News Nation Logo
Banner

चिता पर लेटकर सिर हिलाने लगी 'लाश', डर के मारे श्मशान घाट से भाग गए लोग और फिर...

55 साल के सीमांच मलिक अपनी भेड़-बकरियों को चराने के लिए जंगल की ओर लेकर गए थे. अंधेरा ढलने पर उनके जानवर तो घर लौट आए लेकिन सीमांच वापस नहीं लौटे.

By : Sunil Chaurasia | Updated on: 14 Oct 2019, 05:20:32 PM
सांकेतिक तस्वीर

सांकेतिक तस्वीर (Photo Credit: न्यूज स्टेट लाइब्रेरी)

नई दिल्ली:

ओडिशा के गंजम जिले से एक बेहद ही हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. यहां के कपकहाला गांव में एक शख्स चिता पर आग की भेंट चढ़ने से ठीक पहले अपना सिर हिलाने लगा. श्मशान घाट पर ऐसा नजारा देख वहां मौजूद सभी लोग डर के मारे वहां से भाग गए. पूरा मामला बीते शनिवार को बताया जा रहा है जब 55 साल के सीमांच मलिक अपनी भेड़-बकरियों को चराने के लिए जंगल की ओर लेकर गए थे. अंधेरा ढलने पर उनके जानवर तो घर लौट आए लेकिन सीमांच वापस नहीं लौटे.

ये भी पढ़ें- INDW vs SAW: भारत ने दक्षिण अफ्रीका को 6 रनों से हराया, 3-0 से जीती सीरीज

अगले दिन रविवार की सुबह स्थानीय लोगों ने सीमांच को बेसुध स्थिति में देखा, जिसके बाद वे उन्हें उठाकर घर ले गए. सीमांच की ऐसी हालत देख परिजन उन्हें मृत समझकर अंतिम संस्कार के लिए श्मशान घाट ले गए थे. सीमांच को मृत समझकर उन्हें जलाने की तैयारी की जा रही थी तभी वे अपना सिर हिलाने लगे. पहले तो लोग डर के मारे वहां से भाग गए, लेकिन थोड़ी देर बाद वे उन्हें नजदीकी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लेकर पहुंचे.

ये भी पढ़ें- हवा में ही क्रैश हो गया विमान, लेकिन यमराज को टोपी पहनाकर कुछ इस तरह बच गए दोनों लोग

डॉक्टरों ने सीमांच की जांच कर बताया कि वे बिल्कुल ठीक हैं. सीमांच का प्राथमिक उपचार करने के बाद डॉक्टरों ने उन्हें छुट्टी दे दी. डॉक्टरों की मानें तो तेज बुखार की वजह से सीमांच बेहोश हो गए थे और उनकी हालत काफी बिगड़ गई थी. जहां एक ओर सीमांच के परिजन उन्हें सही-सलामत देखकर बहुत खुश हैं तो उन्हें इस बात का भी दुख है कि उन्होंने सीमांच को बिना डॉक्टर को दिखाए ही मृत मान लिया.

First Published : 14 Oct 2019, 05:20:32 PM

For all the Latest Offbeat News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो