News Nation Logo
Breaking
उत्तराखंड : बारिश के दौरान चारधाम यात्रा बड़ी चुनौती बनी, संवेदनशील क्षेत्रों में SDRF तैनात आंधी-बारिश को लेकर मौसम विभाग ने दिल्ली-NCR के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया राजस्थान : 11 जिलों में आज आंधी-बारिश का ऑरेंज अलर्ट, ओला गिरने की भी आशंका बिहार : पूर्णिया में त्रिपुरा से जम्मू जा रहा पाइप लदा ट्रक पलटने से 8 मजदूरों की मौत, 8 घायल पर्यटन बढ़ाने के लिए यूपी सरकार की नई पहल, आगरा मथुरा के बीच हेली टैक्सी सेवा जल्द महाराष्ट्र के पंढरपुर-मोहोल रोड पर भीषण सड़क हादसा, 6 लोगों की मौत- 3 की हालत गंभीर बारिश के कारण रोकी गई केदारनाथ धाम की यात्रा, जिला प्रशासन के सख्त निर्देश आंधी-बारिश के कारण दिल्ली एयरपोर्ट से 19 फ्लाइट्स डाइवर्ट
Banner

बेंगलुरू में 14वें प्रवासी भारतीय सम्मेलन में बोले मोदी, 'हम पासपोर्ट नहीं देखते, यह खून का रिश्ता है'

पीएम मोदी बेंगलुरू पहुंच चुके हैं। प्रवासी भारतीय समारोह का यह दूसरा दिन है। इस मौके पर पुर्तगाल के पीएम एंटोनियो कोस्टा मुख्य अतिथि होंगे।

News Nation Bureau | Edited By : Vineet Kumar | Updated on: 08 Jan 2017, 05:28:19 PM
फाइल फोटो

नई दिल्ली:  

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को बेंगलुरु में14वें प्रवासी दिवस सम्मेलन को संबोधित करते हुए कई प्रवासी भारतीयों को काले धन के खिलाफ मुहिम में सरकार का साथ देने के लिए धन्यवाद दिया।

साथ ही पीएम मोदी ने प्रवासी भारतीयों की समस्याओं का भी जिक्र किया और कहा कि सरकार इसे लेकर सजग है। मोदी ने बताया कि भारतीय दूतावासों को साफ निर्देश दिया गया है कि विदेशों में रह रहे इंडियनंस को कोई समस्या नहीं हो।

पीएम ने कहा कि प्रवासी भारतीयों पर हर किसी को गर्व है। भारतीय जहां भी गए, अपनी अलग पहचान बनाने में कामयाब रहे। बकौल मोदी,'भारत के बाहर रह रहे 30 मिलियन भारतीय केवल अपनी संख्या के कारण नहीं जाने जाते हैं, बल्कि भारत और जहां वे रह रहे हैं, वहां अपने योगदान के लिए भी सम्मान हासिल करते रहे हैं।'

समारोह का यह दूसरा दिन है। इस सम्मेलान में दुनिया भर के देशों में रहने वाले प्रवासी भारतीय शिरकत कर रहे हैं। राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी सोमवार को प्रवासी भारतीय पुरस्कार देंगे और समापन भाषण भी देंगे।

LIVE अपडेट, पढ़िए प्रवासी भारतीय सम्मेलन में क्या कहा पीएम मोदी ने

- मेरे लिए FDI का मतलब केवल फॉरेन डायरेक्ट इंवेस्टमेंट नहीं है बल्कि इसका मतलब मेरे लिए फर्स्ट डेवलप्ड इंडिया भी है

प्रवासी भारतीयों में देश के विकास के अद्मय इच्छा शक्ति है, विकास यात्रा में आप हमारे स्टेक होल्डर हैं

- मुश्किल हालात में हमेशा प्रवासी भारतीयों के साथ है सरकार, भारतीय जहां रहे वहां विकास किया

- मुश्किल में फंसे भारतीयों को निकाला, पासपोर्ट नहीं देखते..यह खून का रिश्ता है: मोदी

- हमने भारतीय दूतावासों को निर्देश दिया है प्रवासी भारतीयों को कोई समस्या नहीं होनी चाहिए

- सबके साथ सबका विकास संभव है। हम ब्रेन ड्रेन को ब्रेन गेन में बदलता चाहते हैं: मोदी

- भारत के बाहर रह रहे 30 मिलियन भारतीय केवल अपनी संख्या के कारण नहीं जाने जाते हैं, बल्कि भारत और जहां वे रह रहे हैं, वहां अपने योगदान के लिए भी सम्मान हासिल करते रहे हैं।  

- ये एक ऐसा पर्व है जहां होस्ट भी आप ही हैं और गेस्ट भी आप ही हैं: प्रवासी भारतीय सम्मेलन में मोदी

प्रधानमंत्री मोदी बेंगलुरू में प्रवासी भारतीय सम्मेलन को संबोधित करने कार्यक्रम में पहुंच चुके हैं। उनके साथ मंच पर पुर्तगाल के पीएम एंटोनियो कोस्टा भी मौजूद हैं।

इस कार्यक्रम के एक सत्र में सात राज्यों के मुख्यमंत्री भी शिरकत करेंगे। प्रवासी भारतीय सम्मेलन की शुरुआत 2003 में अटल बिहारी वाजपेयी सरकार ने की थी।

First Published : 08 Jan 2017, 09:25:00 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.