News Nation Logo

15 साल तक नहीं गया नौकरी पर फिर भी आती रही सैलरी, ऐसे हुआ खुलासा

शख्स ने कोई काम ना करके भी 4.8 करोड़ रुपये कमा लिए. सुनने में अजीब है, लेकिन ये सच है. इटली के एक अस्पताल में काम करने वाला एक कर्मचारी 15 सालों से अपने काम पर नहीं गया लेकिन उसे हर महीने बराबर सैलरी मिली है.

News Nation Bureau | Edited By : Karm Raj Mishra | Updated on: 28 Apr 2021, 02:11:19 PM
Italy Police

Italy Police (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • युवक 15 साल तक नौकरी पर नहीं गया
  • काम ना करके भी 4.8 करोड़ रुपये कमा लिए
  • एक अस्पताल में काम करता था कर्मचारी

नई दिल्ली:

आज के समय में नौकरी लगना काफी मुश्किल काम है. नौकरी वाला इंसान जब पूरे महीने अपना पसीना बहाता है, तब कहीं उसको सैलरी मिलती है. लेकिन इटली का ये किस्सा सुनकर यकीनन चौंक जाएंगे. दरअसल इटली में एक मामला ऐसा सामने आया जिसमें शख्स 15 साल तक नौकरी पर नहीं गया, लेकिन हर महीने उसकी सैलरी आती रही. उस शख्स ने कोई काम ना करके भी 4.8 करोड़ रुपये कमा लिए. सुनने में अजीब है, लेकिन ये सच है. इटली के एक अस्पताल में काम करने वाला एक कर्मचारी 15 सालों से अपने काम पर नहीं गया लेकिन उसे हर महीने बराबर सैलरी मिली है. पुलिस ने जानकारी दी कि शख्स ने साल 2005 में ही काम करना बंद कर दिया था लेकिन इसके बाद भी उसे वेतन मिलता रहा. 

ये भी पढ़ें- आखिर कैसे हुआ चीन के एक गरीब गांव का कायापलट?

‘एब्सेंट होने का मसीहा’ का टाइटल मिला

हालांकि जब इस बात का खुलासा हुआ तो इटली के अधिकारियों के होश उड़ गए. और अब इस शख्स को दुनिया ‘एब्सेंट होने का मसीहा’ कह रही है. रिपोर्ट के मुताबिक, शख्स पर धोखाधड़ी, जबरन वसूली और ऑफिस के दुरुपयोग के आरोप लगाए गए हैं. साथ ही अस्पताल के 6 मैनेजरों के खिलाफ भी एक्शन लिया गया है. क्योंकि उन्होंने शख्स के एब्सेंट रहने के बाद भी मामले में कोई ठोस कदम नहीं उठाया. इस व्यक्ति की उम्र 67 साल बताई जा रही है जिसे 15 साल में 5.38 लाख यूरो यानी करीब 4.8 करोड़ रुपये सैलरी मिली.

मैनेजर को दी थी धमकी

इटली के सार्वजनिक क्षेत्र में इस तरह के मामले आते रहते हैं. पुलिस जांच में सामने आया कि आरोपी शख्स ने 2005 में अपने मैनेजर को धमकी दी थी, क्योंकि वो उसके खिलाफ अनुशासनात्मक रिपोर्ट दर्ज करने जा रही थी. बाद में मैनेजर रिटायर हो गई और कर्मचारी अनुपस्थित रहने लगा. पुलिस ने इस मामले की जांच के दौरान बताया कि एचआर विभाग और नई मैनेजर को कभी इस मामले के बारे में कोई जानकारी नहीं मिली.

ये भी पढ़ें- अजबः बौद्ध भिक्षु ने भगवान बुद्ध के चरणों में सिर काट कर चढ़ाया

किसी ने नहीं की कार्रवाई

पुलिस ने स्थानीय मीडिया को बताया कि किसी ने यह जानने की कोशिश नहीं की कि आरोपी कार्यालय क्यों नहीं आ रहा है. और इसके बाद भी आरोपी को वेतन मिलता रहा. पुलिस अधिकारियों को शक है कि इस मामले में अस्पताल के कुछ बड़े अधिकारी भी शामिल हो सकते हैं. इसलिए पुलिस हर पहलू से जांच कर रही है.

First Published : 28 Apr 2021, 02:11:19 PM

For all the Latest Offbeat News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.