logo-image

थैलियों में थूक भर घरों में फेंक रहीं महिलाएं, कोटा के कुछ इलाकों में हड़कंप

कोटा के वल्लभबाड़ी इलाके में थूकते हुए 4-5 संदिग्ध महिलाओं के सीसीटीवी फुटेज वायरल हो रहे हैं. इन महिलाओं ने घरों में थूक कर सनसनी फैला दी है.

Updated on: 13 Apr 2020, 08:23 AM

highlights

  • कई राज्यों में सार्वजनिक स्थानों पर थूकना (Spitting) संज्ञेय अपराध.
  • कोटा के घरों में थूकते हुए 4-5 संदिग्ध महिलाओं के सीसीटीवी फुटेज हुए वायरल.
  • पूरे शहर में दहशत का माहौल. पुलिस तफ्तीश भी फिलहाल बेनतीजा.

:

कोरोना वायरस (Corona Virus) संक्रमण के चलते देश के कई राज्यों में सार्वजनिक स्थानों पर थूकने (Spitting) को संज्ञेय अपराध घोषित कर दिया है. वहीं ऐसे लोग भी हैं जो सख्त कानून के अस्तित्व में आने के बावजूद थूका-थाकी बंद नहीं कर रहे हैं. सार्वजनिक स्थानों पर थूकने पर राजस्थान (Rajasthan) सरकार ने भी पाबंदी लगाई हुई है. इसके बावजूद कोटा के वल्लभबाड़ी इलाके में थूकते हुए 4-5 संदिग्ध महिलाओं के सीसीटीवी फुटेज वायरल हो रहे हैं. इन महिलाओं ने घरों में थूक कर सनसनी फैला दी है. पुलिस तक जानकारी पहुंचने के बाद महिलाओं की तलाश शुरू कर दीगई है. हालांकि अब तक की जांच बेनतीजा ही रही है.

यह भी पढ़ेंः कोरोना वायरस को अमेरिका-इजराइल की साजिश मानते हैं पाकिस्तानी

गुमानपुरा थाना क्षेत्र की घटना
यह घटना गुमानपुरा थाना क्षेत्र की है. वहां एक मकान में लगे सीसीटीवी में कुछ महिलाएं
कैद हो गईं, जो प्लास्टिक की थैलियों में थूक कर घरों में थैलियों को फेंक रही थीं. घरों में थूक भरी थैलियों के फेंकने की घटना से पूरे के पूरे वल्लभबाड़ी क्षेत्र में हड़कंप मच गया है. प्राप्त जानकारी के मुताबिक संबंधित सीसीटीवी वाले घर के लोगों के बाहर आते ही सभी महिलाएं भाग गई. घटना के बाद क्षेत्रवासियों ने गुमानपुरा थाना पुलिस को सूचना दी, जिस पर पुलिस की टीम ने काफी देर तक महिलाओं की तलाश की, लेकिन कोई सुराग नहीं लगा.

यह भी पढ़ेंः Corona Lockdown 20th day Live: 8300 के पार पहुंचा कुल मरीजों का आंकड़ा, 273 लोगों की मौत

शहर में दहशत का माहौल
गुमानपुरा थानाधिकारी मनोज सिकरवार का कहना है कि मामले के बाद नगर निगम की टीम को बुलाकर पूरे क्षेत्र को सैनेटाइज कराया गया है. साथ ही सीसीटीवी तस्वीरों के आधार पर इन महिलाओं की तलाश की जा रही है. मामले की सूचना देने वाले क्षेत्रवासी सिद्धार्थ का कहना है कि ये महिलाएं थैलियों में थूक लगा कर घरों में फेंक रहीं थी. इसके साथ ही संदिग्ध महिलाएं घरों में थूक रही थीं, जिसके बाद पुलिस को इसकी सूचना दी गई. फिलहाल लोगों में इससे दहशत बनी हुई है.