News Nation Logo
Banner

महज 38 साल की उम्र में 20वें बच्चे को जन्म देगी ये महिला, पूरा सच जान पैरों तले खिसक जाएगी जमीन

खरात बंजारों के गोपाल समुदाय से ताल्लुक रखने वाली लंकाबाई अपने 20वें बच्चे की डिलीवरी से पहले डॉक्टरों की देखरेख में हैं. उनके पास अभी 11 बच्चे हैं और 12वां गर्भ में पल रहा है.

By : Sunil Chaurasia | Updated on: 10 Sep 2019, 10:21:38 AM
अपने बच्चों के साथ लंकाबाई

अपने बच्चों के साथ लंकाबाई

नई दिल्ली:

महाराष्ट्र के बीड जिले से एक बेहद ही हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. यहां रहने वाली एक महिला 20वीं बार बच्चे को जन्म देगी. लंकाबाई नाम की ये महिला 38 साल की हैं, जो अभी 7 महीने की प्रेग्नेंट हैं. हैरान कर देने वाली बात ये है कि लंकाबाई ने इससे पहले 19 बच्चों की डिलीवरी घर पर ही दी थी. लंकाबाई के जीवन में ये पहला मौका होगा जब वे अस्पताल में अपने 20वें बच्चे को जन्म देंगी. लंकाबाई के पास अभी 11 बच्चे हैं और 12वां बच्चा गर्भ में पल रहा है.

ये भी पढ़ें- ISRO के जवाब में पाकिस्तान ने भी लॉन्च किया अपना स्पेस मिशन! बॉलीवुड एक्टर ने शेयर की वीडियो

खरात बंजारों के गोपाल समुदाय से ताल्लुक रखने वाली लंकाबाई अपने 20वें बच्चे की डिलीवरी से पहले डॉक्टरों की देखरेख में हैं. बार-बार ठिकाने बदलने वाले समुदाय से ताल्लुक रखने वाली लंकाबाई को अस्पताल में डिलीवरी कराना काफी मुश्किल होता था, हालांकि इस बार उनकी डिलीवरी अस्पताल में होगी. लंकाबाई का प्राथमिक इलाज करने एक स्थानीय डॉक्टर ने उनकी मेडिकल कंडीशन को देखते हुए उन्हें बीड के जिला अस्पताल में एडमिट कराया है.

ये भी पढ़ें- रानू मंडल के बाद सोशल मीडिया पर वायरल हुआ 'भानू मंडल' का गाना! लोगों ने कर डाली ऐसी डिमांड

लंकाबाई की स्थिति जानने के बाद अस्पताल के सभी डॉक्टर काफी हैरान हैं. 20वीं बार मां बनने वाली लंकाबाई की डिलीवरी से पहले उन्हें एक खास चिकित्सीय कोर्स भी कराया गया है. जिसकी वजह से वे अपनी प्रेग्नेंसी और होने वाले बच्चे को लेकर कुछ जरूरी सावधानियां बरतें और इंफेक्शन से बच सकें. डॉक्टरों ने लंकाबाई के भविष्य को लेकर चिंता जाहिर की है, उनका कहना है कि इतनी बार मां बनने से महिला को स्वास्थ्य से संबंधित कई समस्याएं हो सकती हैं.

First Published : 10 Sep 2019, 10:21:38 AM

For all the Latest Offbeat News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×