News Nation Logo
Banner

PICS: देशभर में नागपंचमी की धूम, नागों को दूध पिलाने के लिए उमड़े श्रद्धालु

सावन में भगवान शिव शंकर के श्रद्धालु उन्हें मनाने में जुट गए हैं। ऐसे में सावन मास के शुक्ल पक्ष की तिथि को देशभर में धूमधाम से नागपंचमी मनाई जा रही है। इस बार नागपंचमी शुक्रवार को सिद्धि योग उत्तरा फाल्गुनी नक्षत्र कन्या राशि के चंद्रमा में सूर्य, मंगल की युक्ति के संयोग में है।

News Nation Bureau | Updated : 28 July 2017, 09:15:13 AM
नागपंचमी

नागपंचमी

1
सावन में भगवान शिव शंकर के श्रद्धालु उन्हें मनाने में जुट गए हैं। ऐसे में सावन मास के शुक्ल पक्ष की तिथि को देशभर में धूमधाम से नागपंचमी मनाई जा रही है। इस बार नागपंचमी शुक्रवार को सिद्धि योग उत्तरा फाल्गुनी नक्षत्र कन्या राशि के चंद्रमा में सूर्य, मंगल की युक्ति के संयोग में है।
नागपंचमी

नागपंचमी

2
हिंदु धर्म में नागपंचमी पूजा का विशेष महत्व माना जाता है। खास बात यह है कि जो लोग कालसर्प दोष से पीड़ित होते हैं, वे नागों की पूजा कराकर कालसर्प दोष को दूर कर सकते हैं।
नागपंचमी

नागपंचमी

3
इस दिन नागों के दर्शन करने से सभी पापों से मुक्ति मिल जाती है। इसके साथ ही भगवान शिव भी प्रसन्न होते हैं।
नागपंचमी

नागपंचमी

4
नागपंचमी पर उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर खूबसूरत नजारा देखते ही बनता है।
नागपंचमी

नागपंचमी

5
जिन लोगों की कुंडली में काल सर्प योग, अंगारक योग, केम द्रुम योग, गुरू चांडाल योग हो तो उनक लिए नागों की पूजा का विशेष विधान है।
नागपंचमी

नागपंचमी

6
नागों के पूजन से मनवांछित फल की कामना पूर्ति होती है।
नागपंचमी

नागपंचमी

7
शिवमहापुराण में कहा जाता है कि करोड़ों शिवलिंगों के पूजन से जो फल प्राप्त होता है, उससे भी करोड़ों गुना अधिक फल नागों को दूध पिलाने और उसने दर्शन से होता है।