News Nation Logo

दिल्ली-गुवाहाटी गो फर्स्ट फ्लाइट की विंडशील्ड हवा में टूटी, जयपुर किया गया डायवर्ट

News Nation Bureau | Edited By : Iftekhar Ahmed | Updated on: 20 Jul 2022, 07:30:35 PM
Go air

दिल्ली-गुवाहाटी गो फर्स्ट फ्लाइट की विंडशील्ड हवा में टूटी (Photo Credit: File Photo)

नई दिल्ली:  

देश में उड़ते हुए हवाई जहाजों में खराबी आने के सिलसिला रुकने का नाम नहीं ले रहा है. ताजा मामला गोएयर से जुड़ा हुआ है. गोएयर के गो फर्स्ट फ्लाइट को बुधवार को हवा के बीच में विंडशील्ड टूटने के बाद जयपुर के लिए डायवर्ट किया गया. फ्लाइट ने दिल्ली से गुवाहाटी के लिए उड़ान भरी थी. हालांकि, उड़ान भरने के तुरंत बाद पायलटों ने पाया कि एक विंडशील्ड में दरार आ गई है. डीजीसीए के अधिकारियों ने कहा कि दिल्ली-गुवाहाटी (जी8151) के बीच उड़ान की विंडशील्ड हवा में ही टूट गई. एएनआई के अनुसार खराब मौसम के कारण विमान दिल्ली नहीं लौट पाया, जिसकी वजह जयपुर की ओर मोड़ दिया गया. फ्लाइट को दोपहर 2.55 बजे गुवाहाटी एयरपोर्ट पर उतरना था.

एक दिन पहले भी दो विमानों के इंजन में आई थी खराबी
गौरतलब है कि इससे पहले मंगलवार को भी इंजन में तकनीकी खराबी के कारण गो फर्स्ट की दो उड़ानें रद्द कर दी गई थी.  इसके ठीक एक दिन बाद फिर विमान में आई खराबी ने लोगों की चिंता बढ़ा दी है. गो एयर की फ्लाइट्स - G8-386 (मुंबई-लेह) और G8-6202 (श्रीनगर-दिल्ली) - को तकनीकी खराबी के कारण मंगलवार को  डायवर्ट किया गया था.

DGCA ने दोनों विमानों के उड़ान पर लगाई रोक
इस घटना के बाद नागरिक उड्डयन नियामक, नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (DGCA) ने कहा कि Go Air A320 विमान  VT-WGA उड़ान संख्या G8-386 (मुंबई-लेह) को इंजन नंबर 2 EIU (इंजन इंटरफेस यूनिट) के कारण दिल्ली की ओर मोड़ दिया गया. एक गो एयर की ए 320 विमान वीटी-डब्ल्यूजेजी उड़ान जी 8-6202 (श्रीनगर-दिल्ली) इंग्लैंड 2 ईजीटी ओवरलिमिट के कारण श्रीनगर में एयर टर्न बैक में शामिल है. इसके साथ ही डीजीसीए ने दोनों विमानों की उड़ानों पर रोक लगा दी है और कहा कि वे इससे मंजूरी के बाद ही उड़ान भरेंगे.

ये भी पढ़ें-MP नगर निकाय चुनावः दंगा प्रभावित खरगोन में AIMIM की दस्तक, इतने वार्डों में दर्ज की जीत

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने एयरलाइंस से सुरक्षा निगरानी बढ़ाने के लिए कदम उठाने को कहा
पिछले कुछ हफ्तों में विभिन्न कारणों से फ्लाइट डायवर्सन की कई घटनाएं सामने आई हैं. 17 जुलाई को केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने सुरक्षा मुद्दों के संबंध में MoCA (नागरिक उड्डयन मंत्रालय) के वरिष्ठ अधिकारियों और DGCA के साथ एक उच्च स्तरीय बैठक की अध्यक्षता की. इस दौरान सिंधिया ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि यात्रियों की सुरक्षा से कोई समझौता नहीं किया जाए. मंत्रालय के एक अधिकारी ने उनके हवाले से कहा कि उन्होंने कहा कि यात्रियों की सुरक्षा सर्वोपरि है. गौरतलब है कि पायलटों को एक इंजन में खराबी का पता चलने के बाद रविवार को इंडिगो के एक विमान को कराची की ओर मोड़ दिया गया था. इससे एक दिन पहले एयर इंडिया एक्सप्रेस की एक कालीकट-दुबई उड़ान को केबिन में जलने की गंध के बाद मस्कट के लिए डायवर्ट किया गया था.

First Published : 20 Jul 2022, 07:30:35 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.