News Nation Logo

एमआरआई मशीन में क्यों 20 साल पहले कराया गया संभोग!

20 साल पहले ऐसा हुआ था और अब 'सहवास और महिला यौन उत्तेजना के दौरान पुरुष और महिला जननांगों के मैग्नेटिक रेजोनेंस इमेजिंग' शीर्षक का लेख मेडिकल जर्नल बीएमजे के सबसे अधिक डाउनलोड किए गए लेखों में से एक बन गया है.

IANS | Updated on: 24 Dec 2019, 08:03:04 AM
एमआरआई मशीन में क्यों 20 साल पहले कराया गया संभोग!

एमआरआई मशीन में क्यों 20 साल पहले कराया गया संभोग! (Photo Credit: IANS)

लंदन :

Sex In the MRI Machine : आपको शायद इस बात पर विश्वास ना हो लेकिन वैज्ञानिकों की एक टीम ने वास्तव में लोगों से मैग्नेटिक रेजोनेंस इमेजिंग (MRI) स्कैनर के अंदर सेक्स करने के लिए कहा था ताकि वे यह पता लगा सकें कि 'सहवास के दौरान पुरुष और महिला के जननांगों की तस्वीरें लेना संभव है या नहीं?' 20 साल पहले ऐसा हुआ था और अब 'सहवास और महिला यौन उत्तेजना के दौरान पुरुष और महिला जननांगों के मैग्नेटिक रेजोनेंस इमेजिंग' शीर्षक का लेख मेडिकल जर्नल बीएमजे के सबसे अधिक डाउनलोड किए गए लेखों में से एक बन गया है.

यह भी पढ़ें : उत्‍तर प्रदेश में CAA के विरोध प्रदर्शन में अब तक 15 जानें गईं, 705 लोग गिरफ्तार

इसमें जिस बात का पता चला शायद ही वह चांद पर इंसान के कदम रखने जितनी हो, लेकिन इस रिसर्च के पेपर्स पॉपुलर हो गए हैं. शायद यह इसलिए क्योंकि मुफ्त में लोगों का आकर्षण स्क्रीन पर सहवास देखने की संभावना का हो. फिर चाहे देखने में सब ब्लैक एंड व्हाइट जैसा क्यों ना प्रतीत हो.

डच वैज्ञानिकों की टीम द्वारा किए गए इस प्रकार के प्रयोगों में से एक का उद्देश्य यह पता लगाना था कि संभोग और महिला यौन उत्तेजना के दौरान शरीर रचना के बारे में पूर्व व वर्तमान विचार मान्यताओं पर आधारित हैं या तथ्यों पर.

यह भी पढ़ें : पीएम नरेंद्र मोदी जल्‍द कर सकते हैं मंत्रिपरिषद का विस्‍तार, कई मंत्रियों का भार कम होगा

मुख्य निष्कर्ष 13 प्रयोगों में से हैं, जिसमें से आठ दंपति और तीन एकल महिलाओं के साथ किए गए 'मिशनरी पोजीशन' में सेक्स के दौरान पुरुष यौन अंग एक बूमरैंग के आकार का प्रतीत होता है. इसमें यह भी पाया गया कि यौन उत्तेजना के दौरान गर्भाशय का आकर बढ़ता नहीं है.

For all the Latest Offbeat News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

First Published : 24 Dec 2019, 08:03:04 AM