News Nation Logo

'हाई हील्स' भारत के लिए एक ट्रेंड है तो वहीं जापान के लिए बन गया अभिशाप, चला #Kutoo अभियान

जहां भारत में हाई हील्स महिलाओं के लिए एक ट्रेंड बन चुका है. वहीं जापान में हाई हील्स को लेकर महिलाओं ने एक मुहिम चलाई है.

Rashmi Sinha | Edited By : Rashmi Sinha | Updated on: 28 Jun 2019, 10:48:25 AM

New Delhi:

हाई हील ते नाचे तन तू बड़ी जचे....यह गाना जितना हिट हुआ था उतनी ही हिट है हाई हील्स. भारत में हाई हील्स का चलन अभी से देखने को नहीं मिल रहा है. बल्कि इसका सुरुर तो महिलाओं पर काफी पहले से चढ़ा हुआ हैं. जहां भारत में हाई हील्स महिलाओं के लिए एक ट्रेंड बन चुका है. वहीं जापान में हाई हील्स को लेकर महिलाओं ने एक मुहिम चलाई है. जापान में #MeToo की तर्ज पर इन दिनों #Kutoo अभियान चल रहा है. #KuToo अभियान की शुरुआत अभिनेत्री और फ्रीलांस लेखक युमी इशिकावा ने की है.

यह भी पढ़ें- अपने पार्टनर को दिल की बात कहने से पहले इन 5 बातों का रखें ध्यान, कभी नहीं होंगे रिजेक्ट

श्रम मंत्रालय में इसको लेकर एक याचिका पेश की है. जिसमें यह बोला गया है कि ऑफिस में हाई हील्स की अनिवार्यता को खत्म किया जाए. #KuToo अभियान जापानी शब्द ‘कुत्सु’ और ‘कुत्सू’ से बना है जिसका अर्थ जूता और दर्द है. दरअसल जापान में महिलाओं के लिए ऑफिस में हाई हील्स पहनना अनिवार्य है. जिससे उन्हें शारीरिक परेशानियों का सामना करना पड़ता है. महिलाओं का कहना है कि हाई हील्स पहनने से उनकी कमर और एड़ियों में काफी दर्द रहता है. जिससे उन्हें काफी परेशानी होती है. साथ ही उनका कहना है कि हाई हील्स पहनने के लिए बाध्य नहीं करना चाहिए. यह एक महिला विरोधी मानसिकता है. आठ से दस घंटे तक सैंडल पहनने के चलते पैरों में समस्या होने लगती हैं.

कॉरपरेट ऑफिस हो या फिर कोई इवेंट, बड़ी-बड़ी पार्टियां हो या फिर कोई शादी-ब्याह का समाहरोह, हर जगह ऊंची ऐड़ी वाली सैंडिल पहनी हुई लड़कियां आपके इर्द-गिर्द घूमती नज़र आएंगी. लंबी लड़कियां हाई हील पहनकर जहां और लंबी और खूबसूरत लगने लगती हैं, वहीं छोटी कद की लड़कियों के लिए यह एक लम्बाई बढ़ाने का आसान तरीका है.

यह भी पढ़ें- डेट पर प्यार और रोमांस के लिए नहीं, इसलिए जाती हैं लड़कियां

हील्स का फैशन काफी पुराना है. इसे सदाबहार कहना भी गलत नहीं होगा. आप सैंडिल की शॉप पर चले जाए तो आपको कुछ सैंडिल की डिज़ाइन तो बिलकुल वैसी ही देखने को मिल जाएंगी. जो आपने कई सालों पहले देख रखी होगी. बाज़ार में आपको आधे इंच से लेकर दस इंच से भी ज्यादा की हाई हील्स मिल जाएगी. जिसे पहनने में लड़कियों को कोई परेशानी नहीं होती है, बल्कि कई लड़कियां तो इसे पहन कर खुद को काफी का कॉंफिडेंट महसूस करती हैं. लेकिन इसको पहनने के नुकसान भी है जो जीवन भर के लिए नासूर बन जाते हैं.

हाई हील पहनने के नुकसान

1- हाई हील पहनने से स्पाइन पर बहुत असर पड़ता है. जिससे स्पाइन डिस्टर्ब होने का काफी डर होता है.
2- ऊंची ऐड़ी सैंडिल पहनने से घुटनों की परेशानी होती है. क्योंकि हील पहनने पर शरीर का भार घुटनों पर पड़ता है जिसकी वजह से घुटनों में दर्द होना शुरु हो जाता है.
3- इसे पहनने से शरीर का पोश्चर बिगड़ जाता है. जिससे आपको खड़े होने में दिक्कत होती है.
4- हील पहनने की वजह से पैरों और उसके आस-पास के अंगो में ब्लड सर्कुलेशन कम हो जाता है. जिससे पैर की पिंडलियों में समस्या होने लगती है.
5- इसे पहनने से कमर में परेशानी शुरु हो जाती है. हील की वजह से ज्यादा दबाव कमर और कुल्हे पर आता है. जिससे वहां पर दर्द की शिकायत होनी शुरु हो जाती है. साथ ही रीड़ की हड्डियों पर भी असर पड़ता है.

ये हैं कारगर उपाय
- जब हील पहन कर आप बैठे हैं तो अपनी सैंडल को थोड़ा ढीला कर लें. चाहे तो सैंडल खोलकर पैर फर्श पर रख लें. इससे आपको आराम मिलेगा.
- हील पहन कर ड्राइव न करें. बल्कि एक स्पेयर फ्लेट चप्पल या जूती रखें जिसे पहनकर आप ड्राइव कर सकें.
- हील पहने रहने के दौरान इस बात का ध्यान रखें की हर आधे घंटे में अपनी सैंडल खोलकर कर पैरों को थोड़ा आराम दें.
- प्वाइंटेड हील्स वाली सैंडलों से बचे.
- हील्स उतारने के बाद पैरों की गर्म तेल से मालिश करें.

यह भी पढ़ें- ऑफिस में इन बातों का रखेंगे ध्यान तो बनेंगे सबके फेवरेट सीनियर

जापान में ड्रेसकोर्ड को लेकर चलाए जा रहे #Kutoo अभियान को काफी लोगों का समर्थन मिल रहा है. आपको बता दे कि जापान के ऑफिस में महिला और पुरुष दोनों के लिए ड्रेसकोर्ड अनिवार्य है. जहां महिलाओं को हाई हील्स पहनना ही है वहीं पुरुषों को फॉर्मल ड्रेस के साथ क्लीनशेव रहना जरूरी है.

First Published : 22 Jun 2019, 06:13:34 AM

For all the Latest Lifestyle News, Fashion News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.