News Nation Logo
Banner

दुनिया का सबसे पुराना लोकतंत्र खतरे में क्यों पड़ा? दीपक चौरसिया के साथ देखिये #DeshKiBahas

अमेरिकी कांग्रेस ने जो बाइडन की चुनाव में जीत को संवैधानिक जामा पहना दिया. इसके बाद डोनाल्ड ट्रंप ने एक बयान जारी कर अपनी हार स्वीकार कर ली है. ट्रंप ने बयान जारी कर कहा कि ये उनके एतिहासिक और पहले राष्ट्रपति कार्यकाल का अंत है.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 07 Jan 2021, 09:24:14 PM
desh ki bahas

देश की बहस (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

अमेरिकी कांग्रेस ने जो बाइडन की चुनाव में जीत को संवैधानिक जामा पहना दिया. इसके बाद डोनाल्ड ट्रंप ने एक बयान जारी कर अपनी हार स्वीकार कर ली है. ट्रंप ने बयान जारी कर कहा कि ये उनके एतिहासिक और पहले राष्ट्रपति कार्यकाल का अंत है. मैं चुनाव के इन नतीजों से पूरी तरह असहमत हूं, लेकिन 20 जनवरी को सत्ता का हस्तांतरण सही तरीके से हो जाएगा. दुनिया का सबसे पुराना लोकतंत्र खतरे में क्यों पड़ा? दीपक चौरसिया के साथ देखिये #DeshKiBahas... यहां पढ़ें मुख्य अंश.

  • लाखों मतभेद हो, लेकिन लोकतंत्र का सम्मान होना चाहिए : डॉ सुधांशु त्रिवेदी, राज्यसभा सांसद, BJP 
  • लोकतंत्र की मर्यादा की पालन करें : डॉ सुधांशु त्रिवेदी, राज्यसभा सांसद, BJP 
  • संवैधानिक चीजों का सम्मान करें : डॉ सुधांशु त्रिवेदी, राज्यसभा सांसद, BJP 
  • लेफ्ट की विचारधारा से आतंकवाद पनपता है : डॉ सुधांशु त्रिवेदी, राज्यसभा सांसद, BJP 
  • ये दुर्भाग्यपूर्ण है : डॉ सुधांशु त्रिवेदी, राज्यसभा सांसद, BJP 
  • आज हम दुनिया के लिए नजीर हैं : डॉ सुधांशु त्रिवेदी, राज्यसभा सांसद, BJP 
  • अमेरिका की आर्थिक स्थिति लगातार नीचे जा रही है और चीन की स्थिति अच्छी होती जा रही है : अशोक सज्जनहार, पूर्व राजनयिक
  • ट्रंप ने कई समझौते को भी कैंसिल कर दी थी : अशोक सज्जनहार, पूर्व राजनयिक
  • कल के हादसे से अमेरिका के लोकतंत्र में बड़ा धब्बा लग गया : अशोक सज्जनहार, पूर्व राजनयिक
  • कल के इवेंट के लिए ट्रंप जिम्मेदार नहीं हैं : जसदीप सिंह, ट्रंप समर्थक
  • जिस ट्रंप ने शपथ ली थी, उसी दिन डोमेक्रेटिव पार्टी ने कहा था कि ट्रंप हमारे राष्ट्रपति नहीं हैं : जसदीप सिंह, ट्रंप समर्थक
  • अमेरिका बीच में से बंटा हुआ है : जसदीप सिंह, ट्रंप समर्थक
  • ट्रंप के समर्थकों को लगातार नजरअंदाज किया जा रहा था : जसदीप सिंह, ट्रंप समर्थक
  • ट्रंप के खिलाफ चुनाव में साजिश हुई : जसदीप सिंह, ट्रंप समर्थक
  • ट्रंप अपने आपको लेकर नीति बनाते थे : प्रकाश शाह, पूर्व राजनयिक
  • अब हमें जो बाइडेन से काम लेना है : प्रकाश शाह, पूर्व राजनयिक
  • भारत का लेफ्ट बुलेट पर नहीं बैलेट पर विश्वास रखते हैं : विवेक श्रीवास्तव, लेफ्ट नेता  
  • भारत ने अपने पड़ोसी चाइना से संबंध खराब कर लिए  : विवेक श्रीवास्तव, लेफ्ट नेता 
  • भारत को अपने सभी पड़ोसी देशों से बात करनी चाहिए : विवेक श्रीवास्तव, लेफ्ट नेता 
  • युद्ध कोई हल नहीं है : विवेक श्रीवास्तव, लेफ्ट नेता 
  • क्या ट्रंप मुसलमानों के खिलाफ नहीं था : विवेक श्रीवास्तव, लेफ्ट नेता 
  • जो भी कल हुआ, उसमें ट्रंप के समर्थक के साथ कुछ बादमाश भी शामिल हो गए थे : आत्मा सिंह, राजनीतिक विश्लेषक
  • कैपिटल हिल में उन्होंने जो किया वो एकदम गलत है : आत्मा सिंह, राजनीतिक विश्लेषक
  • अमेरिका के लोकतंत्र में कल का दिन काले धबे के रूप में लगा है : आत्मा सिंह, राजनीतिक विश्लेषक
  • ट्रंप ने अपने कार्यकाल में कई बड़े फैसले लिए, जैसे उन्होंने आतंकवाद पर लगाम लगाया : आत्मा सिंह, राजनीतिक विश्लेषक
  • कांग्रेस के नेता अमेरिका सिर्फ बिजनेस के लिए आते थे, लेकिन पीएम मोदी यहां सभी से मिलते हैं : आत्मा सिंह, राजनीतिक विश्लेषक
  • पीएम मोदी की तुलना में सिर्फ भारत ही नहीं दुनिया में कोई नहीं है : आत्मा सिंह, राजनीतिक विश्लेषक
  • पिछले 4 साल ट्रंप को हटाने के लिए डोमोक्रेटिव पार्टी ने काफी कोशिश की : पूर्णिमा नाथ, ट्रंप समर्थक
  • पिछले 4 साल ट्रंप को हटाने की साजिश  : पूर्णिमा नाथ, ट्रंप समर्थक
  • ट्रंप को पहले दिन से परेशान किया गया था : पूर्णिमा नाथ, ट्रंप समर्थक
  • अमेरिका में जो कल हुआ उससे वहां को लोकतंत्र खत्म नहीं हो जाएगा : गोपाल कृष्ण अग्रवाल, राष्ट्रीय प्रवक्ता, BJP
  • अगर ट्रंप हारे हैं तो उन्हें ये स्वीकार करना चाहिए : गोपाल कृष्ण अग्रवाल, राष्ट्रीय प्रवक्ता, BJP
  • दुनिया पर इसका कोई असर नहीं पड़ेगा : जेके त्रिपाठी, पूर्व राजनयिक
  • जो बाइडेन की पार्टी सहयोग पर ज्यादा बोलती है : जेके त्रिपाठी, पूर्व राजनयिक
  • चीन के रूख पर कोई बदलाव नहीं आएगा : जेके त्रिपाठी, पूर्व राजनयिक
  • रिपब्लिक पार्टी भी बुरी पार्टी नहीं है : जेके त्रिपाठी, पूर्व राजनयिक
  • ट्रंप में राजनीति का अभाव है : जेके त्रिपाठी, पूर्व राजनयिक
  • जब भी लोकतंत्र में कोई चोट पहुंचाता है तो उसे भारत का सिस्टम बीच में रोक देता है : योगेश मेहता, इंदौर, दर्शक
  • ये मसला अमेरिका की दो पार्टियों के बीच का है : मयंक अरोड़ा, सहारनपुर, दर्शक
  • अगर ट्रंप चुनाव हार गए हैं तो उन्हें ये स्वीकार करना चाहिए : मयंक अरोड़ा, सहारनपुर, दर्शक
  • जो बाइडेन का भी काम देखा जाएगा : मयंक अरोड़ा, सहारनपुर, दर्शक

First Published : 07 Jan 2021, 07:41:10 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.