ही थोड़ा लंबा हो, लेकिन दिल को छू लेने वाला है। शाहरुख खान की फिल्म के कई ऐसे डायलॉग्स हैं, जो सदाबहार हैं। हम आपको उनकी फिल्मों के कुछ ऐसे ही डायलॉग्स के बारे में बताने जा रहे हैं, जो शायद ही आप भूल सकें।

News Nation Bureau | Updated : 02 November 2017, 02:44:40 PM
शाहरुख खान (फाइल फोटो)

शाहरुख खान (फाइल फोटो)

1
'जिंदगी में कुछ बनना हो, कुछ हासिल करना हो, कुछ जीतना हो तो हमेशा अपने दिल की सुनो.. और अगर दिल से भी कोई जवाब ना आए तो आंखें बंद करके मां और बाबा का नाम लो, फिर देखना तुम हर मुश्किल आसान हो जाएगी... 'कभी खुशी कभी गम' का ये डायलॉग भले ही थोड़ा लंबा हो, लेकिन दिल को छू लेने वाला है। शाहरुख खान की फिल्म के कई ऐसे डायलॉग्स हैं, जो सदाबहार हैं। हम आपको उनकी फिल्मों के कुछ ऐसे ही डायलॉग्स के बारे में बताने जा रहे हैं, जो शायद ही आप भूल सकें।
1.  देवदास (2002)

1. देवदास (2002)

2
'कौन कम्बख्त बर्दाश्त करने के लिए पीता है, हम तो पीते हैं कि यहां पर बैठ सकें, तुम्हें देख सकें, तुम्हें बर्दाश्त कर सकें...' ये डायलॉग तो आपको जरूर याद होगा। साल 2002 में रिलीज हुई फिल्म 'देवदास' का ये डायलॉग बहुत हिट हुआ था।
2. कुछ कुछ होता है (1998)

2. कुछ कुछ होता है (1998)

3
'हम एक बार जीते हैं, एक बार मरते हैं, शादी भी एक बार होती है और प्यार.. एक ही बार होता है' प्यार के पंछी ये डायलॉग आज भी बोलते हैं। साल 1998 में रिलीज हुई ब्लॉकबस्टर मूवी 'कुछ कुछ होता है' ने सिखाया कि प्यार और दोस्ती जिंदगी में क्या मायने रखता है।
3. ओम शांति ओम (2007)

3. ओम शांति ओम (2007)

4
'कहते हैं अगर किसी चीज को दिल से चाहो.. तो पूरी कायनात उसे तुमसे मिलाने की कोशिश में लग जाती है...' शाहरुख का ये डायलॉग भी सदाबहार है। 'ओम शांति ओम' साल 2007 में रिलीज हुई थी और बॉक्स ऑफिस पर ताबड़तोड़ कमाई की थी। दीपिका पादुकोण ने इसी फिल्म से बॉलीवुड में डेब्यू किया था।
4. मोहब्बतें (2000)

4. मोहब्बतें (2000)

5
'दुनिया में कितनी है नफरतें, फिर भी दिलों में है चाहते... जिंदा रहती हैं उनकी मोहब्बतें' यह डायलॉग भी खूब मशहूर है। साल 2000 में रिलीज हुई फिल्म 'मोहब्बतें' स्टूडेंट्स लाइफ और प्यार के इर्द गिर्द बुनी हुई है।
5. बाजीगर (1993)

5. बाजीगर (1993)

6
'कभी कभी जीतने के लिए कुछ हारना भी पड़ता है.. और हार कर जीतने वाले को बाजीगर कहते हैं..' बाजीगर फिल्म का यह डायलॉग लोग आज भी बोलते हैं। यह मूवी शाहरुख खान के लिए टर्निंग प्वाइंट साबित हुई और उन्हें फिल्म इंडस्ट्री में पहचान दिलाई।
6. चेन्नई एक्सप्रेस (2013)

6. चेन्नई एक्सप्रेस (2013)

7
एक बार फिर शाहरुख खान और दीपिका पादुकोण 'चेन्नई एक्सप्रेस' में नजर आए और फिर फिल्म हिट साबित हुई। दीपिका जब भी शाहरुख का मजाक उड़ाती थीं, तब शाहरुख खान 'डॉन्ट अंडरएस्टिमेट द पावर ऑफ ए कॉमन मैन' बोलते थे। उनके डायलॉग बोलने के अंदाज को भी लोगों ने खूब पसंद किया।
7. दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे (1995)

7. दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे (1995)

8
'दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे' साल 1995 की ऐसी फिल्म थी, जिसने बॉक्स ऑफिस पर कई रिकॉर्ड्स बनाए।
8. दिल तो पागल है (1995)

8. दिल तो पागल है (1995)

9
'दिल तो पागल है' फिल्म को भी लोगों ने खूब प्यार दिया। करिश्मा, माधुरी और शाहरुख की जोड़ी को खूब पसंद किया गया।
9. माई नेम इज खान (2010)

9. माई नेम इज खान (2010)

10
'माई नेम इज खान.. एंड आई एम नॉट ए टेरेरिस्ट' विवाद की वजह से भी सुर्खियो में रहा।
10. कुछ कुछ होता है (1998)

10. कुछ कुछ होता है (1998)

11
'प्यार दोस्ती है' भले ही ये छोटा सा डायलॉग है, लेकिन लोग आज भी अपने दोस्तों से बोलते हैं।
×