News Nation Logo

नहीं रहे चाय बेच पत्नी संग 26 देशों की यात्रा करने वाले विजयन

अंतर्राष्ट्रीय मीडिया द्वारा कवर किए गए, स्पॉन्सरशिप भी आई और इस जोड़ी के लिए जिन लोगों ने मदद की उनमें अमिताभ बच्चन, शशि थरूर और आनंद महिंद्रा शामिल हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 20 Nov 2021, 08:13:03 AM
Tea Sailer

पत्नी संग अपनी चाय की दुकान में बैठते थे के. विजयन. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • 16 वर्षों में अपनी पत्नी के साथ 26 देशों की यात्रा की
  • 76 वर्षीय ने चाय बेच-बेच कर जुटाए घूमने के लिए पैसे
  • कल हुई चाय दुकान के मालिक की कार्डियकअरेस्ट से मौत

कोच्चि:

पिछले 16 वर्षों में अपनी पत्नी के साथ 26 देशों की यात्रा करने वाले 76 वर्षीय चाय की दुकान के मालिक की शुक्रवार को कार्डियकअरेस्ट से मौत हो गई. श्री बालाजी कॉफी हाउस के मालिक के.आर. विजयन और उनकी पत्नी विदेशी यात्रा के लिए बिक्री आय से हर दिन 300 रुपये बचाते थे. कई लोगों के लिए एक नायक विजयन और उनकी पत्नी पिछले महीने रूस के दौरे से लौटे थे, जो जाहिर तौर पर उनकी आखिरी विदेश यात्रा थी. भारत के अधिकांश हिस्सों को कवर करने के बाद, 2005 में उन्होंने मिस्र की अपनी पहली विदेश यात्रा के लिए उड़ान भरी और तब से अमेरिका, जर्मनी और कई अन्य देशों में गए. जानकारी के मुताबिक जब उन्होंने अपने पिता की मदद करना शुरू किया था, तब यात्रा का जुनून शुरू हुआ था और जब उन्होंने 27 साल पहले चाय की दुकान शुरू की थी.

यात्रा से काफी दिन पहले से वे चाय की दुकान पर उसकी सूचना एक पोस्‍टर के रूप में लगा देते थे. उनकी दुकान पर उनकी पत्‍नी चाय और नाश्‍ता बनाने का काम करती थीं तो स्‍वयं विजयन भी चाय बनाते थे. उन्‍होंने पहले देश के प्राय: सभी धार्मिक और पर्यटन स्थलों की यात्रा की. उन्‍होंने भगवान बालाजी के मंदिर में 100 से अधिक बार दर्शन किए थे. इसके बाद वे देश के बाहर की यात्राएं भी करने लगे. विजयन ने मीडिया से अपनी यात्राओं को लेकर कहा था कि यात्रा मेरे खून में है. अनुभव सबसे अच्छा शिक्षक है और यात्रा सबसे अच्छा अनुभव, जो आपको अमीर बनाता है.

कोच्चि में ‘श्री बालाजी कॉफी हाउस’ के मालिक विजयन और उनकी पत्नी मोहना अपनी कमाई से विश्व भ्रमण के लिए काफी मशहूर हुए. यह दंपति हाल में रूस की यात्रा से लौटा था. रूस जाने के पहले विजयन ने कहा था कि वे अक्टूबर क्रांति की वर्षगांठ देखना चाहते हैं, जिसमें बोल्शेविक पार्टी ने 1917 में रूस में सत्ता पर कब्जा कर लिया था. वे शांत बहने वाले वोल्गा नदी को करीब से देखने के लिए काफी उत्‍साहित थे. भले ही उन्होंने अपनी यात्रा के लिए बचत की, जब वे एक नायक बन गए और अंतर्राष्ट्रीय मीडिया द्वारा कवर किए गए, स्पॉन्सरशिप भी आई और इस जोड़ी के लिए जिन लोगों ने मदद की उनमें अमिताभ बच्चन, शशि थरूर और आनंद महिंद्रा शामिल हैं.

उनके कारनामों के बारे में सुनने के बाद हाल ही में राज्य के पर्यटन मंत्री पी.ए. मोहम्मद रियास उनसे मिलने आए और चाय पीने के बाद उनकी राय पूछी कि केरल में पर्यटन को 'सर्वोत्तम तरीके' से कैसे बढ़ावा दिया जा सकता है. उन्होंने जवाब दिया, 'सफाई और पर्यटकों के प्रति रवैया .. अगर ये हैं, तो चीजें बहुत बेहतर होंगी.' जाने-माने लेखक एन एस माधवन ने ट्वीट किया, ‘दुनिया के कई देशों की यात्राएं करने वाले एर्नाकुलम के चाय-विक्रेता विजयन का निधन. वह अभी रूस से लौटे थे, जहां पुतिन से उनके मिलने की इच्छा थी.’ विजयन के परिवार में पत्नी, दो बेटियां शशिकला, उषा और तीन नाती-नातिन हैं.

First Published : 20 Nov 2021, 08:13:03 AM

For all the Latest Offbeat News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.