News Nation Logo
Banner

एक हीरे को लेकर बीते तीन दशकों से टूटे हुए थे संबंध, अब सऊदी अरब पिघला

थाईलैंड के पीएम प्रयुत चान-ओचा की सऊदी अरब की आधिकारिक यात्रा के बाद  दोनों देशों ने यह फैसला लिया.

News Nation Bureau | Edited By : Mohit Saxena | Updated on: 26 Jan 2022, 03:21:00 PM
saudi arabia

सऊदी अरब ने थाईलैंड के साथ सभी राजनयिक संबंधों की बहाली की (Photo Credit: ani)

highlights

  • चोरी की घटना की वजह से थाईलैंड के साथ सभी राजनयिक संबंधों को खत्म कर दिया था
  • इस चोरी के कारण कई रहस्यमयी हत्याएं भी हुई थीं
  • इसे 'ब्लू डायमंड' मामले के रूप में जाना जाता है

नई दिल्ली:  

सऊदी अरब ने थाईलैंड के साथ सभी राजनयिक संबंधों की बहाली का मंगलवार को आदेश दिया. उन्होंने कहा कि देशों ने आभूषण की चोरी की एक सनसनीखेज घटना  के बाद से उपजे तीन दशक पुराने अविश्वास और शत्रुता को समाप्त करने का निर्णय लिया गया है. थाईलैंड के पीएम प्रयुत चान-ओचा की सऊदी अरब की आधिकारिक यात्रा के बाद  दोनों देशों ने यह फैसला लिया.  यह 1989 के घटनाक्रम को लेकर रिश्ते खराब होने  के बाद से दोनों देशों के बीच सबसे ऊंचे स्तर की बैठक है.

सऊदी अरब ने इस  चोरी की घटना की वजह से थाईलैंड के साथ सभी राजनयिक संबंधों को खत्म कर दिया था. इस चोरी के कारण कई रहस्यमयी हत्याएं भी हुई थीं. इसे 'ब्लू डायमंड' मामले के रूप में जाना जाता है.

शाही महल में हुईं बैठकों के बाद आधिकारिक सऊदी प्रेस एजेंसी ने मंगलवार देर रात एक बयान में कहा कि सऊदी अरब के शहजादे मोहम्मद बिन सलमान ने प्रयुत के  साथ वार्ता की और चोरी संबंधी मामले को भुलाकर दोनों देशों के बीच आर्थिक, सुरक्षा एवं राजनीतिक रिश्ते मजबूत करने पर सहमति जताई. बयान के अनुसार दोनों देश ऊर्जा और पेट्रोरसायन से लेकर पर्यटन और आतिथ्य-सत्कार तक विभिन्न क्षेत्रों में संयुक्त निवेश के मार्ग की तलाश करेंगे. इस बीच, 'सऊदी अरेबियन एयरलाइंस' ने कहा कि वह मई में रियाद से बैंकॉक तक सीधी उड़ानें शुरू करेगी.

91 किलो के गहने और अन्य मूल्यवान रत्नों की चोरी हुई 

1989 में एक प्रिंस फैसल बिन फहद के महल से 91 किलो के गहने और अन्य मूल्यवान रत्नों की चोरी हुई थी. ये चोरी एक थाई नागरिक क्रिआंगक्राई टेकामोंग ने की थी. वह यहां पर नौकर के तौर पर काम करता था. चोरी के बाद गहनों को महल में एक वैक्यूम क्लीनर बैग में छिपाया गया था. इसमें एक मूल्यवान 50 कैरेट का ब्लू डायमंड समेत कई बहूमूल्य रत्न शामिल थे.

क्रिआंगक्राई थाईलैंड के लैम्पांग प्रांत में स्थित अपने घर में इन गहनों को भेजने में कामयाब रहा था. मगर गहनों को निपटाना उसके लिए काफी कठिन साबित हुआ. उसने गहनों को कम दाम पर बेचना शुरू कर दिया. मगर कुछ ही दिनों बाद वह  शक के दायरे में आ गया. रॉयल थाई पुलिस ने उसे धर दबोचा. सभी गहनों की बरामदगी हुई और क्रिआंगक्राई को सात वर्ष जेल की सजा सुनाई थी.

लौटाए गए करीब आधे गहने नकली साबित हुए

थाई पुलिस सऊदी अरब के गहने को वापस करने के लिए आई. यहां सऊदी अधिकारियों ने पाया कि इसमें ब्लू डायमंड नहीं था और लौटाए गए करीब आधे  गहने नकली साबित हुए. ऐसी रिपोर्ट सामने आई हैं, जिसमें यह बताया गया कि थाई राजकुमारियों और रानियों ने उन गहनों को अपने पास रख लिया. इस बीच सऊदी रॉयल परिवार से नजदीकी रिश्ते रखने वाले मोहम्मद अल रुवैली  अपने स्तर पर मामले की जांच करने के लिए थाईलैंड की राजधानी बैंकाक पहुंचे. लेकिन यहां रहस्यमय हालात में उनकी मौत हो गई. उसी समय थाईलैंड में तीन सऊदी डिप्लोमैट की भी हत्या हो गई. इन हत्याओं को लेकर दोनों देशों के बीच संबंध खराब होते चले गए. आगे सभी संबंध पूरी तरह खत्म हो गए.

 

First Published : 26 Jan 2022, 03:19:36 PM

For all the Latest Offbeat News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.