News Nation Logo

भ्रष्टाचारः मंत्री ने दबाव डालकर खरीदवाई प्रियंका गांधी से 2 करोड़ की पेंटिंग

सत्ता से बाहर होने के बाद भी भ्रष्टाचार का भूत कांग्रेस पार्टी का पीछा नहीं छोड़ रही है. Yes Bank के पूर्व प्रमोटर राणा कपूर ने ED  को बताया कि तत्कालीन पेट्रोलियम मंत्री मुरली देवड़ा ने प्रियंका गांधी से 2 करोड़ में पेंटिंग खरीदने के लि बाध्य किया.

News Nation Bureau | Edited By : Iftekhar Ahmed | Updated on: 24 Apr 2022, 12:14:45 PM
Priyanka gandhi

मंत्री ने दबाव डालकर खरीदवाया प्रियंका गांधी से 2 करोड़ की पेंटिंग (Photo Credit: File Photo)

highlights

  • भ्रष्टाचार के आरोपों  में फिर घिरी से कांग्रेस पार्टी
  • ED की चार्जशीट में राणा कपूर ने लगाए गंभीर आरोप
  • पूर्व केंद्रीय मंत्री ने दबाव डालकर खरीदवाया था पेटिंग

नई दिल्ली:  

सत्ता से बाहर होने के बाद भी भ्रष्टाचार का भूत कांग्रेस पार्टी का पीछा नहीं छोड़ रही है. Yes Bank के पूर्व प्रमोटर राणा कपूर (Rana Kapur) ने ED  को बताया कि तत्कालीन पेट्रोलियम मंत्री मुरली देवड़ा ने उनसे कहा कि यदि राणा कपूर ने एमएफ हुसैन की पेंटिंग को खरीदने से मना किया तो न केवल इससे गांधी परिवार से संबंधों को बनाने में कठिनाइयां होंगी, बल्कि उससे ‘पद्म’ सम्मान प्राप्त करना भी मुश्किल हो जाएगा. कपूर ने अपने बयान में कहा है कि उन्हें यह कहकर पेंटिंग खरीदने के लिए मजबूर किया गया कि इस पेंटिंग से हासिल होने वाली राशि का इस्तेमाल  सोनिया गांधी का न्यूयॉर्क में चल रहे इलाज के लिए इलाज कराने के लिए किया जाएगा.

पेंटिंग के एवज में दो करोड़ रुपये की राशि का भुगतान चेक में किया
ED की ओर से तैयार की गई चार्जशीट के मुताबिक कपूर ने पेंटिंग के बदले दो करोड़ रुपे की राशि का भुगतान चेक के जरिए से भुगतान किया था. ईडी की चार्जशीट में कपूर के बयान के आधार पर लिखा गया है कि केंद्रीय तत्काली केंद्री. मंत्री मुरली के बेटे मिलिंद देवड़ा (पूर्व कांग्रेस सांसद और दिवंगत मुरली देवड़ा के पुत्र) ने उनसे उनके दफ्तर में कई बार मुलाकात की. इस दौरान उन्हें गोपनीय तरीके से बताया या कि इस पेंटिंग की बिक्री से प्राप्त होने वाले धन का इस्तेमाल गांधी परिवार की मुखिया सोनिया गांधी के न्यूयॉर्क में इलाज पर किया जाएगा. राणा कपूर ने ईडी को यह भी बताया कि कांग्रेस आला कमान के करीबी रहे अहमद पटेल ने भी उनसे कहा था कि गांधी परिवार की इस सही समय पर इलाज में सहयोग कर उन्होंने बहुत ही अच्छा काम किया है. इसके साथ ही अहमद ने उन्हें आश्वासन दिया कि इस मदद के बाद पद्म भूषण सम्मान देने के लिए उनके नाम पर विचार किया जाएगा.

गांधी परिवार से नजदीकी संबंध बनाने का दिया गया लालच
ईडी की ओर से दाखिल चार्जशीट के अनुसार केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री मुरली देवड़ा ने राणा कपूर को यह कहकर पेंटिंग खरीदने के लिए यह कह कर मनाने की भी कोशिश की थी कि पेंटिंग खरीदने से मना करने की स्थित में उन्हें गांधी परिवार से अच्छे रिश्ते बनाने का मौका नहीं मिलेगा. इसके साथ ही उन्हें बताया गया कि ऐसा करने से उन्हें पद्म सम्मान से सम्मानित करने की कोशिश को भी झटका लगेगा. ईडी को दिए बयान में राणा कपूर ने यह भी कहा है कि तत्कालीन पेट्रोलियम मंत्री दिवंगत देवड़ा ने अपने बंगले पर आयोजित रात्रिभोज के दौरान कहा था कि पेंटिंग खरीदने से मना करने से यस बैंक पर बुरा प्रभाव पड़ सकता है.  गौरतलब है कि Yes bank के प्रमोटर राणा कपूर मार्च 2020 में गिरफ्तार किया गया था, तब से वह न्यायिक हिरासत में कैद है.

ये भी पढ़ेंः कट्टरपंथियों के दबाव में सेना ने हटाया इफ्तार पार्टी से जुड़ा ट्वीट, ट्रोल होने के बाद पोस्ट किया डिलीट

ईडी के इस चार्जशीट में कपूर के हवाले से लिखा गया है कि प्रियंका गांधी से एमएफ हुसैन की पेंटिंग मुझ से जबरदस्ती खरीद वाया गया था. आरोप पत्र के मुताबिक कपूर ने इस सौदे को टालने की पूरी कोशिश की, लेकिन इसके बावजूद तत्कालीन केंद्रीय मंत्री  इस सौदे को तेजी से अंतिम रूप देना चाहते थे. उन्होंने ईडी को आगे बताया है कि वर्ष 2010 में मुरली देवड़ा ने उन्हें नई दिल्ली के लोधी एस्टेट बंगले पर मारवाड़ी रात्रि भोज पर मिलने के लिए मजबूर किया था. गौरतलब है कि देवड़ा उस समय पेट्रोलियम मंत्री थे और यह बंगला उन्हें आवंटित था. ये बातें प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की ओर से धनशोधन के मामले में विशेष अदालत में दाखिल आरोप पत्र में कही गई है. यह आरोप पत्र यस बैंक के सह संस्थापक, उसके परिवार, दीवान हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड (बीएचईएल) के प्रवर्तक कपिल और धीरज वाधवान और अन्य के विरुद्ध धन शोधन के मामले में दाखिल दूसरे पूरक आरोप पत्र (कुल तीन) का हिस्सा है.

First Published : 24 Apr 2022, 12:07:15 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.