News Nation Logo
Banner

योगी सरकार ने 100 बाहुबलियों के जेल किये शिफ्ट, नेटवर्क और अपराध पर नकेल कसने में मिलेगी मदद

अपराध पर नकेल कसने के लिये योगा सरकार ने करीब 100 बाहुबली अपराधियों की जेल बदल दी हैं।

News Nation Bureau | Edited By : Pradeep Tripathi | Updated on: 03 May 2017, 12:21:18 AM

नई दिल्ली:

अपराध पर नकेल कसने के लिये योगा सरकार ने करीब 100 बाहुबली अपराधियों की जेल बदल दी हैं। इन बाहुबलियों को गृहजिले से दूर के जोलों में भेज दिया गया है ताकि उनका लोकल क्राइम नेटवर्क को खत्म किया जजा सके।

जिन बाहुबलियों की जेल बदली गई है उनमें मुख्तार अंसारी, मुन्ना बजरंगी, अतीक अहमद, शेखर तिवारी, मौलाना अनवारुल हक, मुकीम उर्फ काला, उदयभान सिंह उर्फ डॉक्टर, किरनपाल उर्फ टीटू, रॉकी उर्फ काकी और आलम सिंह के नाम शामिल हैं।

प्रदेश के एडीजी (जेल) जी. एल. मीना ने कहा, 'ये डॉन सलाखों के पीछे होने के बावजूद भी इनके अपराधी गैंग इलाके में हत्या, अपहरण, डकैती और वसूली कर इलाके में दहशत पैदा कर रहे हैं।'

और पढ़ें: आधार कार्ड अनिवार्य बनाए जाने को लेकर SC में केंद्र सरकार का जवाब, ईमानदार लोगों को मिलेगा लाभ

मुख्तार अंसारी को लखनऊ से बांदा जेल, अतीक अहमद को नैनी सेंट्रल जेल से देवरिया, मुन्ना बजरंगी को झांसी जेल से पीलीभीत जेल और शेखर तिवारी को बाराबंकी से महाराजगंज जेल शिफ्ट किया गया है।

मीना ने बताया कि अभी 100 लोगों की जेल बदली गई है और उन्हें राज्य के दूसरे जेलों में भेजा गया है। जिन लोगों को आगरा, बनारस और बरेली के मानसिक अस्पतालों में भर्ती कराया गया है उन कैदियों की भी जांच कराई जा रही है। अगर वे मानसिक रूप से ठीक पाए जाते हैं तो उन्हें दोबारा जेल भेजा जाएगा।

जेल प्रशासन ने शनिवार को इन तीनों शहरों के मानसिक अस्पतालों को लेटर भेजकर इन कैदियों की मानसिक स्थिति की रिपोर्ट भेजने का निर्देश दिया है।

और पढ़ें: पीएम मोदी ने वीज़ा मसले पर ऑस्ट्रेलिया के पीएम से की बातचीत

उन्होंने बताया कि जेल प्रशासन ने राज्य के विभिन्न अस्पतालों में भर्ती 18 कैदियों की लिस्ट तैयार की है। मेडिकल ऑफिसर्स से इन कैदियों की रिपोर्ट मांगी गई है।

उन्होंने कहा, 'इन लोगों के खिलाफ गिरफ्तारी का वारंट जारी कर दिया गया है।'

गैंगस्टर्स के जेल को बदलने का मकसद उनके स्थानीय नेटवर्क खत्म करना है। राज्य में कानून-व्यवस्था को लेकर 30 मार्च को हुई पहली बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पुलिस और जेल अधिकारियों तुरंत कार्रवाई करने के निर्देश दिए थे।

और पढ़ें: बेनामी संपत्ति पर सख्त हुए पीएम मोदी, अधिकारियों से कहा- तेज करें कार्रवाई

 

आईपीएल से जुड़ी सभी ख़बरों के लिए यहां क्लिक करें

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 02 May 2017, 09:36:00 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.