News Nation Logo
Banner

मौत से लड़ रहा था 3 दिन का कश्मीरी बच्चा, CRPF ने जवान ने यूं बचाई जान और कायम की इंसानियत की मिसाल

डॉक्टरों ने कहा कि बच्चे को बचाने के लिए जल्द से जल्द O नेगेटिव खून की जरूरत है. बता दें कि O नेगेटिव खून एक दुर्लभ ग्रुप है, जो काफी कम लोगों में पाया जाता है.

By : Sunil Chaurasia | Updated on: 16 Mar 2019, 01:43:35 PM
अस्पताल में भर्ती नवजात कश्मीरी बच्चा

नई दिल्ली:

देश की सुरक्षा में लगे जवान न केवल आतंकियों और दुश्मनों से हमारी मदद करते हैं बल्कि वे हमारी ऐसे मौकों पर भी पूरी मदद करते हैं जब हमारे पास किसी और का कोई सहारा नहीं होता है. कश्मीर से आई कुछ तस्वीरों को देखने के बाद आपके रोंगटे खड़े हो जाएंगे. यहां रहने वाले फारुख के 3 दिन के बेटे को अस्पताल में भर्ती कराया गया था. नवजात बच्चा काफी तकलीफ में था और वह यहां के जीबी पंत अस्पताल में भर्ती था.

ये भी पढ़ें- IPL: गेंदबाजों के लिए हैवान बन गए थे गेल, 66 बॉल में ठोके थे 175 रन.. देखें ऐसे ही 10 बल्लेबाजों की पूरी लिस्ट

डॉक्टरों ने कहा कि बच्चे को बचाने के लिए जल्द से जल्द O नेगेटिव खून की जरूरत है. बता दें कि O नेगेटिव खून एक दुर्लभ ग्रुप है, जो काफी कम लोगों में पाया जाता है. ऐसे में फारुख ने CRPF Madadgaar से संपर्क किया. बता दें कि CRPF Madadgaar कश्मीर के सभी नागरिकों की हरसंभव मदद करने के लिए हमेशा तैयार रहता है ताकि उन्हें किसी भी प्रकार की कोई दिक्कत न हो.

ये भी पढ़ें- कांग्रेस के इस दिग्गज नेता की हत्या, 4 दिन पहले ही BSP छोड़ राहुल गांधी की पार्टी में हुए थे शामिल

CRPF Madadgaar के पास जैसे ही ये मामला पहुंचा, उन्होंने तुरंत अपने एक जवान को अस्पताल भेजा, जिसका ब्लड ग्रुप O नेगेटिव था. जवान का नाम बाबूलाल हैं, जो सीआरपीएफ की 117वीं बटालियन में कार्यरत हैं. बाबूलाल फिलहाल श्रीनगर में ड्यूटी पर हैं. बाबूलाल ने जिंदगी और मौत से जूझ रहे बच्चे को खून देकर न सिर्फ उसकी जिंदगी बचाई बल्कि उन्होंने एक परिवार को उजड़ने से भी बचा लिया.

First Published : 16 Mar 2019, 01:43:29 PM

For all the Latest Offbeat News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.