News Nation Logo
Banner

जानिए कब-कब झारखंड में किस-किस दल की सरकार रही

झारखंड विधानसभा चुनाव के नतीजों से पहले सूबे के सियासी दलों की धड़कन बढ़ी हुई हैं. सभी दल हिसाब-किताब लगाने में जुट हैं कि उन्हें इस बार सत्ता मिलेगी भी या नहीं मिलेगी.

News Nation Bureau | Updated : 22 December 2019, 03:16:11 PM
झारखंड के मुख्यमंत्री (फाइल फोटो)

झारखंड के मुख्यमंत्री (फाइल फोटो)

1

झारखंड विधानसभा चुनाव के नतीजों से पहले सूबे के सियासी दलों की धड़कन बढ़ी हुई हैं. सभी दल हिसाब-किताब लगाने में जुट हैं कि उन्हें इस बार सत्ता मिलेगी भी या नहीं मिलेगी. 15 नवंबर 2000 को गठित झारखंड राज्य के अंदर अब तक 4 विधानसभा चुनाव हुए हैं. 2019 में 5वीं बार राज्य में मतदान संपन्न हो चुका है, लेकिन अभी नतीजे आने वाले हैं. 19 साल पुराने इस राज्य में 10 बार मुख्यमंत्री बदले गए. कुल 6 मुख्यमंत्रियों ने अब तक सरकार चलाई है.

बाबूलाल मरांडी-अर्जुन मुंडा (फाइल फोटो)

बाबूलाल मरांडी-अर्जुन मुंडा (फाइल फोटो)

2

झारखंड में साल 2000 में पहली बार विधानसभा का चुनाव हुआ और उस समय भारतीय जनता पार्टी के हाथ सत्ता लगी. बाबूलाल मरांडी झारखंड राज्य के पहले मुख्यमंत्री बने. वो 15 नवंबर 2000 से 17 मार्च 2003 तक इस पद पर रहे. हालांकि बाद में बीजेपी के ही अर्जुन मुंडा को यह कुर्सी मिली. अर्जुन मुंडा ने 18 मार्च 2003 से 01 मार्च 2005 तक राज्य की कमान संभाली.

मधु कोडा-शिबू सोरेन-अर्जुन मुंडा (फाइल फोटो)

मधु कोडा-शिबू सोरेन-अर्जुन मुंडा (फाइल फोटो)

3

2005 में दूसरी बार झारखंड में विधानसभा के चुनाव हुए. उन 5 सालों में ही सूबे के अंदर 4 बार मुख्यमंत्री बदल गए. मुख्यमंत्री की कुर्सी पर एक बार बीजेपी और दो बार झामुमो रही. इसके अलावा निर्दलीय जीते मधु कोडा ने कई विपक्षी दलों के साथ मिलकर सरकार बनाई. झामुमो के शिबू सोरेन 02 मार्च 2005 से 11 मार्च 2005 सीएम बने. फिर बीजेपी के अर्जुन मुंडा ने 12 मार्च 2005 से 14 सितम्बर 2006 सत्ता चलाई. मधु कोडा 18 सितंबर 2006 से 24 अगस्त 2008 तक राज्य के मुख्यमंत्री रहे. आखिर में फिर से शिबू सोरेन के हाथ में सत्ता आई और वो 27 अगस्त 2008 से 12 जनवरी 2009 सीएम रहे.

शिबू सोरेन-अर्जुन मुंडा-हेमंत सोरेन (फाइल फोटो)

शिबू सोरेन-अर्जुन मुंडा-हेमंत सोरेन (फाइल फोटो)

4

2009 में हुए चुनाव के बाद झामुमो ने सरकार बनाई. शिबू सोरेन 30 दिसंबर 2009 से 31 मई 2010 मुख्यमंत्री पद पर रहे. बाद में यहां की सत्ता बीजेपी के हाथों में चली गई. अर्जुन मुंडा ने 11 सितंबर 2010 से 18 जनवरी 2013 तक राज्य की कमान संभाली. लेकिन बीजेपी की सरकार भी ज्यादा दिन नहीं चली. यहां फिर से झामुमो ने सरकार बनाई और हेमंत सोरेन ( 13 जुलाई 2013 से 23 दिसंबर 2014 तक) को मुख्यमंत्री बनाया गया.

रघुबर दास (फाइल फोटो)

रघुबर दास (फाइल फोटो)

5

2014 में झारखंड के अंदर चौथी बार विधानसभा के चुनाव हुए. पिछले 5 सालों में झारखंड को पहली बार एक स्थिर सरकार मिली. चुनाव के नतीजों में बीजेपी को बहुतम नहीं मिला था, लेकिन बाद में झाविमो के विधायकों को तोड़कर बीजेपी ने सरकार बनाई और लगातार 5 साल तक रघुबर दास ने झारखंड को स्थिर सरकार दी.

×