News Nation Logo

लजीज बिरयानी और जामियानगर में CAA-NRC के विरोध में प्रदर्शन का जानें क्‍या है कनेक्‍शन

प्रदर्शनकारियों के लिए बिरयानी (Biryani) नजदीक के ही जामिया नगर (Jamia Nagar) में तैयार की गई. दोपहर में वेज-नॉन वेज बिरयानी जामिया विश्वविद्यालय परिसर के बाहर वाहनों के जरिए पहुंचाई जाने लगी.

आईएएनएस | Edited By : Sunil Mishra | Updated on: 21 Dec 2019, 02:36:53 PM
लजीज बिरयानी और जामियानगर में CAA Protest का जानें क्‍या है कनेक्‍शन

नई दिल्‍ली:  

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) का विरोध कर रहे उन प्रदर्शनकारियों के लिए शनिवार दोपहर का भोजन चिंता का कारण नहीं था, जो सुबह-सुबह ही जामिया (Jamia) पहुंच गए. इन प्रदर्शनकारियों के लिए बिरयानी (Biryani) नजदीक के ही जामिया नगर (Jamia Nagar) में तैयार की गई. दोपहर होते होते बड़े-बड़े बर्तनों में वेज और नॉन वेज दोनों तरह की बिरयानी जामिया विश्वविद्यालय परिसर (Jamia University Campus) के बाहर वाहनों के जरिए पहुंचाई जाने लगी. बिरयानी के साथ ही पीने के पानी के हजारों पाउच भी यहां पहुंचाए गए. यह सिलसिला शनिवार ही नहीं, शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद भी जारी था. दरअसल जुमे की नमाज के बाद हजारों की तादाद में बच्चे, महिलाएं, छात्र-छात्राएं, बुजुर्ग व युवा जामिया परिसर के बाहर पहुंचे थे. प्रदर्शनकारियों का यह हुजूम सड़क के दोनों ओर एक किलोमीटर से अधिक की दूरी तक फैला हुआ था.

यह भी पढ़ें : सीएए विरोधी प्रदर्शनों को लेकर वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं की यह बात प्रशांत किशोर को गुजर रही नागवार

इनमें कई लोग ऐसे थे जो सीधे जुमे की नमाज के बाद प्रदर्शन के लिए जामिया परिसर के बाहर पहुंच गए थे. नौशाद, नसीम, रहमान व उनके कई युवा साथियों ने इन लोगों के लंच का पूरा इंतजाम यहां किया था. रहमान ने बताया कि हर दिन अलग-अलग लोग खाने का इंतजाम अपनी ओर से स्वयं ही कर रहे हैं.

दोपहर के भोजन में लोगों को बिरयानी परोसने का यह सिलसिला करीब दो घंटे तक जारी रहा. बड़े-बड़े डेग (बिरयानी का बर्तन) भरकर बिरयानी लाई जाती रही. डेग खाली हो जाने पर बिरयानी के भरे हुए दूसरे डेग जामिया कैंपस के बाहर की सड़क पर लाए जाते.

खास बात यह कि सैकड़ों लोगों के बिरयानी खाने और खिलाने के क्रम में गंदगी या जूठे बर्तनों का ढेर नहीं लगा. खाने के तुरंत बाद वहां सफाई कर दी गई. बिरयानी के पैकेट लोगों को बांटे गए. कई जगहों पर प्रदर्शनकारियों को प्लेटों में बिरयानी परोसी गई. इसके साथ पीने के साफ पानी के पाउच बांटे गए. बिरयानी के अलावा लोगों के लिए चाय बिस्किट आदि का इंतजाम भी यहां रहा.

यह भी पढ़ें : नैंसी पेलोसी ने 'महाभियोग' के बीच कांग्रेस को संबोधित करने के लिए राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप को भेजा न्‍यौता

दरअसल, जामिया के आसपास के सभी ढाबे-होटल यहां तक कि छोटे टी स्टॉल भी बंद हैं. ऐसे में सुबह से रात तक यहां डटे रहने वाले प्रदर्शनकारियों के खाने-पीने का इंतजाम जामिया के कुछ छात्रों की मदद से स्थानीय लोग कर रहे हैं.

First Published : 21 Dec 2019, 02:36:53 PM

For all the Latest Offbeat News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.