News Nation Logo
Banner

गोमांस और PORK को लेकर जाेमैटो फिर विवादों में, डिलीवरी ब्वॉय हड़ताल पर गए

पश्‍चिम बंगाल में जोमैटो के गोमांस और पोर्क के मामले ने तूल पकड़ लिया है. जाेमैटो के डिलीवरी ब्‍वॉय उन खानों की बिक्री करने से इन्का‍र कर दिया है, जिनकी उनके धर्मों में मनाही है, इसको लेकर डिलीवरी ब्‍यॉय हड़ताल पर चले गए हैं.

By : Pankaj Mishra | Updated on: 11 Aug 2019, 06:26:58 PM
जोमैटो के खिलाफ प्रदर्शन करते कर्मचारी, फोटो एएनआई

जोमैटो के खिलाफ प्रदर्शन करते कर्मचारी, फोटो एएनआई

highlights

  • पश्‍चिम बंगाल के मंत्री बोले, कंपनी किसी कर्मचारी से ऐसा काम नहीं करा सकती, जिससे उसकी धर्मिक भावनाएं आहत होती हों 
  • पहले मामले के विरोध में सोमवार से हड़ताल पर जाने वाले थे जोमैटो के कर्मचारी, अब आज से ही काम किया पूरी तरह बंद 
  • हिन्‍दुओं ने गोमांस और मुस्‍लिमों ने पोर्क की डिलीवरी से साफ तौर पर कर दिया है इन्‍कार 
  • कर्मचारियों का आरोप, कंपनी को पूरा मामला बताया गया, लेकिन अब तक नहीं हुई कोई सुनवाई

कोलकाता:

पश्‍चिम बंगाल में जोमैटो के गोमांस और पोर्क के मामले ने तूल पकड़ लिया है. जोमैटो के डिलीवरी ब्‍वॉय उन खानों की बिक्री करने से इन्का‍र कर दिया है, जिनकी उनके धर्मों में मनाही है, इसको लेकर डिलीवरी ब्‍वॉय हड़ताल पर चले गए हैं. पहले यह हड़ताल सोमवार से होनी थी. वहीं इस मामले में पश्‍चिम बंगाल के मंत्री राजीब बनर्जी ने साफ कह दिया है कि कोई भी कंपनी किसी कर्मचारी को जबरन ऐसा काम नहीं करा सकती जो उसके धर्म के खिलाफ हो. यह पूरी तरह गलत है. उन्‍होंने कहा कि उनके पास इस तरह की कुछ सूचनाएं आई हैं, वे पूरे मामले को देख रहे हैं. वहीं डिलीवरी ब्‍वॉय की ओर से कहा गया है कि कंपनी तक अपनी बात पहुंचा दी गई है, लेकिन अब तक उनकी तरफ से कोई जवाब नहीं आया है, ऐसा लगता है कि कंपनी उनकी बात नहीं सुनना चाहती. इसके खिलाफ वे एक हफ्ते के लिए हड़ताल पर जा रहे हैं. 

दरअसल मामला यह है कि जोमैटो के डिलीवरी ब्‍वॉय ने बीफ और पोर्क की डिलीवरी करने से इन्‍कार कर दिया है. दोनों धर्मों के लोगों ने मांग की है कि जमैटो को अपने आर्डर में बदलाव करने की जरूरत है. साथ ही कहा कि कंपनी उनके धार्मिक भावनाओं से खेलना बंद करे. इस पूरे मामले को लेकर हिन्‍दू और मुस्‍लिम दोनों ही धर्मों के डिलीवरी ब्‍वॉय बीफ और पोर्क की डिलीवर नहीं करेंगे. यह मामला रविवार सुबह उठा और देखते ही देखते इसने तूल पकड़ लिया. कुछ ही देर बाद पश्‍चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी के मंत्री राजीब बनर्जी सामने आए और कहा कि उनकी जानकारी में यह मामला आया है और वे इसे देख रहे हैं. उनका कहना था कि कोई भी कंपनी बलपूर्वक ऐसा नहीं करा सकती.


कंपनी के डिलीवरी स्‍टॉफ के सदस्‍य मौसीन अख्‍तर का कहना है कि हाल ही में कंपनी की ओर से कुछ मुस्‍लिम रेस्‍टोरेंट जोड़े गए हैं. लेकिन यहां कुछ हिन्‍दू डिलीवर ब्‍वॉय भी हैं, जिन्‍होंने बीफ की डिलीवरी करने से मना कर दिया है. उनका कहना है कि सुनने में आ रहा है कि मुस्‍लिमों से भी पोर्क की डिलीवरी करने के लिए कहा गया है, जिसके लिए मना कर दिया गया. उनका कहना है कि हम लोगों के वेतन भुगतान और मेडिकल सुविधाओं के भी कुछ मुद्दे हैं. कहा कि हमारे कुछ धार्मिक बंधन भी हैं, जो हमें कुछ खास तरह के खाने की मनाही करते हैं. एक अन्‍य जोमैटो स्‍टाफ का कहना है कि वे नौकरी के लिए अपने धार्मिक परंपराओें से समझौता नहीं कर सकते.


वहीं दूसरी ओर ब्रजराज नाथ ब्रह्मा का कहना है कि वह हिन्‍दू हैं, उनके साथ कई मुस्‍लिम भी काम करते हैं, हमें साथ काम करने में कोई परेशानी नहीं है. कंपनी ने कई अपने सिस्‍टम में कुछ नए रेस्‍टोरेंट जोड़े हैं, जिनका कहना है कि वे अपने आर्डर को किसी भी सूरत में कैंसिल नहीं कर सकते. अगर डिलीवर ब्‍वॉय ऐसा करने से मना करेंगे तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी, ऐसे निर्णय से हिन्‍दू और मुस्‍लिम दोनों की भावनाओं को ठेस पहुंची है. कंपनी को चाहिए वे इसे तत्‍काल बंद करें. वे सोमवार से ऐसे खानों की डिलीवरी बंद करने जा रहे हैं.

First Published : 11 Aug 2019, 02:56:25 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

Related Tags:

Zamato Beef Pork West Bangal

वीडियो