News Nation Logo
उत्तर प्रदेश : आज तीन बड़े मामले ज्ञानवापी, श्रीकृष्ण जन्मभूमि मथुरा और ताजमहल पर सुनवाई प्रधानमंत्री आवास पर कैबिनेट और CCEA की बैठक, कुछ MoU समेत अहम मुद्दों पर हो सकता है फैसला कपिल सिब्बल सपा कार्यालय में अखिलेश यादव के साथ मौजूद, बनेंगे राज्यसभा उम्मीदवार राज्यसभा के लिए कपिल सिब्बल, डिंपल यादव और जावेद अली होंगे समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार- सूत्र पंजाब : ग्रुप सी और डी के पदों के लिए पंजाबी योग्यता टेस्ट कंपलसरी, भगवंत मान सरकार का फैसला मथुरा : जिला अदालत में श्रीकृष्ण जन्मभूमि मामले में 31 मई को होगी अगली सुनवाई मुंबई : मोटरसाइकिल पर दोनों सवारों को हेलमेट पहनना अनिवार्य होगा, 15 दिनों में नियम पर अमल यासीन मलिक की सजा पर बहस पूरी- ऑर्डर रिजर्व, दोपहर बाद विशेष NIA कोर्ट सुनाएगी सजा ज्ञानवापी हिंदुओं को सौंपने-पूजा की मांग वाला नया मामला सिविल जज फास्ट ट्रैक कोर्ट में स्थानांतरित अयोध्या : 1 जून को श्रीराम जन्मभूमि मंदिर के गर्भगृह का शिला पूजन होगा, सीएम योगी होंगे शामिल उत्तराखंड : मौसम सामान्य होने के बाद आज दोबारा सुचारू रूप से शुरू हुई चारधाम यात्रा औरंगजेब की कब्र के बाद अब सतारा में मौजूद अफजल खान के कब्र पर बढ़ाई गई सुरक्षा
Banner

'ममता' के आगे हार गया तेंदुआ, CM ने किया सैल्यूट

मां वास्तव में ममता की मूरत होती है. इसका जीता-जागता उदाहरण मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh)में देखने को मिला. एक मां ने खुंखार तेंदुए (leopard) का करीब एक किमी तक पीछा किया.

News Nation Bureau | Edited By : Sunder Singh | Updated on: 02 Dec 2021, 05:08:32 PM
LEOPARD

file photo (Photo Credit: social media)

highlights

  • मां ने एक किमी तक तेंदुए का किया पीछा 
  • तेंदुए के जबड़े से छुड़ाया जिगर का टुकड़ा 
  • मध्य प्रदेश के सीधी जिले की घटना 

नई दिल्ली :  

मां वास्तव में ममता की मूरत होती है. इसका जीता-जागता उदाहरण मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh)में देखने को मिला. एक मां ने खुंखार तेंदुए (leopard) का करीब एक किमी तक पीछा किया. यही नहीं अपने बच्चे को तेंदुए के जबड़े से छुड़ाया. हैरान करने वाली बात ये है कि महिला की बाहदुरी यहीं खत्म नहीं हुई, बल्कि महिला अपने अन्य बच्चों को भी तेंदुए से बचाया. महिला की कहानी सोशल मीडिया पर वायरल होते ही आग की तरह फैल गई. महिला की कहानी जानकार मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chouhan) ट्विट कर महिला की तारीफ की. साथ ही बाहदुर महिला का अभिनंदन किया.

यह भी पढ़ें: अब कुल 65 रुपए प्रति लीटर पर दौड़ेगी आपकी गाड़ी, नितिन गडकरी ने किया ये बड़ा ऐलान

दरअसल, घटना रविवार रात मध्य प्रदेश के सीधी जिले के संजय टाइगर रिजर्व के बफर जोन के बड़ी झरिया गांव में हुई. बताया गया कि जो राज्य की राजधानी भोपाल से 500 से अधिक दूर स्थित है. बैगा जनजाति की महिला किरण अपने तीन बच्चों के साथ आग के पास बैठी थी ताकि उन्हें ठंड न लगे. अचानक एक तेंदुआ वहां दिखाई दिया और पलभर में उसके बेटे राहुल को अपने जबड़े से पकड़ लिया. देखते ही देखते तेंदुआ बच्चे को लेकर भागने लगा. अचानक हुई घटना से महिला सदमे में थी, लेकिन उसने खुद को शांत रखा. टाइगर रिजर्व के निदेशक वाई पी सिंह ने कहा, कि उसने अपने दो अन्य बच्चों को झोपड़ी के अंदर बंद कर दिया.

जंगर की ओर भागी 
साथ ही महिला किरण तेंदुए के पीछे जंगल की ओर भागी. उसने करीब एक किलोमीटर तक तेंदुए का पीछा किया, लेकिन तेंदुए ने झाड़ियों में छिपकर बच्चे को अपने पंजों से पकड़ लिया. किरण भी नहीं मानी. अधिकारी ने बताया, कि वह डंडे से तेंदुए को डराने की कोशिश करती रही और शोर मचाया. तेंदुआ शायद महिला के साहस से डर गया और बच्चे को छोड़ गया. किरण ने तुरंत अपने बेटे को गोद में लिया, लेकिन तेंदुए ने उस पर हमला कर दिया. बामुश्किल महिला ने अपनी व बेटे की जान बचाई. फिलहाल महिला का सरकारी अस्पताल में उपचार चल रहा है.

First Published : 02 Dec 2021, 05:08:04 PM

For all the Latest Offbeat News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.