logo-image
लोकसभा चुनाव

Video: पंडाल में घुसकर मुस्लिमों ने जबरन बंद कराया भजन, बोला- मालोनी में रहना है तो असलम भाई कहना है

पंडाल में घुसने के बाद असलम ने वहां मौजूद एक शख्स को पहले तो भजन बंद करने के लिए बोला और फिर कहा कि मालोनी में रहना है तो असलम भाई-असलम भाई कहना है.

Updated on: 10 Oct 2019, 02:42 PM

नई दिल्ली:

यदि आप सिर्फ ये सोच रहे हैं कि पाकिस्तान में ही हिंदुओं के साथ अत्याचार किए जा रहे हैं तो आप गलत हैं. भारत में भी ऐसी कई जगहें हैं जहां खुलेआम ऐसे अत्याचार किए जा रहे हैं. इसी कड़ी में सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रही है. वायरल वीडियो महाराष्ट्र के मलाड का बताया जा रहा है. मलाड में स्थानीय लोगों द्वारा मनाई जा रही दुर्गा पूजा के दौरान असलम नाम का एक शख्स अपने कुछ साथियों के साथ पंडाल में घुस आया और वहां चल रहे माता के भजन को जबरदस्ती बंद करवा दिया. इस पूरे मामले का एक वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है. वीडियो में आप देखेंगे कि असलम नाम का बदमाश अपने कुछ साथियों के साथ पंडाल में घुसा और भजन को बंद करवा दिया.

ये भी पढ़ें- मनीष पांडेय की दुल्हन बनने जा रही हैं ये एक्ट्रेस, फिल्म इंडस्ट्री में कुछ इस तरह से हुई थी एंट्री

महज 37 सेकंड की इस वीडियो में आप आसानी से देख सकते हैं कि असलम नाम का यह बदमाश किस तरह हिंदुओं की आस्था को ठेस पहुंचा रहा है. पंडाल में घुसने के बाद असलम ने वहां मौजूद एक शख्स को पहले तो भजन बंद करने के लिए बोला और फिर कहा कि मालोनी में रहना है तो असलम भाई-असलम भाई कहना है. वीडियो में आप साफतौर पर देखा जा सकता है कि असलम जिस शख्स से भजन बंद करने के लिए कह रहा है, वह उससे काफी डरा हुआ दिखाई दे रहा है. लिहाजा उसने असलम के बोलने पर असलम भाई-असलम भाई के नारे भी लगाए. असलम ने शख्स से कहा कि यहां मोदी जी नहीं आएंगे, यहां असलम भाई ही आएंगे.

ये भी पढ़ें- दुनिया की किसी भी पिच पर कहर बनकर टूट सकते हैं भारतीय गेंदबाज, कोच ने कही ये बड़ी बातें

फेसबुक पर पोस्ट की गई वीडियो को अभी तक करीब 17 हजार से लोग शेयर कर चुके हैं. इसके अलावा इस वीडियो पर लोगों ने काफी नाराजगी भी जाहिर की है. गौरतलब है कि बीते कुछ दिनों में ऐसी कई धार्मिक आस्था का ठेस पहुंचाने वाली घटनाएं हुई हैं. उत्तर प्रदेश के बलरामपुर में दुर्गा विसर्जन के लिए जा रहे लोगों पर मुस्लिमों ने हमला कर दिया. बलरामपुर के इस मामले में पुलिस ने कई लोगों को गिरफ्तार भी किया है.