News Nation Logo

कोरोना से उबरने पर भी ठीक महसूस नहीं कर रहे... महामारी विशेषज्ञों की चेतावनी

महामारी के दौरान इसके लक्षणों और इलाज की सब बात करते हैं लेकिन लॉन्ग कोविड या पोस्ट कोविड के बारे में चर्चा कम ही होती है.

News Nation Bureau | Edited By : Mohit Saxena | Updated on: 23 Jan 2022, 09:05:02 AM
coronavirus

क्यों कोरोना से उबरने कर भी पहले जैसा महसूस नहीं कर रहे लोग? (Photo Credit: file photo)

highlights

  • कोरोना वायरस लंबे वक्त तक किसी व्यक्ति को प्रभावित कर सकता है
  • अमेरिका में महामारी विशेषज्ञ, मारिया वॉन ने दी चेतावनी
  • थकान, अनिद्रा, सहनशक्ति में कमी, गंध की कमी  जैसे कुछ लक्षण शामिल हैं

नई दिल्ली:  

कोरोना महामारी (Corona Pandemic) ने लगभग पूरी दुनिया को अपनी चपेट में ​लिया है. नया ओमीक्रॉन वेरिएंट (Omicron Variant) कई देशों में तेजी से फैल रहा है. लोग इस महामारी का शिकार होने के बाद जल्दी ठीक भी हो रहे हैं. मगर इस बीमारी से ठीक हो रहे लोगों में लंबे समय तक इसका प्रभाव बना रहता है. इस कारण लोग कोविड से उबरने के बावजूद अपने आप को पहले जैसा महसूस नहीं कर रहे हैं. विश्व स्वास्थ्य संगठन भी लोगों को चेतावनी दे रहा है ​कि कोरोना वायरस (Coronavirus) लंबे वक्त तक किसी व्यक्ति को प्रभावित कर सकता है.  

गौरतलब है कि कोरोना वायरस मनुष्य के शरीर के श्वसन तंत्र पर हमला करता है. हालांकि महामारी के दौरान इसके लक्षणों और इलाज की सब बात करते हैं लेकिन लॉन्ग कोविड या पोस्ट कोविड के बारे में चर्चा कम ही होती है. पोस्ट कोविड को मतलब है कि इस बीमारी से उबरने के बाद के लक्षण. कोविड-19 महामारी से जुड़े ऐसे कई मामले सामने आए हैं, जब इससे ठीक होने के बाद भी लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा.

हाल ही में LongCovidSOS नामक ट्विटर पेज पर लॉन्ग कोविड से जुड़े विषय को मीडिया द्वारा ज्यादा तवज्जो न देने पर चर्चा की गई. ट्वीट में कहा गया कि ऐसा लगता है कि किसी भी मीडिया ब्रीफिंग, सिफारिश या पॉलिसी में लॉन्ग कोविड से जुड़ी बातों का कोई जिक्र नहीं हुआ है. ऐसे में जरुरत है कि वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन, दुनिया  के लोगों को, विशेष रूप से विकासशील देशों की सरकारों को लॉन्ग कोविड से जुड़े प्रभावों के बारे में जानकारी दे. इसमें बताया गया है कि किस तरह से कोरोना के  हल्के लक्षण भी लंबे समय तक व्यक्ति को प्रभावित कर सकते हैं.

अमेरिका में महामारी विशेषज्ञ, मारिया वॉन ने इस मामले पर संज्ञान लेते हुए कहा,  डब्ल्यूएचओ को लॉन्ग कोविड को लेकर लगातार काम करना होगा. इस ट्वीट में मारिया ने लिखा कि हमें लोगों को सूचित करते रहना होगा और हमें पोस्ट कोविड लक्षण के बारे में बेहतर रिसर्च की आवश्यकता है. इसके साथ ही ऐसे लोग जो कोरोना के बाद भी कुछ स्वास्थ्य समस्याओं से परेशान हैं, उनकी अच्छी तरह से काउंसिलिंग की जाए. दरअसल लॉन्ग कोविड लक्षणों का ऐसा समूह है जो स्वस्थ होने के बाद भी मानव शरीर को प्रभावित कर रहा है. इसमें थकान, अनिद्रा, सहनशक्ति में कमी, गंध की कमी  जैसे कुछ लक्षण शामिल हैं.

 

First Published : 23 Jan 2022, 09:05:02 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.