News Nation Logo
Banner

Weather Update: मार्च में पड़ने लगी जून जैसी गर्मी, आगे ऐसा रहेगा मौसम का हाल

उत्तर भारत में इस बार मार्च में ही जून जैसी गर्मी पड़ने लगी है. हालत ये है कि कुछ जगहों पर लू चलने लगी है. देश की राजधानी नई दिल्ली में रविवार को पारा 38 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है.

News Nation Bureau | Edited By : Iftekhar Ahmed | Updated on: 23 Mar 2022, 10:12:26 AM
Hot Season

मार्च में ही पड़ने लगी जून जैसी गर्मी, जानिए, आगे कैसा रहेगा मौसम का ह (Photo Credit: File Photo)

highlights

  • राजधानी दिल्ली में पारा 38 डिग्री के पार
  • रेगिस्तान की गर्म हवा ने बढ़ाया देश का पारा
  • कम बारिश से भी समय से पहले आई गर्मी

नई दिल्ली:  

उत्तर भारत में इस बार मार्च में ही जून जैसी गर्मी पड़ने लगी है. हालत ये है कि कुछ जगहों पर लू चलने लगी है. देश की राजधानी नई दिल्ली (Delhi-NCR) में रविवार को पारा 38 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है. गौरतलब है कि यह देश की राजधानी का इस वर्ष का सबसे गर्म तापमान (Heat wave in Delhi) है. इसके साथ ही पहाड़ी राज्य जम्मू कश्मीर और उत्तराखंड में भी गर्मी बढ़ गई है. वहीं, राजस्थान (Rajasthan)  पिछले करीब एक हफ्ते से लू की चपेट में है. इसका असर दिल्ली समेत उत्तर भारत के कई इलाकों में भी देखने को मिल रहा है. यहां भी पारा चढ़ गया है और गर्म हवाएं चल रही हैं. इसके साथ ही मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, राजस्थान और उत्तर प्रदेश के कई हिस्सों में तापमान बढ़ने से लोगों की परेशानी बढ़ गई है. आइए अब जानते हैं कि आखिर क्यों इस वर्ष उत्तर और उत्तर पश्चिम भारत में इतनी गर्मी क्यों पड़ रही है. 

उत्तर पश्चिम भारत के रेगिस्तानों से आने वाली गर्म हवा से बढ़ती है गर्मी
दरअसल, शीतकालीन संक्रांति के बाद सूरज उत्तर की ओर बढ़ता है. इसीलिए मार्च के साथ ही भारत में अधिकतम तापमान में बढ़ोतरी दर्ज होने लगती है. दरअसल, तापमान बढ़ने का सिलसिला दक्षिणी भागों से शुरू होती है और उसके बाद मध्य और उत्तरी भारत में तापमान बढ़ने का सिलसिला शुरू हो जाती है. लिहाजा, मार्च के महीने ने ओमूमन भारत में गर्मी की शुरुआत हो जाती है. हालांकि, इस दौरान अधिकतम ताप क्षेत्र ओडिशा और गुजरात के बीच मध्य भारत के इलाके में दर्ज होती है. दरअसल अप्रैल और मई में उत्तर और उत्तर-पश्चिम भारत में तापमान अपने चरम पर होता है. इ दिनों में उत्तर पश्चिम भारत के रेगिस्तानों से आने वाली गर्म हवाएं भी मध्य भारत के इलाकों तापमान में वृद्धि का सबब बनती है. 

इसलिए वक्त से पहले पड़ रही है गर्मी
भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के अनुसार राजस्थान में सामान्य तौर पर मार्च के आखिरी दिनों में बनने वाला एंटी-साइक्लोन इस बार जल्दी बना है. इसके साथ ही अभी तक पश्चिमी विक्षोभ भी सक्रिय नहीं है. जिसकी वजह से थार मरुस्थल और पाकिस्तान से गर्म हवाएं आनी शुरू हो गई है. मौसम विभाग ने बयान जारी कर बताया है कि पिछले कुछ दिनों के दौरान, गुजरात, दक्षिण पाकिस्तान से दक्षिणी हवाओं ने गर्मी को दक्षिण और दक्षिण-पश्चिम राजस्थान को अपनी चपेट में ले लिया है. इसके अलावा कोई सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ भी नहीं था, जो ठंडी हवाएं लाता. यही वजह है कि  राजधानी दिल्ली समेत जम्मू, राजस्थान और आसपास के क्षेत्रों में तापमान सामान्य से अधिक दर्ज किया जा रहा है. आईएमडी ने बताया कि इस वर्ष मार्च के महीने में बारिश नहीं होने की वजह से भी देश के अधिकांश हिस्सों में समय से पहले ही गर्मी ने दस्तक दे दी है.

First Published : 23 Mar 2022, 10:02:17 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.