News Nation Logo

BJP सांसद के उत्पीड़न से तंग ग्राम प्रधान ने इस्लाम अपनाने की दी धमकी, जानिए पूरा मामला

प्रधान ने बीजेपी सांसद पर यह भी आरोप लगाया है कि कुछ महीने पहले उनके मकान को यह कहकर ढहा दिया गया कि वह ग्राम पंचायत के स्वामित्व वाली भूमि पर बना था.

News Nation Bureau | Edited By : Sunil Chaurasia | Updated on: 29 Aug 2020, 02:31:01 PM
islam

सांकेतिक तस्वीर (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ से एक बेहद ही अजीबो-गरीब मामला सामने आया है. अलीगढ़ के दौरउ चांदपुर गांव के प्रधान अशोक आजाद ने बीजेपी सांसद पर उत्पीड़न का आरोप लगाया है. बीजेपी सांसद के उत्पीड़न से तंग आकर ग्राम प्रधान अशोक प्रधान ने पूरे परिवार सहित इस्लाम धर्म अपनाने की धमकी दे डाली है. इस पूरे मामले पर ग्राम प्रधान ने गुरुवार को जिलाधिकारी को एक लेटर लिखकर बखेड़ा खड़ा कर दिया. बता दें कि अशोक ने जिलाधिकारी को चिट्ठी लिखकर पूरे परिवार सहित इस्लाम धर्म अपनाने की इजाजत मांगी है.

ये भी पढ़ें- 8 साल के लापता बच्चे की तलाश कर रही पुलिस को दिखा ऐसा मंजर, पैरों तले खिसक गई जमीन

जिलाधाकारी को लिख लेटर में आजाद ने आरोप लगाया कि पड़ोस के हाथरस से बीजेरी सांसद राजवीर दिलेर की पत्नी रजनी दिलेर साल 2015 में ग्राम प्रधान पद के लिए हुए चुनाव में हार गयी थीं, उसके बाद से ही सांसद उनसे नाराज चल रहे हैं. आजाद ने आरोप लगाया कि साल 2019 में हुए लोकसभा चुनाव में जीतने के बाद से ही उन्होंने उत्पीड़न शुरू कर दिया था. उन्होंने यह आरोप भी लगाया कि कुछ महीने पहले उनके मकान को यह कहकर ढहा दिया गया कि वह ग्राम पंचायत के स्वामित्व वाली भूमि पर बना था.

ये भी पढ़ें- दोपहर में लंबे समय तक सोने से हो सकती है मौत, शोध में सामने आई सच्चाई

आजाद ने अपने आरोप में कहा कि उस भूखंड को लेकर एक मामला अदालत में विचाराधीन है लेकिन सांसद ने उनके मकान को ढहाने के लिए अपने प्रभाव का इस्तेमाल किया. दिलेर ने हालांकि इन सभी आरोपों को खारिज कर दिया. उन्होंने कहा कि उनकी पत्नी प्रधान के पद के लिए चुनाव नहीं लड़ी थीं और किसी झगड़े का प्रश्न ही नहीं उठता है. उन्होंने कहा कि गांव वालों ने जब जिला प्रशासन के संज्ञान में यह बात लायी कि जिस भूखंड पर मकान है, उसे प्रधान ने अवैध रूप से कब्जा किया है, तो उसके बाद प्रधान के मकान को ढहाया गया था. इस भूखंड पर अब एक सार्वजनिक मैरिज हॉल का निर्माण किया जा रहा है.

ये भी पढ़ें- शौच करने गई बच्ची को देखकर दरिंदे की नीयत बिगड़ी, खाली पड़े प्लॉट में ले जाकर किया रेप और फिर...

जिलाधिकारी चंद्र भूषण सिंह से जब इस बारे में बात की गई तो उन्होंने इस बात की पुष्टि की. हालांकि, उन्होंने इस बात से साफ इंकार किया कि प्रधान के मकान को किसी दुर्भावना के तहत ढहाया गया है. चंद्र भूषण सिंह ने कहा कि प्रधान ने भूखंड पर अवैध कब्जा कर रखा था और दस्तावेजों की जांच-पड़ताल के बाद ही उसे ढहाया गया है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 29 Aug 2020, 02:15:33 PM

For all the Latest Offbeat News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.