News Nation Logo
Banner

हर 5 में से एक महिला करती है अश्लील कॉल का सामना, महिला दिवस से पहले आई रिपोर्ट

कंपनी ने इस रिपोर्ट के अनुसार ये समझाने में की कोशिश की है कि भारत में महिलाओं से फोन पर छेड़छाड़ या अभद्र कॉलों का प्रतिशत क्या है.

By : Yogesh Bhadauriya | Updated on: 07 Mar 2020, 12:08:43 PM
phone

प्रतीकात्मक तस्वीर (Photo Credit: (फाइल फोट))

नई दिल्ली:

आने वाले अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस को लेकर स्मार्टफोन एप्लीकेशन ट्रू-कॉलर ने अपनी एक रिपोर्ट का तीसरा संस्करण जारी किया है. कंपनी ने इस रिपोर्ट के अनुसार ये समझाने में की कोशिश की है कि भारत में महिलाओं से फोन पर छेड़छाड़ या अभद्र कॉलों का प्रतिशत क्या है. एप्लीकेशन के दावे के अनुसार भारत में हर 5 में से 1 महिला को सेक्शुअल हैरेसमेंट और अनुचित बातचीत वाली कॉल का सामना करना पड़ता है. लेकिन इसी के साथ कंपनी ने यह भी दावा किया है कि भारत में ऐसी फोन कॉल को महिलाओं द्वारा रिपोर्ट करने का भी हाईएस्ट रेट है.

रिपोर्ट के अनुसार भारत में 85 प्रतिशत महिलाएं ऐसी हैं जो ऐसी किसी अनवांछित कॉल को ब्लॉक कर देती हैं जिस पर उन्से अभद्रता की गई हो. वहीं 45% ने संबंधित टेलिकॉम ऑपरेटर से मदद मांगी, जबकि अन्य 45% ने उस नंबर की खोजबीन करने की कोशिश की. इसके अलावा कंपनी का दावा है कि भारत में ही ऐसी महिलाओं का हाईएस्ट रेट है जिन्होंने ऐप पर 'चूज टू नौट एक्शन' का विकल्प चुना. कंपनी ने अपनी रिपोर्ट में आगे कहा कि 44 प्रतिशत महिलाओं ने इसको नजरअंदाज किया और 12 प्रतिशत महिलाओं ने नंबर ऑफ ओथरटीज का चुनाव किया.

यह भी पढ़ें- Holi 2020: इन आसान Tips को अपनाकर छुटाएं होली का रंग, बाल और स्किन रहेगी हेल्दी

Truecaller के सर्वेक्षण में यह भी पाया गया है कि उत्पीड़न कॉल ज्यादातर अजनबियों से आते हैं, जो कि 76% है. और इनमें से केवल 4% कॉल परिचितों के हैं. रिपोर्ट के अनुसार कुछ ऐसे क्षेत्र जहां नंबर लीक होने की संभावना है, उनमें रिचार्ज स्टोर, रेस्तरां, शोपिंग सेंटर, प्रतियोगिता में हिस्सा लेने और यहां तक ​​कि लॉगबुक में भरने के लिए फोन नंबर देने वाली महिलाएं शामिल हैं.

बताया गया कि मेट्रो शहरों में रह रही महिलाएं ऐसी कॉल्स से सबसे अधिक प्रभावित होती हैं. इनमें चैन्नई लिस्ट में सबसे ऊपर है इसके बाद नई दिल्ली, पूणे और कोलकाता है. इस रिपोर्ट में एक और दिलचस्प बात बताई गई है कि इन कॉल की रिपोर्टिंग करते समय महिलाओं को कैसा लगा. Truecaller ने कहा, "भारत में 67% महिलाओं को इन कॉल्स से चिड़चिड़ाहट होती है, 60% को गुस्सा आती है, 29% को चिंता होती है, 29% परेशान हो जाती हैं और 21% महिलाएं ऐसी कॉल्स आने पर खुद में डर महसूस करती हैं''.

Truecaller ने अपना सर्व केन्या, कोलंबिया, ब्राजील और इजिप्ट. बता दें Truecaller ने स्वतंत्र बाजार अनुसंधान एजेंसी Ipsos के साथ यह सर्वेक्षण किया.

First Published : 07 Mar 2020, 11:49:03 AM

For all the Latest Lifestyle News, Relationship News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

Related Tags:

Phone Womens Day 2020
×