News Nation Logo

आखिर अर्पिता मुखर्जी का TMC से क्या है संबंध? अभिनेत्री के घर से मिले 20 करोड़

News Nation Bureau | Edited By : Mohit Saxena | Updated on: 23 Jul 2022, 11:23:11 AM
arpita

arpita mukherjee, (Photo Credit: social media )

highlights

  • ईडी की छापेमारी चल रही है. 20 करोड़ रुपये बरामद किए गए
  • अर्पित मुखर्जी ने अपने फिल्मी करियर में अधिक साइड रोल ही किए हैं
  • अर्पिता 2019 और 2020 में पार्थ चटर्जी के दुर्गा पूजा समारोह का चेहरा रही हैं

नई दिल्ली:  

पश्चिम बंगाल (West Bengal) में बड़े घोटले के तार टीएमसी (TMC)  के मंत्री पार्थ चटर्जी के अलावा उनकी करीबी माने वालीं अर्पिता मुखर्जी से भी जुड़े हुए हैं. उनके घर पर ईडी की छापेमारी चल रही है. इस दौरान करीब 20 करोड़ रुपये बरामद किए गए हैं. पार्थ चटर्जी के घर पर भी शुक्रवार से छापेमारी चल रही है. इस बीच सवाल खड़े हो रहे हैं कि अर्पिता मुखर्जी कौन हैं. वे पार्थ चटर्जी से कैसे मिली. ईडी की रेड से सुर्खियों में आई अर्पिता मुखर्जी की बात करें तो वे बांग्ला फिल्म इंडस्ट्री में काम कर चुकी हैं. मगर बेहद कम समय के लिए. अर्पित मुखर्जी ने अपने फिल्मी करियर में अधिक साइड रोल ही किए हैं. 

उन्होंने बांग्ला फिल्मों के साथ ओडिया और तमिल फिल्मों में काम किया है, मगर बेहद कम समय के लिए. अर्पिता मुखर्जी ने अपने करियर में अधिकतर साइड रोल ही किए हैं. उन्हें बांग्ला फिल्मों के अलावा ओडिया और तमिल फिल्मों में काम करने का अनुभव है. बांग्ला फिल्मों के सुपरस्टार माने जाने वाले प्रोसेनजीत और जीत के लीड रोल वाली कुछ फिल्मों में भी अर्पिता मुखर्जी ने साइड रोल किए हैं. इसके साथ अर्पिता मुखर्जी ने बांग्ला फिल्म अमर अंतरनाड में अभिनय किया था. अर्पिता मुखर्जी अब ईडी की रेड में मिले 20 करोड़ कैश से चर्चा में आई हैं. केंद्रीय एजेंसियों के अनुसार शिक्षा भर्ती घोटाले की जांच के दौरान अर्पिता मुखर्जी की संलिप्तता की बात सामने आई थी.

पार्थ चटर्जी की करीबी हैं

अर्पिता मुखर्जी को लेकर ऐसा माना जा रहा है कि वे पश्चिम बंगाल सरकार के मंत्री पार्थ चटर्जी की करीबी हैं. पार्थ चटर्जी, ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली सरकार में शिक्षा मंत्री रह चुके हैं. अर्पिता मुखर्जी बंगाल सरकार में मंत्री पार्थ चटर्जी के करीब कैसे आईं. यह जाना बेहद जरूरी है. दरअसल तृणमूल कांग्रेस के बड़े चेहरे माने जाने वाले बंगाल सरकार में मंत्री पार्थ चटर्जी दक्षिण कोलकाता में लोकप्रिय दुर्गा पूजा समिति नकटला उदयन का संचालन करते हैं. यह कोलकाता की सबसे भव्य और बड़ी दुर्गा पूजा समितियों में से एक है.

अर्पिता मुखर्जी के खिलाफ मोर्चा खोला

अर्पिता मुखर्जी 2019 और 2020 में पार्थ चटर्जी के दुर्गा पूजा समारोह का चेहरा रही है. दुर्गा पूजा के समय जारी पोस्टरों में पार्थ चटर्जी का नाम संघ  के अध्यक्ष के तौर पर लिखा गया था. शुभेंदु अधिकारी ने अर्पिता मुखर्जी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. उन्होंने सोशल मीडिया पर कई तस्वीरें पोस्ट की हैं, जिनमें बंगाल की सीएम ममता बनर्जी नकटला उदयन संघ की दुर्गा पूजा के उद्घाटन के समय मौजूद थीं. ममता के बगल में पार्थ चटर्जी हैं. वहीं चटर्जी के साथ टीएमसी के प्रदेश अध्यक्ष सुब्रत बख्शी भी हैं. 

वहीं सुब्रत बख्शी के बगल में अर्पिता मुखर्जी बैठी थीं. टीएमसी ने एक आधिकारिक बयान जारी कर खुद को इस घोटाले से दूर कर लिया है. ऐसा कहा जा रहा है कि टीएमसी का इन पैसों से कोई लेना देना नहीं है. ममता बनर्जी ने कहा कि टीएमसी अभी पूरे मामले को करीब से नजर बनाए हुए है. समय आने पर ही कोई प्रतिक्रिया दी जाएगी. मगर बंगाल में भाजपा इसे लेकर आक्रामक हो गई है.

 

First Published : 23 Jul 2022, 10:57:43 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.