News Nation Logo
Banner

86 की उम्र में पास की 10वीं की परीक्षा, वह भी 88 फीसदी नंबरों से

हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला (Om Prakash Chautala) अंग्रेजी के पेपर में पास होने के साथ ही अब दसवीं कक्षा में पास हो गए हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 05 Sep 2021, 11:37:00 AM
Om Prakash Chautala

पूर्व मुख्यमंत्री अब फर्स्ट क्‍लास में 10वीं कक्षा पास कर चुके हैं. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • 10वीं का अंग्रेजी विषय का र‍िजल्‍ट न आने से 12वीं का परिणाम रुका था
  • अंग्रेजी के अंकों को जोड़ने के बाद चौटाला अब फर्स्ट क्‍लास में 10वीं पास
  • हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री चौटाला ने 88 प्रतिशत नंबर हास‍िल किए

नई दिल्ली:

हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला (Om Prakash Chautala) अंग्रेजी के पेपर में पास होने के साथ ही अब दसवीं कक्षा में पास हो गए हैं. 86 साल के चौटाला ने बीते 18 अगस्त को अंग्रेजी विषय की परीक्षा दी थी. इसका परिणाम शन‍िवार को घोषित हुआ. इसमें चौटाला ने 88 प्रतिशत नंबर हास‍िल किए हैं. दसवीं ओपन की परीक्षा के र‍िजल्‍ट की घोषणा के बाद शिक्षा बोर्ड चेयरमैन डॉ. जगबीर सिंह ने चौटाला को फोन कर उनके 10वीं के परिणाम की सूचना दी. इससे पहले अंग्रेजी विषय के अंकों को जोड़े बगैर अन्य विषयों में उनके लगभग 54 प्रतिशत अंक थे.

हरियाणा बोर्ड ने रोक रखा था 12वीं का परिणाम
सिंह ने बताया कि चौटाला का 10वीं का अंग्रेजी विषय का र‍िजल्‍ट न आने के चलते हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड ने उनका 12वीं का परिणाम भी रोक रखा है. उन्होंने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री को अब एक प्रार्थना पत्र बोर्ड को देना होगा, जिसमें इस बात का ज‍िक्र हो कि उनका 10वीं का परिणाम घोषित कर दिया गया है और उनका 12वीं का रुका हुआ र‍िजल्‍ट भी घोषित किया जाए. उन्होंने कहा कि इसके बाद हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड सोमवार को उनका 12वीं का परीक्षा परिणाम भी घोषित करने में सक्षम हो पाएगा.

सिरसा के IS सीनियर सेकंडरी स्कूल में दी थी परीक्षा
दरअसल 10वीं ओपन की अंग्रेजी विषय की परीक्षा पूर्व मुख्यमंत्री ने सिरसा स्थित आईएस सीनियर सेकंडरी स्कूल में राइटर के माध्यम से दी थी. अंग्रेजी विषय के अंकों को जोड़ने के बाद पूर्व मुख्यमंत्री अब फर्स्ट क्‍लास में 10वीं कक्षा पास कर चुके हैं. इससे पहले अंग्रेजी विषय के अंकों को जोड़े बगैर अन्य विषयों में उनके लगभग 54 प्रतिशत अंक थे. बोर्ड अध्यक्ष डॉ. जगबीर सिंह ने बताया कि सैकेंडरी अतिरिक्त विषय, अंक सुधार व विशेष अवसर परीक्षा का परिणाम 84.80 प्रतिशत रहा है. उन्होंने बताया कि इस परीक्षा में 3,697 परीक्षार्थी प्रविष्ट हुए थे, जिनमें से 3,135 उत्तीर्ण हुए व 562 परीक्षार्थी अनुतीर्ण रहे. इनमें से 2,196 छात्र थे जिसमें से 1,829 छात्र पास हुए, जिनकी पास प्रतिशतता 83.29 रही. 1,501 छात्राएं थी जिनमें से 1,306 पास हुई, जिनकी पास प्रतिशतता 87.01 रही.

First Published : 05 Sep 2021, 11:37:00 AM

For all the Latest Offbeat News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.