News Nation Logo

सीतारमण की पाक को कड़ी चेतावनी, कहा- सीज़फायर का सम्मान, लेकिन उकसाने पर मिलेगा उचित जवाब

एलओसी पर लगातार हो रहे सीज़फायर के उल्लंघन पर रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने पाकिस्तान को कड़ी चेतावनी दी है। उन्होंने कहा कि रमज़ान के दौरान भारत सीज़फायर का सम्मान करता हैं लेकिन उकसाए जाने पर कड़ा जवाब देने के लिये भी तैयार है।

News Nation Bureau | Edited By : Pradeep Tripathi | Updated on: 05 Jun 2018, 05:50:45 PM
रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण (IANS)

नई दिल्ली:

एलओसी पर लगातार हो रहे सीज़फायर के उल्लंघन पर रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने पाकिस्तान को कड़ी चेतावनी दी है। उन्होंने कहा कि रमज़ान के दौरान भारत सीज़फायर का सम्मान करता हैं लेकिन उकसाए जाने पर कड़ा जवाब देने के लिये भी तैयार है।

रमज़ान का महीना शुरू होने के दौरान भारत ने एकतरफा सीज़फायर की घोषणा की थी। लेकिन पाकिस्तान की तरफ से लगातार सीजफायर का उल्लंघन किया जा रहा है और आतंकियों की घुसपैठ कराई जा रही है।

रक्षा मंत्री ने कहा कि भारत इस फैसले का सम्मान करता है, लेकिन सेना के पास जवाबी कार्रवाई करने का विकल्प खुला हुआ है। अगर सेना को उकसाया तो जरूर जवाब देंगे।

उन्होंने कहा, 'अगर बिना उकसावे के हमला होता है तो सेना को अधिकार है कि वो जवाबी कार्रवाई करे। हम सीज़फायर का सम्मान करते हैं लेकिन उकसाए जाने पर जवाब दिया जाएगा।'

पाकिस्तान से बातचीत को लेकर पूछे गए एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि विदेश मंत्रालय पहले ही कह चुका है कि आतंकवाद और बातचीत एक साथ नहीं चल सकते।

और पढ़ें: शिवसेना प्रमुख उद्धव से मिलेंगे बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह

रमजान को दौरान सीजफायर की सफलता पर पूछे गए सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, 'इसके सफल होने या नहीं होने की समीक्षा करना रक्षा मंत्रालय का काम नहीं है। हमारा काम सीमाओं की रक्षा करना है और यदि हमें उकसाया जाता है तो हम भी नहीं रुकेंगे। हमें इसके लिए पूरी तरह तैयार रहना होगा कि उकसावे के लिए किए गए किसी भी हमले का पूरा जवाब दिया जाए। देश की रक्षा करना हमारा कर्तव्य है।'

सेना में हथियारों की कमी से संबंधित एक सवाल के जवाब में रक्षा मंत्री ने कहा कि सेना के पास पर्याप्त हथियार हैं और उस हथियारों की कमी नहीं होने दी जाएगी। साथ ही उन्होंने राफेल फाइटर की खरीद में भ्रष्टाचार से भी इनकार किया।

कांग्रेस लगातार केंद्र सरकार पर आरोप लगा रही है कि राफेल फाउटर जेट्स की खरीद में घोटाला हुआ है और केंद्र सरकार इसे छुपा रही है। इसके साथ ही सेना के पास हथियारों की कमी का भी मुद्दा विपक्ष उठा रहा है। 

और पढ़ें: SC ने एससी/एसटी कर्मचारियों के प्रमोशन में आरक्षण का रास्ता किया साफ

First Published : 05 Jun 2018, 02:43:30 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.