News Nation Logo
Banner

दुर्गा पूजा पर इस जगह पर पर्यटकों के आने की उम्मीद

अंडमान निकोबार द्वीप समूह प्रशासन ने छह महीने बाद कुछ क्षेत्रों को पर्यटन के लिए खोलना शुरू कर दिया है. इसी के साथ इस उद्योग से जुड़े हितधारक पर्यटन क्षेत्र के पुनर्जीवित होने के लिए दुर्गा पूजा का इंतजार कर रहे हैं.

Bhasha | Updated on: 04 Oct 2020, 11:05:02 PM
WhatsApp Image 2020 10 04 at 23 04 04

दुर्गा पूजा पर इस जगह पर पर्यटकों के आने की उम्मीद (Photo Credit: File Photo)

पोर्टब्लेयर:

अंडमान निकोबार द्वीप समूह प्रशासन ने छह महीने बाद कुछ क्षेत्रों को पर्यटन के लिए खोलना शुरू कर दिया है. इसी के साथ इस उद्योग से जुड़े हितधारक पर्यटन क्षेत्र के पुनर्जीवित होने के लिए दुर्गा पूजा का इंतजार कर रहे हैं. संघ शासित प्रदेश में बड़ी संख्या में लोग आजीविका कमाने के लिए पर्यटन पर निर्भर हैं. अंडमान निकोबार में पिछले कई दिनों से बहुत कम संख्या में कोविड-19 के मामले सामने आ रहे हैं.

स्वास्थ्य अधिकारियों ने कहा कि अब तक संक्रमण के 3,868 मामले सामने आ चुके हैं और अभी 173 मरीजों का इलाज चल रहा है. एक अनुमान के मुताबिक, मार्च में कोविड-19 फैलने के बाद से द्वीप समूह को आठ हजार करोड़ रुपये का नुकसान हो चुका है और पर्यटन उद्योग के ठप पड़ने से 35,000 परिवार प्रत्यक्ष या परोक्ष रूप से प्रभावित हुए हैं. हालांकि, प्रशासन ने विश्व पर्यटन दिवस पर 27 सितंबर से दक्षिण अंडमान जिले में पर्यटन की कुछ गतिविधियों की अनुमति प्रदान की और कहा कि चरणबद्ध तरीके से और भी क्षेत्रों को खोला जाएगा, लेकिन पर्यटकों की संख्या लगभग नगण्य रही.

पर्यटन क्षेत्र की कंपनी मिनी इंडिया के निदेशक रॉबर्ट जॉनसन ने रविवार को पीटीआई-भाषा से कहा, “इस क्षेत्र के फिर से खुलने के बाद से शायद ही कोई पर्यटक आ रहा है. लेकिन हमें उम्मीद है कि आगामी दुर्गा पूजा पर्व के दौरान कुछ बुकिंग होगी.

हालांकि कोलकाता से पोर्ट ब्लेयर के लिए प्रतिदिन केवल दो उड़ानें उपलब्ध है. इसे बढ़ाने की आवश्यकता है.” कोविड-19 से पहले दुर्गा पूजा की छुट्टियों में पश्चिम बंगाल से बड़ी संख्या में लोग अंडमान निकोबार घूमने आते थे.

First Published : 04 Oct 2020, 11:05:02 PM

For all the Latest Lifestyle News, Travel News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो